नवरात्रि के उपलक्ष्य में नर्मदा मंदिर परिसर में कराई गई रंगोली प्रतियोगिता - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Monday, October 26, 2020

नवरात्रि के उपलक्ष्य में नर्मदा मंदिर परिसर में कराई गई रंगोली प्रतियोगिता



रेवांचल टाईम्स - अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद महाकौशल प्रांत राष्ट्रीय कला मंच आज नवरात्रि अष्टमी के शुभ अवसर पर डैम घाट नर्मदा मंदिर में रंगोली प्रतियोगिता कराया गया जिसमें 12 प्रतिभागियों ने रंगोली प्रतियोगिता में भाग लिया और जोरदार प्रदर्शन दिया, एवं प्रतिभागियों के द्वारा  बहुत ही सुंदर अपना हुनर का प्रदर्शन किया गया। कार्यक्रम का संचालन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जिला संयोजक पवन बर्मन ने बताया कि विश्व में चल रही वैश्विक महामारी कोरोना वायरस चलते नवरात्रि के समय जो जगह जगह रंगोली प्रतियोगिता गरबा महोत्सव  रामलीला आर्केस्ट्रा प्रोग्राम एवं अन्य कार्यक्रम किया जाता था। आज कोरोना वायरस के चलते किसी भी प्रकार की उत्सव या कार्यक्रम करने का अनुमति ना होने के कारण हमने  एक छोटा सा रंगोली प्रतियोगिता का कार्यक्रम किया गया। जिसमें मास्क  सेनाटाइज एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया।एवं फर्स्ट सेकंड और थर्ड प्रतिभागियों के लिए पुरस्कार रखा गया। दीपाली बर्मन, प्रथम पुरस्कार ₹501 एवं शील्ड, स्नेहा बर्मन, दितीय पुरस्कार, 301 एवं शील्ड निकिता साहू तृतीय पुरस्कार₹251 एवं शील्ड एवं प्रत्येक प्रतिभागियों प्रिंस गुप्ता, साक्षी बर्मन, खुशी रजक, प्रिंसी कोल, सेजल विश्वकर्मा , को 51 रुपए की राशि प्रदान की गई। कार्यक्रम के चैन कमेटी अध्यक्ष पवन बर्मन राष्ट्रीय कला मंच प्रमुख नंदिनी बर्मन, कार्यक्रम प्रभारी सत्यम मानिकपुरी, राष्ट्रीय कला मंच सह प्रमुख शिल्पा बर्मन, कॉलेज मंत्री निदा खान, के द्वारा चयन  किया गया। जिला मीडिया प्रभारी लक्ष्मण सिंह चंदेल, भाग संयोजक लोकेश टाडिया, क्रीड़ा प्रभारी विजय बघेल , प्रांत कार्यकारिणी सदस्य संतोष सुरेश्वर, रोहित सोनी, पंकज बैरागी, मनीष यादव, अन्य कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment