1008 करोड़ से सागर जबलपुर रोड़ पर पड़ने वाले नौरादेही अभ्यारण्य में 20 किमी लंबा लाइट एंड साउंड प्रूफ एलिवेटेड कॉरिडोर बनेगा वन्यप्राणी रहेंगे सुरक्षित अभ्यारण्य में रहेगा मूवमेंट... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Wednesday, August 3, 2022

1008 करोड़ से सागर जबलपुर रोड़ पर पड़ने वाले नौरादेही अभ्यारण्य में 20 किमी लंबा लाइट एंड साउंड प्रूफ एलिवेटेड कॉरिडोर बनेगा वन्यप्राणी रहेंगे सुरक्षित अभ्यारण्य में रहेगा मूवमेंट...









रेवांचल टाईम्स - सौगात- चीता प्रोजेक्ट के लिए रहेगा बड़ा प्लस प्वाइंट वाइल्ड लाइफ कॉरिडोर भी बना रहेगा-


विशाल रजक तेन्दूखेडा!- तीन जिले की सीमा में फैले हुए प्रदेश के सबसे बड़े नौरादेही अभ्यारण्य में जहां एक लगातार बाघों का कुनबा बढ़ रहा है और12 बाघों की दहाड़ से गूंज रहा है तो वहीं अब वन्यजीवों की सुरक्षा को लेकर एलिवेटेड कॉरिडोर का निर्माण होने जा रहा है दरअसल नौरादेही अभ्यारण्य में 20 किलोमीटर एरिया में लाइट एंड साउंड प्रूफ एलिवेटेड कॉरिडोर बनाया जाएगा जिससे वन्यप्राणियों की रोड़ एक्सीडेंट में मौत नहीं होगी पीडब्ल्यूडी मंत्री  गोपाल भार्गव के प्रस्ताव पर केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी ने  20 किलोमीटर लंबे एलिवेटेड कॉरिडोर को बनाने की मंजूरी दे दी है लंबे समय से यहां कॉरिडोर बनाने की मांग की जा रही थी 1008 करोड़ रुपए के इस प्रोजेक्ट की अभी अनुमानित लागत अधिकारियों द्वारा तय की गई है  जबलपुर सागर रोड़ पर नौरादेही अभ्यारण्य की सीमा के झापन रेंज के गेट से हिनौती एंट्री गेट तक यह एलिवेटेड कॉरिडोर बनाया जाएगा भास्कर ने कुछ समय पहले ही इस रोड़ पर एक्सीडेंट में वन्यप्राणियों की हो रही मौत को लेकर खबर प्रकाशित की थी  20 किलोमीटर एरिया में 165 स्पीड ब्रेकर होने से वाहनों की गति भी धीमी रहती है एलिवेटेड कॉरिडोर बनने से वन्यप्राणियों की मौत भी नहीं होगी और नौरादेही अभ्यारण्य क्षेत्र से निकलने वाले वाहनों की गति भी बढ़ेगी यह कॉरिडोर रोड़ से करीब 4 मीटर ऊंचा और लाइट एंड साउंड प्रूफ रहेगा यहां से निकलने वाले वाहनों की आवाज व लाइट जंगल में नहीं जाएगी इसके लिए साउंड बैरियर लगाए जाएंगे जो कॉरिडोर के दोनों और 20 किलोमीटर एरिया में पीवीसी की ग्रीन वॉल के रूप में रहेंगे कॉरिडोर के नीचे से वन्यप्राणी एक तरफ से दूसरी तरफ आसानी से आ जा सकेंगे नौरादेही अभ्यारण्य के डीएफओ सुधांशु यादव ने बताया कि एलिवेटेड कॉरिडोर बनने से यदि भविष्य में चीता प्रोजेक्ट के लिए नौरादेही में संभावनाएं तलाशी जाती है तो यह हमारे लिए एक बड़ा प्लस प्वाइंट रहेगा क्योंकि इससे चीता का मूवमेंट आसानी से हो सकेगा उन्होंने बताया कि मंत्री गोपाल भार्गव के लिए मैने भी लाइट एंड साउंड प्रूफ एलिवेटेड कॉरिडोर बनाने का सुझाव दिया था नौरादेही अभ्यारण्य के एसडीओ सेवाराम मलिक ने बताया कि यह कॉरिडोर बनने से वन्यप्राणियों का मूवमेंट नौरादेही अभ्यारण्य क्षेत्र में बना रहेगा अभी उन्हें रोड क्रांस करने में काफी दिक्कत होती है केंद्रीय मंत्री गड़करी ने प्रदेश में फ्लाईओवर आरओबी ब्रिज और एलिवेटेड कॉरिडोर के कुल 31 कार्यों को स्वीकृति दी है जिनकी कुल अनुमानित लागत 2393.64करोड़ है इसमें से सिर्फ सागर जबलपुर मार्ग से निकलने वाले नौरादेही के कॉरिडोर की लागत ही 1008 करोड़ रुपए है

