जिहादी घृणा और आतंक के खिलाफ बजरंग दल ने राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Thursday, January 19, 2023

जिहादी घृणा और आतंक के खिलाफ बजरंग दल ने राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन...




रेवांचल टाईम्स - असम के करीमगंज जिले में बजरंग दल कार्यकर्ता की हत्या पर जताया आक्रोश बुधवार को बजरंग दल छिन्दवाड़ा द्वारा जिहादी घृणा और आतंक के खिलाफ राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें बताया गया कि आज देश एक विकट परिस्थिति से जूझ रहा है। देश में जिहादी तत्व घृणा और आतंक का वातावरण निर्माण कर रहे हैं। कभी "सर तन से जुदा गैंग" सक्रिय होता है, तो कभी लव जिहाद या जिहाद के अन्य प्रकारों से हिंदू समाज को आतंकित करने का षड्यंत्र किया जा रहा है।


हिंदू संगठनों, उनके कार्यकर्ताओं और हिंदू नेताओं पर हमले कर उनकी हत्या करने की कई घटनाएं सामने आई हैं। 8 जनवरी 2023 को असम के करीमगंज जिले के लोविरपुरा में बजरंग दल के एक 16 वर्षीय कार्यकर्ता शंभू कैरी की एक जिहादी द्वारा चाकू से गोदकर निर्मम हत्या कर दी गई। पिछले 2 वर्षों में ही बजरंग दल के 9 कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है और 32 कार्यकर्ताओं पर हमले हुए हैं। जो घटना अभी दिल्ली में हुई है वह भी चिंता पैदा करती है। जिसमें दो हत्यारों ने एक हिंदू की निर्मम हत्या कर दी और उसके 32 टुकड़े करने के बाद कहा कि उसके निशाने पर कई हिंदू नेता भी हैं। आतंक फैलाने के लिए किए गए इन हमलों में दो नई रणनीतियां सामने आ रही हैं। हमलों के लिए नाबालिगों को आगे किया जा रहा है, जो बकरों की कुर्बानी और मदरसों की शिक्षा के कारण पहले से ही क्रूरता और घृणा से कूट-कूट कर भरे होते हैं। कई घटनाओं में उन्होंने हत्या करने वाले गैंग को भी सुपारी दी है। जैसा कि दिल्ली के हत्याकांड से स्पष्ट हुआ है।


बजरंग दल ने राष्ट्रपति से मांग की है कि 1. वह केंद्र सरकार को निर्देशित कर घृणा फैलाने व झूठे विक्टिम कार्ड खेलकर मुस्लिम समाज को भड़काने वाले मौलवियों व नेताओं पर नियंत्रण करने के लिए एक कठोर कानून बनाएं। 2. इन हमलों में सम्मिलित अवयस्कों को वयस्क के समान माना जाए जिससे अवयस्कों को मिलने वाला संरक्षण इन क्रूर हमलावरों और हत्यारों को न मिल सके। 3. हिंसा के लिए प्रेरित करने वाले तत्व विभिन्न नामों से सामने आते रहते हैं। सिम्मी, पीएफआई, सिटीजन फोरम आदि के आदि केवल नाम है। प्रेरक तत्व जिहादी विचारधारा है जिस पर रोक लगाने के लिए एक आवश्यक कठोर कानून बनाना चाहिए। इसके लिए आप कृपया केंद्र सरकार को उपयुक्त निर्देश दें। 4.घृणा का वातावरण बनाने में मदरसों का बड़ा योगदान है। उन पर नियंत्रण की प्रभावी व्यवस्था बनानी चाहिए, यह समय की मांग है।


इस अवसर पर बजरंग दल जिला संयोजक शैलेश यदुवंशी, विहिप जिला मंत्री नकुल विश्वकर्मा, जिला विद्यार्थी प्रमुख नीलेश चंद्रवंशी, जिला मंत्री परासिया गोलू सूर्यवंशी, नगर अध्यक्ष विनोद कोहले, नगर सह मंत्री आकाश कहार पिल्लू, विहिप प्रखंड अध्यक्ष राजकुमार रघुवंशी, गणेश ठाकुर, सक्षम अग्रवाल, आशीष सिंगारे, सावन गौहर, हर्ष विश्वकर्मा, अंकित कहार, अंकित पटेल समेत अन्य विहिप बजरंग दल पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment