उम्मीद की किरण...जल्द कोरोना संक्रमण से मुक्त हो सकते हैं 16 राज्य - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Sunday, April 26, 2020

उम्मीद की किरण...जल्द कोरोना संक्रमण से मुक्त हो सकते हैं 16 राज्य



देश के 32 राज्य वायरस की चपेट में हैं, लेकिन सबसे अधिक देश के 16 राज्य बुरी तरह प्रभावित हैं, जहां सबसे अधिक मरीज मिले हैं और सबसे अधिक मौतें भी दर्ज हुई हैं। बाकी देश के 16 राज्य ऐसे हैं, जहां कुल मरीजों का आंकड़ा 450 भी पार नहीं कर सका है और मौतों का आंकड़ा भी दहाई के आंकड़े को नहीं छू सका है। इन राज्यों के जल्द कोरोना मुक्त होने की उम्मीद है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, शनिवार शाम तक देश के 32 राज्यों में कुल 24,506 में संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। इन राज्यों में महाराष्ट्र सर्वाधिक मरीजों के साथ शीर्ष पर है।

इसके बाद गुजरात, दिल्ली, राजस्थान, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, और उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक रोगी हैं। जहां आंकड़ा दो हजार के करीब या उससे अधिक है। इसके बाद आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, बिहार, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, कर्नाटक, केरल, पंजाब और पश्चिम बंगाल हैं जहां मरीजों का आंकड़ा 223 से 955 के बीच है। कुल संक्रमितों में से 24,089 मरीज इन्हीं सोलह राज्यों में हैं, जबकि कुल 768 लोगों की मौत हुई हैं।




इसके इतर सोलह राज्य ऐसे हैं जहां अब तक केवल 417 मरीजों में वायरस की पुष्टि हुई है और केवल सात लोगों की मौत हुई है। इन राज्यों में ओडिशा के साथ अंडमान निकोबार आइलैंड, अरुणाचल प्रदेश, असम, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, गोवा, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, लद्दाख, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, पुड्डुचेरी, त्रिपुरा और उत्तराखंड शामिल हैं। ऐसे में उम्मीद की जा सकती है कि ये सभी राज्य जल्द कोरोना मुक्त होंगे। गोवा पहले ही हो चुका है।

एक राज्य में औसतन 765 मरीज

आंकड़ों के अनुसार देशभर में कुल संक्रमितों की संख्या 24,506 है यानि हर राज्य में 765 मरीज हैं। वायरस की चपेट में आकर 775 लोगों की मौत हो चुकी है। इस हिसाब से हर राज्य में औसतन 24 लोगों की मौत हुई है। देश के 16 सबसे संवेदनशील राज्यों में कुल मरीजों की संख्या 24,089 है। इस अनुसार एक राज्य में 1505 मरीज हैं। कुल 768 मौतें हुई हैं इस हिसाब से एक राज्य में 48 मौतें हुई हैं। 16 सुरक्षित राज्यों की तुलना करेंगे तो कुल 417 मरीजों में औसतन हर राज्य में 26 मरीज हैं जबकि मरने वालों की संख्या 0.43 है।

ग्यारह राज्यों में अब तक कोई मौत नहीं

देश के ग्यारह राज्य ऐसे हैं जहां मरीजों का आंकड़ा करीब 150 के पार है लेकिन यहां अब तक किसी की जान नहीं गई है। इन राज्यों में उत्तराखंड के साथ चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, गोवा, लद्दाख,

अरुणाचल प्रदेश, त्रिपुरा, पुड्डुचेरी, मिजोरम, मणिपुर और अंडमान निकोबार द्वीप समूह शामिल हैं।




6 राज्य हो सकते हैं कोरोना मुक्त

इन 32 राज्यों में से छह राज्य ऐसे हैं जहां कोरोना वायरस पूरी तरह नियंत्रण में है। इन छह राज्यों में अरुणाचल प्रदेश 1, गोवा 7, मणिपुर 2, मिजोरम 1, पुड्डुचेरी 7 और त्रिपुरा 2 मरीजों में वायरस की पुष्टि हुई है। सभी छह राज्यों में अभी तक सिर्फ 20 लोगों में वायरस की पुष्टि हुई है जिसमें 90 फीसदी ठीक होकर घर लौट चुके हैं। गोवा पहले ही कोरोना मुक्त राज्य बन गया है।







सुरक्षित राज्यों में ओडिशा में सबसे अधिक रोगी

16 राज्यों में ओडिशा एक मात्र ऐसा राज्य है जहां 94 मरीज है। इसके बाद झारखंड हैं जहां संक्रमितों की संख्या 57 जबकि उत्तराखंड में 48 में वायरस की पुष्टि हुई है। अच्छी बात ये है कि ओडिशा में अब तक एक और झारखंड में तीन लोगों की ही मौत हुई है जबकि देवभूमि उत्तराखंड में एक भी मौत नहीं हुई है।


यह भी पढ़ें 


मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप के बिना दिल्ली में किसी को भी घुसने न दें


केंद्रीय कर्मचारियों का डीए फ्रीज करने के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती


दिल्ली के बाद पांच और राज्य बढ़ाना चाहते हैं लॉकडाउन, सोमवार को ले सकते हैं फैसला


मन की बात- देश का हर नागरिक वायरस के खिलाफ लड़ रहा है लड़ाई : पीएम मोदी


लघु एवं मध्यम उद्योगों के लिए सोनिया ने दिए प्रधानमंत्री को पांच सुझाव


शिवराज सरकार ने महिलाओं को सौंपा मास्क बनाने का जिम्मा, एक मास्क के मिलेंगे 11 रुपये


इरफान खान की मां का जयपुर में निधन, लॉकडाउन में घर से दूर फंसे हैं एक्टर








No comments:

Post a Comment