अपने कार्यदिवस की शुरूआत सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों के निराकरण से करें - हर्षिका सिंह - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Wednesday, October 26, 2022

अपने कार्यदिवस की शुरूआत सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों के निराकरण से करें - हर्षिका सिंह

 



समय-सीमा एवं विभागीय समन्वय समिति की बैठक में कलेक्टर के निर्देश

 

मण्डला 26 अक्टूबर 2022

            समय-सीमा एवं विभागीय समन्वय समिति की बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि सभी अधिकारी सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ निराकरण सुनिश्चित करें। बिना जवाब प्रस्तुत किए प्रकरण अगले स्तर पर जाने पर संबंधित कार्यालय प्रमुख जिम्मेदार होंगे। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी अपने कार्यदिवस की शुरूआत सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों के निराकरण से करें। मिशन मोड में कार्य करते हुए लम्बित प्रकरणों का निराकरण करें। बैठक में सीईओ जिला पंचायत रानी बाटड, एडीएम मीना मसराम, एसीईओ एसएस मरावी सहित समस्त एसडीएम तथा संबंधित विभागों के जिलाधिकारी उपस्थित रहे।

            कलेक्टर ने निर्देशित किया कि राजस्व अधिकारी क्लस्टर स्तर पर शिविर आयोजित कर नामांतरण एवं बंटवारा के प्रकरणों की सुनवाई कर उनका निराकरण सुनिश्चित करें। इस संबंध में तिथिवार कार्यक्रम जारी करें। उन्होंने नामांतरण एवं बंटवारा के प्रकरणों की एंट्री पूर्ण होने तक एसडीएम एवं तहसीलदारों के वेतन रोकने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा तहसील स्तर पर कोटवारों की बैठक आयोजित कर नामांतरण एवं बंटवारा के प्रकरणों में उनका सहयोग प्राप्त करें। जनसेवा अभियान की विभागवार समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने निर्देशित किया कि जितने भी आवेदन प्राप्त हुए हैं तत्काल पोर्टल पर दर्ज कर उनके समुचित निराकरण की कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक पात्र हितग्राही का आयुष्मान पंजीयन करें। ग्राम रोजगार सहायक से भी पंजीयन कार्य कराएं। स्कूल शिक्षा विभाग तथा महिला एवं बाल विकास विभाग का अमला हितग्राहियों को लोकसेवा केन्द्र तक मोबीलाईज करें। नगरीय क्षेत्र में पीओ डूडा तथा ग्रामीण क्षेत्र में सीईओ जनपद एवं एसडीएम समीक्षा करें। इसी प्रकार नवीन दर्ज बच्चों के जाति प्रमाण पत्र बनाने की कार्यवाही जल्द पूर्ण करें। पुराने दर्ज बच्चे जिनके जाति प्रमाण पत्र नहीं बने हैं जल्द बनवाएं। श्रीमती सिंह ने जाति प्रमाण पत्र का कार्यक्रम होने तक सभी बीआरसी का वेतन रोकने के निर्देश दिए।

            कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि पेंशन संबंधी आवेदनों का सीईओ जनपद स्वयं मॉनिटरिंग करें। सामाजिक न्याय विभाग से जुड़े विषयों को प्राथमिकता में रखें। प्रधानमंत्री आवास की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि जिन हितग्राहियों ने कार्य प्रारंभ नहीं किया है उनकी स्वीकृति निरस्त करने की कार्यवाही करें। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास के लिए दैनिक लक्ष्य निर्धारित करने के निर्देश दिए। उन्होंने मवई, नैनपुर एवं जिला चिकित्सालय के निरीक्षण के दौरान निर्देशों के पालन के संबंध में जानकारी ली। बैठक में कलेक्टर ने निर्माण श्रमिकों के पंजीयन, कर्मकार मंडल, उज्ज्वला कनेक्शन, किसान क्रेडिट कार्ड, जीवन मृत्यु योजना, किसान सम्मान निधि, लाड़ली लक्ष्मी, आहार अनुदान, स्वामित्व योजना, सीएम राईज, खाद बीज की उपलब्धता, स्वनिधि योजना आदि की विस्तार से समीक्षा करते हुए आवश्यक निर्देश दिए एवं मध्यप्रदेश स्थापना दिवस के अवसर पर 1 से 7 नवम्बर तक आयोजित होने वाले कार्यक्रम के तैयारियों के संबंध में भी चर्चा की।

 

अनुपस्थित एवं लापरवाहों के वेतन काटने के निर्देश

 

            बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने कहा कि सीएम हेल्पलाईन शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता का कार्यक्रम है इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने समयसीमा में जवाब प्रस्तुत नहीं करने अथवा जवाब संतोषजनक नहीं होने पर संबंधित अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिस अधिकारी ने जवाब प्रस्तुत करने में जितने दिन का विलंब किया है उतने दिवस का वेतन काटने की कार्यवाही करें। कलेक्टर ने बिना अनुमति अथवा सूचना के बैठक में अनुपस्थित रहने वाले अधिकारियों का भी अवैतनिक करने के निर्देश दिए।

 

छापामार शैली में करें निरीक्षण

 

            बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि जनस्वास्थ्य से संबंधित दुकानों पर छापामार शैली में निरीक्षण करें। उन्होंने कहा कि चाट, कचौड़ी, पकोड़े सहित अन्य खाद्य सामग्रियों की दुकानों की नियमित रूप से सेम्पलिंग करें। दुकानों में स्वच्छता का ध्यान रखें। कलेक्टर ने खाद्य सामग्री बेचने वालों की कार्यशाला आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि साईट्रिक एसिड सहित अन्य रसायन बेचने वाले प्रतिष्ठानों की भी आकस्मिक जांच करें। किसी भी प्रकार की लापरवाही पाए जाने पर सख्त कार्यवाही करें।

No comments:

Post a Comment