सरकार किसानों को मक्के का मूल्य 1850 रू. प्रति क्विंटल दे, प्रोत्साहन राशि जिला सिवनी के किसानों को हम देंगे- आम आदमी पार्टी सिवनी - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, October 29, 2020

सरकार किसानों को मक्के का मूल्य 1850 रू. प्रति क्विंटल दे, प्रोत्साहन राशि जिला सिवनी के किसानों को हम देंगे- आम आदमी पार्टी सिवनी




आम आदमी पार्टी सिवनी का मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र

रेवांचल टाइम्स:- प्राप्त जानकारी के अनुसार आदमी पार्टी सिवनी की ओर से प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहां गया है कि जिला अध्यक्ष अधिवक्ता दुर्गेश विश्ववकर्मा ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को एक पत्र लिखा है जिसमें सिवनी जिले के किसानों की मक्का फसल 1850 रू. प्रति क्विंटल में खरीद करने पर प्रोत्साहन राशि सिवनी जिले के किसानों को आम आदमी पार्टी सिवनी द्वारा दिये जाने का कहां है।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री को लिखे गए पत्र में कहां गया है कि आप के द्वारा घोषणा की गई है कि किसानों को मक्के की फसल के लिए प्रोत्साहन राशि आपके द्वारा दी जाएगी, हम आम आदमी पार्टी सिवनी आपसे निवेदन करती है कि आप सिवनी जिले के किसानों का मक्का समर्थन मूल्य में विक्रय कराने की व्यवस्था करवा दें तो प्रोत्साहन राशि किसानों को आम आदमी पार्टी सिवनी द्वारा प्रदान की जाएगी।

जैसा की आपको विदित हो की सिवनी जिले के किसान अधिकांश मक्के की फसल लगाते  हैं और इस बार मक्के की फसल मौसम की मार की बजह से औसतन कम हुई है ,इसके पूर्व भी लॉक डाउन की वजह से किसानों कि माली हालत बहुत खराब है,और अभी किसानों कि फसल मक्का आई है, जिसे बेचने के लिए उचित दाम नहीं मिल रहा है,किसान को मक्के की फसल उगाने की लागत लगभग 1213 रू. विगत वर्ष के सरकारी आंकड़े अनुसार लगती है और उसका समर्थन मूल्य 1850 रू. प्रति क्विंटल है। लेकिन किसानों की फसल समर्थन मूल्य तो दूर उसकी लागत भी नहीं निकल पा रही है मक्का मात्र 700 - 800 रू. में बिक रहा है याने किसान घाटा करके बेच रहा है। 

आप तो कहते थे कि खेती बाड़ी को लाभ  का सौदा बनाएंगे लेकिन उसका उल्टा हो रहा है।  

किसानों की स्थिति दिनों दिन बिगड़ती जा रही है अभी दीपावली का त्यौहार अलग है , किसानों को भी दीपावली मनानी है दीपक जलाने है, किसानों को भी रुपए/पैसों की आवश्यकता है और उनकी जीविका का एकमात्र साधन कृषि है जोकि वर्तमान में मक्के की फसल आई है और लागत से बहुत कम मूल्य में बिक रही है ऐसे में किसान कैसे दीपावली मनाए ?


जैसा कि आप जानते है कि भारतीय जनता पार्टी ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू करने का वादा कर सत्ता में आई थी,किसानों ने सोचा था कि आपकी पार्टी ने जो वादे किए है वो आप पूरा करेंगे, न्यूनतम समर्थन मूल्य  पर फसल की खरीदी करवाओगे लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है ,आप तो प्रोत्साहन राशि देने की बात कर रहे है,किसानों को प्रोत्साहन राशि आम आदमी पार्टी सिवनी दे देगी आपके द्वारा कहाँ गया था मैं मुख्यमंत्री होता तो किसान के खेत की मिट्टी भी 2100 रु. के भाव मे खरीद लेता आप मिट्टी भले ही ना खरीदे किसानों की मेहनत की फसल मक्का को किसानों  के हित में एमएसपी की दर पर पहले बिक्री करवा दीजिए तो हम आपके आभारी रहेंगे हम किसानों पर राजनीति नही करना चाहते  आप सकारात्मक पहल करते हुए  मक्के की फसल के लिए एमएसपी की दर पर विक्रय करवा दीजिए तो सिवनी के किसानों को प्रोत्साहन राशि हम दे देंगे।


रेवांचल टाइम्स से मुकेश जायसवाल की रिपोर्ट

1 comment: