विद्यालय के परिणाम शाला शिक्षकों की कार्यशैली को प्रदर्शित करते हैं - हर्षिका सिंह - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Wednesday, December 14, 2022

विद्यालय के परिणाम शाला शिक्षकों की कार्यशैली को प्रदर्शित करते हैं - हर्षिका सिंह




कलेक्टर ने ली प्राचार्यों की बैठक

 

मंडला 14 दिसम्बर 2022

                हाईस्कूल एवं हायरसेकेंडरी स्कूलों के प्राचार्यों की बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि शिक्षण कार्य में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें। बोर्ड परीक्षाओं में शतप्रतिशत बच्चों को अच्छे अंकों से पास कराने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि विद्यालय के परिणाम शाला शिक्षकों की कार्यशैली को प्रदर्शित करते हैं। विद्यार्थियों के लक्ष्य निर्धारण तथा उसकी पूर्ति में शिक्षक सहयोगी बनें। संकुल क्षेत्र में आने वाले विद्यालयों के स्तर को बेहतर बनाने की जिम्मेदारी संबंधित संकुल प्राचार्य की है। जिला योजना भवन में संपन्न हुई इस बैठक में सहायक आयुक्त जनजातीय कार्यविभाग विजय तेकाम, जिला शिक्षा अधिकारी सुनीता बर्वे, उपसंचालक डीएस उद्दे एवं एलएस मसराम, एपीसी मुकेश पांडे सहित संबंधित उपस्थित रहे।

                कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि सभी शिक्षक पूरी क्षमता से अध्यापन कार्य कराएं। शिक्षा की गुणवत्ता को सुनिश्चित करने के लिए जिला स्तर से भी आवश्यक सहयोग करें। सहायक आयुक्त, जिला शिक्षा अधिकारी सहित अन्य विभागीय अधिकारियों के मध्य शालाओं का विभाजन कर प्रभावी मॉनीटरिंग करें। कलेक्टर ने कहा कि तिमाही परीक्षा में अनुपस्थित एवं अनुत्तीर्ण बच्चों की सूची बनाएं तथा उनकी 20 दिसंबर से पुनः परीक्षा आयोजित करें। साईंस, गणित एवं अंग्रेजी विषयों पर विशेष ध्यान दें। स्पेशल कोर्स मॉड्यूल तैयार करें। शाला प्राचार्य स्वयं भी अध्यापन कार्य कराएं। स्मार्ट क्लास का बेहतर उपयोग करें। सभी शिक्षक एवं विद्यार्थियों की ऑनलाईन उपस्थिति दर्ज करें, अन्यथा की स्थिति में संकुल प्राचार्यों का वेतन रोका जाएगा।

                प्रायोगिक कक्षाओं पर भी ध्यान दें। पुस्तकालयों को उपयोगी बनाएं। सभी शालाओं में शौचालय क्रियाशील रहें। शौचालय बंद पाए जाने पर प्राचार्य जिम्मेदार होंगे। इस संबंध में सभी प्राचार्य प्रमाण पत्र प्रस्तुत करें। कलेक्टर ने सभी शालाओं में बिजली, पंखा, पानी आदि मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

 

निराशाजनक परिणाम वाले शाला शिक्षकों के दो वेतनवृद्धि रोकें

 

                बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने तिमाही परीक्षा परिणामों की शालावार समीक्षा की। उन्होंने कमजोर रिजल्ट वाले 25 शालाओं को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। हाईस्कूल, आईटीआई, हायरसेकेंडरी स्कूल सागर तथा अवंति बाई कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय का परीक्षा परिणाम निराशाजनक होने पर उन्होंने सभी शिक्षकों की दो वेतनवृद्धि रोकने के निर्देश दिए। श्रीमती सिंह ने कहा कि सभी शिक्षक योजनाबद्ध तरीके से अध्यापन कराएं तथा छिमाही परीक्षा में परिणाम सुधारें। अच्छा कार्य करने वाले शिक्षकों को सम्मानित करें। बैठक में बिना सूचना अनुपस्थित रहने पर कलेक्टर ने हाईस्कूल लिमरूआ के प्राचार्य का अवैतनिक करने के निर्देश दिए।

 

प्रातः 9 से 10:30 तक रेमेडियल क्लास चलाएं

 

                कलेक्टर हर्षिका सिंह ने कहा कि सभी शिक्षक तिमाही परीक्षा के परिणामों का विश्लेषण कर कठिन अवधारणाओं का चिन्हांकन करें तथा रेमेडियल क्लास में बच्चों से अभ्यास कराएं। सभी हाईस्कूल एवं हायरसेकेंडरी स्कूलों में प्रतिदिन प्रातः 9 बजे से 10:30 बजे तक अनिवार्य रूप से रेमेडियल क्लास संचालित करें। पाठ्यक्रम को जल्द पूर्ण कराएं। कलेक्टर ने कहा कि बोर्ड परीक्षा की दृष्टि से प्रश्नोत्तरी तथा मॉडल प्रश्नप्रत्र हल कराएं। विद्यार्थियों की विषय संबंधी शंकाओं का समाधान करें।

 

अभिभावक बच्चों को नियमित स्कूल भेजें

 

                कलेक्टर हर्षिका सिंह ने बच्चों की उपस्थिति की समीक्षा करते हुए शालाओं में शतप्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। अनुपस्थित बच्चों के पालकों से संपर्क करें। कलेक्टर ने पालकों का आव्हान किया कि परीक्षा को ध्यान में रखते हुए वे अपने बच्चों को नियमित रूप से विद्यालय भेजें। अनियमित उपस्थिति बच्चों की शिक्षा को प्रभावित करती है।

No comments:

Post a Comment