शहर मे खुले मे जाम छलका रहे शराबियों पर कार्यवाही विजय नगर शराब दुकान के सामने फुटपाथ पर सजने वाले मयखाने पर कार्यवाही कब...? - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Tuesday, November 1, 2022

शहर मे खुले मे जाम छलका रहे शराबियों पर कार्यवाही विजय नगर शराब दुकान के सामने फुटपाथ पर सजने वाले मयखाने पर कार्यवाही कब...?



रेवांचल टाईम्स - जबलपुर सड़क व शराब दुकानों के सामने शराबखोरी करने वाले 32 लोगों पर आबकारी विभाग ने प्रकरण दर्ज किया है। उनके खिलाफ मध्यप्रदेश आबकारी अधिनियम की धाराओं के तहत कार्यवाही की जा रही है। इसी प्रकार कंपोजिट दुकान, अहाता और शॉप बार की जांच में गंदगी मिली। ऐसे 19 शराब लायसेंसियों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है।लेकिन अब सवाल यह है कि विजय नगर शराब दुकान के सामने शाम होते ही सड़क और स्मार्ट सिटि के फुटपाथ जाम छलकने वालों पर कार्यवाही कब होगी। 

शहर के पॉश इलाके विजय नगर मे खुलेआम शराब पीने वालों से आमजन और रहवासी त्रस्त हैं जहां शाम होते ही एम आर 4 सड़क पर जाम छलकने लगते हैं तो शराबियों की गाली गलौज और लड़ाई झगड़े से आसपास के रसवासियों का जीना दूभर हो गया है ,आपको बता दें की दीनदयाल चौक से लेकर एस बी आई चौक तक शाम होते ही सर्विस रोड पर पूरी तरह से शराबियों का डेरा जम जाता है फिर चाहे वो स्मार्ट सिटि का फुटपाथ हो या नगर निगम की सड़क सभी पर शराबी खुलेआम अपना डेरा जमाकर बैठ जाते हैं जिसकी वजह से शाम के बाद इस सड़क से महिलाएं और लड़कियों का गुजरना तो मुश्किल हो ही जाता है साथ ही साथ बिना शराब पीने वाले लोग भी इस गली से गुजरने मे कतराते हैं ,

विजयनगर शराब दुकान के चारों ओर खुलेआम बीयर बार के जैसा माहौल शाम को देखने मिलता है जहां शराबी दुकान से शराब खरीदकर दुकान के सामने आजूबाजू या बीच सड़क पर शराब पीते दिखाई देते हैं, मानो इतना सबकुछ खुलेआम होने के बाद भी विजयनगर पुलिस द्वारा शराबियों और शराब दुकान ठेकेदार को खुला संरक्षण है ,शराब दुकान से चंद कदमो मे ही पुलिस थाना है लेकिन सारी अनैतिक गतिविधियां पुलिस को मालूम होने के बाद भी पुलिस कुंभकरणीय नींद सो रही है और शराबखोरी से होने वाली किसी बड़ी घटना के इंतजार मे बैठी हुई है।

शहर का एक पॉश इलाका और शहर का अंतर्राजीय बस स्टैंड चंद कदमो की दूरी पर होने के कारण पुलिस विभाग समेत सभी विभागो के वरिष्ठ अधिकारियों का भी इस मार्ग से गुजरना होता है लेकिन इस तरह की खुलेआम शराबखोरी पर कभी किसी अधिकारी की नजर नहीं जाती ,क्या शराब बेचने के साथ साथ शराब दुकान के ठेकेदारों को दुकान के सामने खुलेआम शराब पिलाने की इजाजत भी सरकार और प्रशासन द्वारा दे दी गई है ? यदि नहीं तो फिर इस तरह से बीच सड़क पर शराबियों द्वारा शराब पीना कहीं न कहीं शासन प्रशासन पर सवाल खड़ा करेगा ही ,देखना यह होगा की विजयनगर पुलिस और अन्य कोई बड़े अधिकारी इस तरह की गतिविधियों पर कब अंकुश लगा पाते हैं या फिर किसी बड़ी घटना के बाद ही प्रशासन की नींद खुलेगी ।


32 लोंगों पर हुई कार्यवाही, 19 दुकानों को दिया नोटिस 


आबकारी नियंत्रण कक्ष प्रभारी जीडी लाहोरिया ने बताया कि तीन दिनों के भीतर खुले स्थानों पर शराब पीने वाले व्यक्तियों पर आबकारी अधिनियम 1915 की धारा 36 (ग) के अंतर्गत 32 प्रकरण पंजीबद्ध किए गए हैं। इसी तरह जांच में शीतलामाई वार्ड, महाराजपुर, अधारताल, लिंक रोड, बिलहरी, संजय गांधी वार्ड, सदर, घमापुर, बड़ा पत्थर, गोहलपुर, अमखेरा, चण्डालभाटा, करमेता, गुप्तेश्वर, मदन महल, रानीताल, मोटर स्टैंण्ड, मढ़ाताल एवं गुरंदी बाजार स्थित 19 दुकानों नोटिस दिया है। लाहोरिया ने बताया कि इन दुकान और अहातों में साफ-सफाई नहीं थी। ग्राहकों को गंदगी के बीच शराब परोसी जा रही थी। इन लाइसेंसियों पर विभागीय प्रकरण कायम कर नोटिस जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि नशामुक्ति अभियान के तहत एक माह में 382 प्रकरण पंजीबद्ध कर 19 लाख 70 हजार रुपए की अवैध शराब जब्त की गई है। चालू वितीय वर्ष में अवैध मदिरा बिक्री के 2 हजार 202 प्रकरण पंजीबद्ध किए गए हैं। इनमें 1 करोड़ 10 लाख रूपए की अवैध शराब बरामद की गई।

No comments:

Post a Comment