सरकारी दुकानों मैं हुआ करोड़ों का घोटाला सारे आम बेंच दी गई सैंकड़ों दुकाने अपने निजी स्वार्थ के चलते अपने करीबियों को... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Saturday, January 14, 2023

सरकारी दुकानों मैं हुआ करोड़ों का घोटाला सारे आम बेंच दी गई सैंकड़ों दुकाने अपने निजी स्वार्थ के चलते अपने करीबियों को...

 



रेवांचल टाईम्स - मंडला जिले की जनपद पंचायत नैनपुर की ग्राम पंचायत पिंडरई मैं पूर्व सरपंच उपसरपंच ने सरकारी राशि मे जम कर होली खेली यहाँ तक हितग्राही मूलक योजनाओं में भी जम कर उगाही की गई और सब अपने चहेतों को जम कर फ़ायदा पहुँचाया है इन की अनेकों बार शिकायत हुई पर सब जांच केवल महज दिखबा ही साबित हुई किसी का कुछ नही हुई बल्कि जनचर्चा का विषय ये रहा कि जब जब शिकायत हुई तब तब कम के सरकारी योजनाओं में गोलमाल हुआ या कहे की स्थानीय लोगो को यह बताना समझ रहे कि हमारा कोई कुछ नही कर सकता है क्योंकि जब तक सरकार हमारी है तो सरकार के ही नुमाईंदे जांच करेंगे हम सब को देख लेंगे।

            पूर्व में पंचायत प्रतिनिधियो पूर्णतः माफिया की तर्ज में सरकारी धन का बंदरबाट किया गया साथ ही ग्राम पंचायत में सरकारी दुकान निर्माण के नाम पर शासन द्वारा प्रदाय की गई पंचायत राशि से सैंकड़ों दुकान निर्माण किया गया जो की शासन आदेश अनुशार st/sc/obc नियमानुसार आरक्षित रूप से प्रदाय की जानी थी किंतु बिना किसी सार्वजनिक प्रकाशित निविदा और नाही किसी प्रकार की प्रशासनिक कार्यवाही के गुप्त रूप से सभी दुकानों को करोड़ों का गमन करते नजर आए पंचायत माफिया सरकारी कागज के नाम पर कागज की चिट्ठी में दुकान बांट दी गई  जानकारी अनुसार वर्तमान पंचायत पिंडरई के सरपंच एवम उपसरपंच द्वारा ग्रामवासियों की शिकायत के बाद  पूर्व पंचायत सरपंच एवम उपसरपंच से पूर्ण आवंटन एवम प्रकाशित निविदा प्रक्रिया की छाया प्रति सरकारी दस्तावेजों की छाया प्रति मांगी गई किंतु दस्तावेज देने से चुप कर भागते आराहे है माफिया 

इनका कहना है

        कई बेरोजगार एवम पात्र वक्तियों  को दुकान नही दी गई जानकारी मांगने पर धमकियों का सामना करना पड़ता है जिससे प्रताड़ित होकर हम शासन से जांच की मांग के लिए ठोकर खा रहे किंतु किसी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की जा रही।

                              समस्त ग्रामवासी पिंडरई

सरकारी दुकानों के नाम पर हुए करोड़ों के घोटाले जो पूर्व सरपंच एवम उपसरपंच के मध्यम से किया गया है हम शासनीक कार्यवाही के मध्यम से जांच की कर दोषियों को से दिलवाने का भरपूर प्रयास करेंगे।

                        सरपंच संदीप मरकाम पिंडरई

पूर्व पंचायत द्वारा बिना किसी प्रशासनिक कार्यवाही के अवैध रूप दुकानों को बेचा गया जिससे परेशान हुए ग्रामवासियों की शिकायत के बाद मैं पिंडरई की जनता को यकीन दिलाना चाहता हु की इस घोटाले की पूर्ण रूप से जांच कर पात्र वक्तियों को दी जाएगी 

                उपसरपंच जितेंद्र सिंह राजपूत पिंडरई

No comments:

Post a Comment