जिला अधिकारी का रहमोकरम ईद की चाँद बनी ब्लाक समन्वयक,लूट सको तो लूट... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Friday, September 30, 2022

जिला अधिकारी का रहमोकरम ईद की चाँद बनी ब्लाक समन्वयक,लूट सको तो लूट...


रेवांचल  टाइम्स - मध्यप्रदेश सरकार जन अभियान परिषद में पानी की तरह पैसा  बहा रही यह जन जन तक पहुंचने वाला  परिषद जमीनी  हकीकत शिव के राज को तबाह  करने में आमादा है जिला अधिकारी  से लेकर ब्लाक समन्यवक तक  झूठे  आंकड़े भेज शिव सरकार के आँखों में मिर्ची भुरक लूट खसोट की निति अपनाये है सरकार आँख बंद कर विश्वास में पैसा पानी की तरह बहा रही है आदिवासी बाहुल्य छेत्र की जनता बेहद दुःख प्रकट कर रही है कहती भी है  शिवराज जी मंच में एक बार सस्पेंड  करते है इनकी भी जाँच करे बड़ा घपला उजागर होगा बताया गया ब्लाक समन्वयक को जन जागरूकता फिल्ड वर्क के लिए पगार दी जाती है महोदया जी घर पर ही बैठ कर पूरा वर्क कर वाहवाही लूट रही है स्पस्ट है की जिला अधिकारी का रहमोकरम की कृपा भरपूर बरस रही है नियमा अनुसार मुख्यालय में रहकर  सेवा  दे जानकार बताते है यह मुख्यालय में नहीं रहती हफ्ते में ईद के चाँद की तरह नजर आती है जानकर बताते है इनके कार्यालय का पता नहीं है जबकि सरकार कर्यालय का पैसा देती है यह जाँच का विषय है बताया गया जब  से यह संस्था का संचालन हुआ है तब से  जन अभियान परिषद का ठिकाना जनपद  था अभी तक पता  नहीं चला की जनपद में किस रूम में महोदया  जी  कार्यालय  बना कर सरकार के जनता जनार्जन को सरकार के जनकल्याणकारी  प्रचार प्रसार ये जनता की हक की लड़ाई  लड़ी गई यह सब जाँच का विषय   है जानकारी मिल रही है महीने भर पहले  पुराने तहसील कार्यालय में जन अभियान  परिषद का कार्यालय खुला है सुनहरे  अक्छरो में नाम अंकित है देख कर कोई  भी कह देगा कबाड़ खाना है पर परिषद  सरकार के पैसो का इतंजार कर रंग रोगन  से बचा पैसा से  दिवाली के फटाके फोड़ने का बेसब्री से इंतजार कर रही है!

No comments:

Post a Comment