अपने घर में इस जगह पर छिड़के हल्दी वाला पानी, मां लक्ष्मी बरसाएंगी दोनों हाथों से धन - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Saturday, August 13, 2022

अपने घर में इस जगह पर छिड़के हल्दी वाला पानी, मां लक्ष्मी बरसाएंगी दोनों हाथों से धन



चाहे वैज्ञानिक हो या पंडित जी, उन सभी का मत यह होता है कि हमें अपने आसपास सफाई रखनी चाहिए. यह न केवल सेहत के लिए अच्छा होता है बल्कि सफाई से हमारा वास्तु भी ठीक रहता है. वहीं व्यक्ति जल्दी तरक्की भी पाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं यदि अपने मुख्य द्वार पर पानी से छिड़काव किया जाए तो कई फायदे हो सकते हैं. जी हां, आज का हमारा लेख इसी विषय पर है. आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि अपने मुख्य द्वार पर पानी से छिड़काव करने पर कौन-कौन से फायदे हो सकते हैं और किस प्रकार का पानी हमें इस्तेमाल में लेना चाहिए. पढ़ते हैं आगे…
पानी का छिड़काव करनाबता दें कि पानी का छिड़काव करने से न केवल साफ-सफाई बनी रहती है बल्कि ऐसा करने से घर में सुख समृद्धि भी आती है. ऐसे में लोग अपने मुख्य द्वार के सामने पानी से छिड़काव करें. ऐसा करने से कई फायदे हो सकते हैं.
यदि आप तांबे की लौटे से मुख्य द्वार के सामने छिड़काव करते हैं तो ऐसा करना भी अत्यंत शुभ माना जाता है. मान्यता है कि इससे न केवल माता लक्ष्मी अपनी कृपा बरसाती हैं बल्कि ऐसा करना सेहत के लिए अच्छा होता है.
हल्दी के पानी से अपने आसपास छिड़काव करने से आसपास मौजूद कीटाणु भी नष्ट हो जाते हैं और इससे अलग धन-धान्य की वृद्धि होती है.
यदि आप अपने आसपास हल्दी के पानी से छिड़काव करते हैं तो ऐसा करने से नकारात्मक ऊर्जा हमारे आसपास से हटती है. साथ ही हल्दी के पानी से छिड़काव करने पर उन्नति भी होती है.
अपने आसपास व्यक्ति को एक बार नमक के पानी से भी छिड़काव करना चाहिए. नमक के पानी से छिड़काव करने पर भी नकारात्मकता दूर होती है. इसके अलावा नमक के पानी से पनप रहे परजीवी भी खत्म हो जाते हैं.

No comments:

Post a Comment