अगर आपको भी है ऊंचा तकिया लगाने की आदत तो हो जाएं सावधान, वरना इन बीमारियों का हो जाएंगे शिकार - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Friday, January 20, 2023

अगर आपको भी है ऊंचा तकिया लगाने की आदत तो हो जाएं सावधान, वरना इन बीमारियों का हो जाएंगे शिकार



इंटरनेट और सोशल मीडिया के इस युग में लोग जाने अनजाने में कई गलतियां कर रहे हैं. इनमें से एक है ऊंचा तकिया लगाने की गलती. हालांकि ये कोई नहीं बात नहीं है. पहले भी लोग ऊंचा तकिया या फिर तकिए को ऊंचा करके लगाकर सोते थे लेकिन वर्तमान में बिस्तर में लेटकर घंटों मोबाइल का इस्तेमाल करने के लिए लोग तकिए को ऊंचा कर लेते हैं. लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि ऐसा करना आपकी सेहत के लिए बहुत नुकसान पैदा कर रहा है. ऊंचा तकिया लगाकर सोना या घंटों तक लेटे रहने की आपकी भी आदत है तो इसे तुरंत बदल दें. वरना आपको कई बीमारियां लगने वाली है जो आपको जिंदगीभर नहीं छोड़ेंगी.

ऊंचा तकिया लगाने से पैदा हो सकती है सर्वाइकल की परेशानी

अगर आप ऊंचा तकिया लगाकर सोते हैं तो आपको सर्वाइकल की समस्या हो सकती है. सर्वाइकल में गर्दन में इतनी तेज दर्द होता है कि कई बार ये असहनीय हो जाता है. ज्यादातर मामलों में ये समस्या ऊंचा तकिया लगाने की वजह से होती है. अगर आप भी रोजाना ऐसा करते हैं तो सर्वाइकल होने की संभावना बहुत ज्यादा है. अगर ये बीमारी आपको लग गई तो ये आपके लिए रोजाना की मुसीबत हो जाएगी. यही नहीं कई बार तो तेज दर्द की वजह से चक्कर आने की समस्या भी होने लगती है जिससे हालात और गंभीर हो जाते हैं.

स्लिप डिस्क का कारण बन सकता है ऊंचा तकिया लगाना

अगर आप ऊंचा तकिया लगाते हैं तो आपको स्लिप डिस्क की समस्या होने का भी खतरा बढ़ रहा है. क्योंकि सोते वक्त रीढ़ की हड्डी पर दबाव पड़ता है जिससे डिस्क खिसक जाती है. इस वजह से कंधे में पीठ में और गर्दन में दर्द होने लगता है. कई बार तो ये दर्द इतना बढ़ जाता है कि लोगों को उठने-बैठने तक में परेशानी होने लगती है. गर्दन में दर्द होने की वजह से आपकी नींद की गुणवत्ता भी खराब होने लगती है जिससे आपको कई और बीमारियां भी घेर सकती हैं.

चेहरे पर हो सकते हैं मुंहासे



एक्सपर्ट्स के मुताबिक, ऊंची तकिया लगा कर सोने से रक्त संचार प्रभावित होता है. इससे चेहरे के ब्लड सरकुलेशन में प्रॉब्लम होता है, जिससे चेहरे के रोम छिद्र प्रभावित होने लगते हैं. जिसके चलते मुंहासों की समस्या हो सकती है. लेकिन ज्यादातर लोगों को मुहांसों की समस्या होने का कारण इस बारे में पता ही नहीं होता.

जानिए क्या है सोने का सही तरीका

हर व्यक्ति अपने आराम के मुताबिक, अलग-अलग पोजीशन में सोता है. जिसमें स्टमक पोजीशन, फ्री फॉल पोजीशन, शोल्डर पोजीशन आदि शामिल हैं. आधे से ज्यादा लोग तीन तरह की पोजीशन में सोना पसंद करते हैं इसमें कमर के बल सोना, पेट के बल सोना और करवट लेकर सोना. इनमें से करवट लेकर सोना ज्यादा अच्छा माना जाता है. ज्यादा लोग इसी पोजीशन में सोते हैं. आयुर्वेद के विशेषज्ञों के मुताबिक, रात को बाएं और करवट लेकर सोने से आपकी पाचन क्रिया दुरूस्त होती है.

इसके साथ ही आपके पेट पर दबाव भी नहीं पड़ता. जबकि दाएं ओर करवट लेकर सोने से पाचन क्रिया धीमी हो जाती है. अगर रात के समय जिन लोगों को सीने में जलन होती है उन्हें भी बाई ओर करवट लेकर सोने की सलाह दी जाती है. इसके साथ ही रात को ज्यादा टाइट कपड़े पहन कर सोना भी अच्छा नहीं माना जाता. इसके अलावा सोते समय मुलायम और गर्दन को ऊपर उठाने वाले तकिया का इस्तेमाल करना अच्छा नहीं होता है.

No comments:

Post a Comment