ग्रामीण तरस रहे बूँद-बूँद पानी को भृष्ट जनप्रतिनिधि और सरपँच सचिव की लापरवाही के चलते परेशान हो रहे ग्रामीण - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Tuesday, October 6, 2020

ग्रामीण तरस रहे बूँद-बूँद पानी को भृष्ट जनप्रतिनिधि और सरपँच सचिव की लापरवाही के चलते परेशान हो रहे ग्रामीण


रेवांचल टाइम्स - निवास जनपद पंचायत की ग्राम पंचयात भानपुर बिसौरा मे सरपंच/सचिव के द्वारा किये गये भ्र्ष्टाचार का खाम याजा आज भुगत रहे ग्रामीण वारिस के चलते आज भी तरस रहे बूँद-बूँद पानी को ग्राम मे पानी का ऐक मात्र साधन है। बोर का जो की अब बिजली बिल का भुकतान ना होने से पम्पहॉउस की बिजली लाइन काट दी गई है। यही नहीं बल्कि ग्राम मे 3 - 3 बोर होने के कारण भी ग्रामीणों को पानी के ऐक-ऐक बूँद के लिये अब तरसना पड़ रहा है। 


ग्रमीणों का कहना-


      ग्राम के लोगों का कहना है। की लगातर ग्राम पंचयात के सरपंच व सचिव द्वारा लाखों रूपये का भ्र्ष्टाचार किया गया है। और अब बिजली बिल भुकतान करने के लिये पंचायत मे पैसा नहीं। 

     यही नहीं बल्कि जब-ज़ब पम्प हॉउस की लाईन काटी जाती है। तब तब इन्हे ग्राम मे कितने कनेक्शन धारी है वा कनेक्शन धारियों से पैसा वसूलने का ध्यान आता है। 


लगभग ऐक हप्ते से ग्राम मे कटी पड़ी पम्प हॉउस की बिजली लाईन। 

      ग्राम पंचायत भानपुर बिसौरा मे लगातर होता चला अ रहा है। 

भ्रस्टाचार को रोकने वा कारवाही करने के  खिलाफ  अनेकों बार ग्रामीणों ने धरना-प्रदर्शन भी किया है। 

   व अनेकों बार निवास जनपद पंचायत सीईओ व SDM से लेकर जिला कलेक्टर व जिला पंचायत सीईओ तक अनेकों ज्ञापन के  माध्यम से कारवाही की मांग करते हुये दिये गए लेकिन आज भी कोई कारवाही न होने के चलते इनके हौसले बुलंद हो रहे है। 

       यही नहीं ग्रामीणों का कहना है। की अधिकारों द्वारा कोई कारवाही ना करने के कारण व आये दिन बढ़ रहे पंचयतों मे भ्रस्टाचार मे अधिकारों की मिली भगत का कारण समझ आता है। 

     जनपद पंचायत से लेकर जिला पंचायत व कलेक्टर कार्यालय तक अनेकों पंचायत के ग्रामीणों द्वारा कारवाही को लेकर दिये गये अनेकों कागज अधकारियों की टेविल मे दवे पड़े हुये है। 

       सरपंच और सचिव को ऐंसे जनप्रतिनिधियों का राजनैतिक संरक्षण प्राप्त हो रहा है। 

जिनसे पंचायत मे मटेरियल सप्लाई से लेकर टेंडर व उधारी खाता मे लेन देंन चलता है। 

         और फिर पूरा जुड़ कर पंचायत के खाते से अधिक राशि भुकतान की जाती है। व जल्द  कोई कारवाही ना होने पर या पंचायत मे लगे ऐक -ऐक बिल का हिसाब न होने पर 

कारवाही की मांग को लेकर ग्राम भानपुर बिसौरा मे ग्रामीण जल्द विशाल धरना प्रदर्शन करने उतरगे सड़क पर

No comments:

Post a Comment