बैक के कियोस्क सेंटर ग्रामीण क्षेत्रों में बंद रहने से खातेधारी हो रहे परेशान.. - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Friday, December 2, 2022

बैक के कियोस्क सेंटर ग्रामीण क्षेत्रों में बंद रहने से खातेधारी हो रहे परेशान..


रेवांचल टाईम्स - मंडला जिले के विकासखण्ड मुख्यालय में कियोस्क बैक का हो रहा संचालन, ग्रामीणों की शिकायत पर नहीं हो रही कार्यवाही 

        विकास खण्ड नारायणगंज में सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के खातेधारियों की सुविधा हेतु कुछ ग्राम पंचायत स्तर पर कियोस्क बैक का संचालन किया गया था। जिससे बैंक के हितग्राहियों को असुविधा न हो सके और उनका बैंक से संबंधित काम गांव के नजदीक कियोस्क बैक में हो सके। उन्हें बैंक के छोटेमोटे काम के लिए 10-15 किलोमीटर किराया-भाड़ा लगाकर विकास खण्ड मुख्यालय न आना पड़े। उनका काम वहीं हो सके। किन्तु देखने में आ रहा है। ग्राम पंचायत स्तर पर संचालित कियोस्क बैक बंद पड़े हैं जिससे मजबूरन बैंक के हितग्राहियों को किराया -भाड़ा लगाकर विकास खण्ड मुख्यालय नारायणगंज आना पड़ता है। जिससे  गरीब वृद्ध हितग्राहियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।


सेन्ट्रल बैंक के ग्रामीण कियोस्क सेंटर विकास खण्ड मुख्यालय में हो रहे संचालित -


जानकारी में आया है की ग्राम पंचायत खम्हरिया, पाठा एवं कूम्हा में संचालित कियोस्क सेंटर विकास खण्ड मुख्यालय में संचालित हो रहे हैं। जबकि इन कियोस्क सेंटरों को ग्राम स्तर पर संचालित होना चाहिए था। किन्तु ये सभी सेंटर गांव की जगह सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया शाखा नारायणगंज के बाजू में ही चल रहे हैं। जिससे इन गांव के अलावा आसपास के गांव के लोगों को अपना बैंक से संबंधित काम कराने के लिए नारायणगंज आना पड़ता है।

       जब कियोस्क सेंटर के संचालकों से बात की गयी  तो उन्होंने ने कहा कि हमें इतना पैसा नहीं मिलता की हम रोज गांव में जाकर सेन्टर खोलें साथ ही हमें बैंक का भी काम रहता है इसलिए नारायणगंज में बैंक का काम भी कर लेते हैं और यहां के सेंटर में आये हितग्राहियों का काम किया जाता है। कुछ सेंटर संचालक का कपड़े का भी व्यवसाय है जिससे सेंटर में कम ध्यान देते हैं जिससे यहां आये हितग्राहियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। वहीं इन ग्राम के लोगों द्वारा गांव के नाम से संचालित कियोस्क सेंटर जो नारायणगंज में संचालित हो रहे हैं उन्हें गांव में ही संचालित कराया जाये। जिससे हम गरीबों को किराया -भाड़ा लगाकर बैक के काम से नारायणगंज न जाना पड़े और हमारे काम इन गांव के कियोस्क सेंटर से हो सके।

No comments:

Post a Comment