चरने गई भैस हुई चोरी, पुलिस को मिली बड़ी सफलता 20 भैंस कीमत 10 लाख की चोर सहित की बरामद - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, October 22, 2020

चरने गई भैस हुई चोरी, पुलिस को मिली बड़ी सफलता 20 भैंस कीमत 10 लाख की चोर सहित की बरामद

 



रेवांचल टाईम्स - फरियादी जितेन्द्र पिता भोलाराम लोधी उम्र 32 निवासी हसनपुर जाठौदा ने रिपोर्ट किया कि मेरी भैंस व सरदार सिंह कि भैंसे रोज की तरह हमारे घर के पास भैंसे चरने छोड देते थे भैंसे शाम को 4 बजे घर वापस आ जाती थी दिनांक 18.10.20 को भी मेरी व सरदार सिंह की भैंस घर के पास चरने गई थी जो शाम 6 बजे तक मेरी एक भैंस तथा सरदार सिंह लोधी की दो भैंस घर वापस नही आयी। तो मैने व सरदार सिंह ने भैंसे को ढूढना शुरु किया। मैने व सरदार सिंह ने भैंसो को ग्राम हसनपुर जाठौदा व आस  पास के ग्रामें में ढूढा आज तक कोई पता नहीं चला। तीनों भैसो की कीमत 1 लाख 50 हजार रुपये है कि रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 279/20 धारा 379 भादवि का कायम कर विवेचना में लिया गया। 

प्रकरण पुश चोरी व गंभीर प्रवृत्ति का आपराधिक कृत्य होने से पुलिस अधीक्षक जिला विदिशा के कुशल नेतृत्व में एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय साहू और  एसडीओपी भारत भूषण शर्मा के मार्गदर्शन में थाना स्तर पर  थाना प्रभारी के द्वारा एक टीम गठित की गई जिसमें नारायण सिंह, भूपेन्द्र शर्मा, सतेन्द्र तोमर, धर्मवीर को भैसों की तलाश हेतु क्षैत्र में भेजा गया। ग्राम बमुरिया के पास मुखविर की सूचना पर की गांव के जंगल में दो संदेही करीबन 6 भैंसे हाकते हुये सिरोंज की ओर ले जा रहे है। मुखविर सूचना पर थाना नटेरन की उक्त टीम द्वारा जंगल में घेराबंदी कर दोनों आरोपीयों को पकड़ा। आरोपीयान से नाम पता पूछा तो एक आरोपी ने अपना नाम शाहिद खांन उर्फ कुन्जा पिता लल्ला खांन मेवाती उम्र 35 साल निवासी ग्राम करमेडी खेडा थाना शमशाबाद का होना बताया एवं दूसरा आरोपी नाबालिग लडका है। आरोपीयों से भैंस के संबंध  में पूछताछ की गई तो भैंसो को भिन्न- भिन्न स्थानों से चुराना बताया। बाद आरोपी को मय भैंसो के थाना लाया। बाद फरियादी को तलब कर पहचान एवं हिफाजत नामा तैयार कर भैंसो को सुरक्षित थाना पर रखा गया। आरोपीसे पूछताछ कर भारतीय साक्ष्य अधिनियम की धारा 27 के अंतर्गत मेमोरेण्डम लेख किया गय।  आरोपी द्वारा शाहिद खांन उर्फ कुन्जा द्वारा मेमोरेण्डम में बताया गया कि करीबन 5  दिन पूर्व हमने उक्त भैंसे गांव हसनपुर जाठोदा एवं आस – पास के गांव से चोरी की है। मैने अपने साथियों के साथ मिल कर आज से करीबन तीन माह पूर्व थान हैदरगढ के खिरिया जागीर, थाना त्योंदा के रसूलपुर, थाना बासौदा देहात के उदयपुर एवं लटेरी थाना के गांव सेमरी अहिर के भिन्न भिन्न स्थानों से कुल 20 भैंसे चोरी की है। जो मैने बैरसिया, शमशाबाद, साँची और सुखी सेवनिया में बेच दी है। 

           

              इनका कहना है

     थाना नटेरन की टीम द्वारा अथक प्रयास कर 20 भैंसो को बरामद कर लिया गया है। चुराई हुई अन्य भैंसो के संबंध में माननीय न्यायालय से आरोपी का पुलिस रिमाण्ड प्राप्त कर पूछताछ कर वैधानिक कार्यवाही की जाती हैं।

              थाना प्रभारी नितिन पाटले


No comments:

Post a Comment