शुलभ शौचालय बना केवल एक झांकी कागज़ो में हुआ पूर्ण - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Monday, November 30, 2020

शुलभ शौचालय बना केवल एक झांकी कागज़ो में हुआ पूर्ण

 


रेवांचल टाईम्स - शासन प्रशासन स्वच्छता के लिए और लोगो को जागरूक करने अनेक योजनाओं का क्रियान्वयन कर रही पर जमी पर बैठे जिम्मेदार लोग केवल शासन के पैसों की होली कैसे खेलते है कोई इनसे ही पूछे वही वर्तमान में सरकार द्वारा स्वच्छता को देखते हुए कस्वा ग्राम- ग्राम में सुलभ काम्प्लेक्स  बनवा रही रही है पर शुलभ शोचालय होते हुए लोगों को समस्या कम नही हो रही है 

        आदिवासी बाहुल्य जिला डिण्डौरी विकास खण्ड मेंहदवानी के ग्राम पंचायत सारसडोली के बाजार मोहल्ले में बना है पर बनने से लेकर आज तक सुलभ काम्प्लेक्स बंद पड़ा है। बने हुये सुलभ काम्प्लेक्स में ताला लगे रहने से लोगो इस समस्या के चलते लोग इसका उपयोग नहीं कर पा रहे हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि पूर्व में यहां काम्प्लेक्स नहीं था जिससे आस-पास के क्षेत्रों से आने वाले यात्रियों एवं बाजार में आने वाले दूर दराज के ग्रामिणों को परेशानी का सामना करना पड़ता था। लोग जरूरत पड़ने पर यहां-बहां, यहां तक कि कन्या प्राथमिक एवं बालक प्राथमिक शाला तथा उचित मूल्य दुकान के प्रांगण में जाकर पेशाब किया करते रहे और वो अभी भी करते हैैं। जिससे उचित मूल्य दुकान में राशन खरीदने वाले ग्रामीणों को पेशाब की बदबू से परेशान रहते हैं। इस तरह की बदबू से बीमारी होने की संभावना निश्चित है। यह सिलसिला बंद नहीं हो पा रहा है। कारण कि सुलभ काम्प्लेक्स में पंचायत कर्मियों ने ताला लगा रखा है। ग्राम वासियों ने जल्द ही सुलभ काम्प्लेक्स की ताला खुलवाकर काम्प्लेक्स चालू करवाने की मांग की है। बता दें कि बाजार में सुलभ काम्प्लेक्स नहीं होने के कारण जगह जगह गन्दगी का अम्बार लगा रहता था और जब यह बनकर तैयार हो गया है। उसका उपयोग करना मुनासिब नही लग रहा है। वही स्थानीय लोगो की माने तो यह केवल दर्शन और शासन के पैसे के दुरुपयोग लिए बनाया गया है और कागज़ी कार्यवाही भी पूर्ण हो चुकी है।

No comments:

Post a Comment