वाहनों की चपेट में आने से मरते हैं छोटे बड़े वन्यजीव

अभ्यारण्य से गुजरी हुई सड़क पर वाहनों की चपेट में आने से हर साल बड़ी संख्या में छोटे बड़े वन्यजीवों के मरने की घटनाओं को देखते हुए मंत्री जी ने एलिवेटेड कॉरिडोर बनवाने की पहल की है इसे वन्यप्राणी संरक्षण की दिशा में अच्छा प्रयास माना जा रहा है नौरादेही अभ्यारण्य म़े  12बाघों के साथ बढ़ते हुए बाघों के कुनबे और अनुकूल परिस्थितियों को देखते हुए इसे प्रदेश सरकार द्वारा टाइगर रिजर्व के रूप में विकसित किया की भी कार्ययोजना पर वन विभाग द्वारा काम चल रहा है

 पेंच में बनाया गया लाइट एंड साउंड प्रूफ नेशनल हाईवे है उदाहरण

गौरतलब है कि इससे पहले सिवनी के पेंच नेशनल पार्क में एनएचएआई द्वारा बनाया गया लाइट एंड साउंड प्रूफ नेशनल हाईवे बेहद शानदार उदाहरण है यह रास्ता नेशनल पार्क से राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक7 से गुजरता है मोहगांव से खवासा तक 29 किमी का लाइट एंड साउंड प्रूफ नेशनल हाईवे तैयार किया गया है पेंच नेशनल पार्क से गुजरने वाले3.5किमी क्षेत्र में 14 एनिमल अंडरपास.58 पुलिया और 18 एनिमल क्रासिंग कलवर्ट बनाए गए हैं इसमें जानवरों के निकलने की अलग सुविधा और वाहनों के लिए निकलने अलग मार्ग है खास बात यह है कि भारी वाहनों का शोरगुल और लाइट जानवरों के लिए परेशानी का सबब ना बने इसलिए इसे लाइट एंड साउंड प्रूफ बनाया गया है और अब इसी तर्ज पर नौरादेही अभ्यारण्य में बनाया जाना है एलिवेटेड कॉरिडोर में वाहन ऊपर से गुजरेंगे जबकि नीचे वन्यजीव निर्भय होकर वन क्षेत्र में विचरण कर सकेंगे करीब 20 किमी हिस्से में एलिवेटेड कॉरिडोर बनने से हर साल होने वाली वन्यजीवों की मौत का आंकड़ा भी सिमट जाएगा जो कि जंगली जानवरों के संरक्षण की दिशा में अहम है होगा।


सिवनी नागपुर मार्ग की तर्ज पर फ्लाईओवर बनेगा मंत्री भार्गव

नौरादेही अभ्यारण्य के लिए सिवनी नागपुर मार्ग की तर्ज पर लंबा फ्लाईओवर बनाने का प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा था जो स्वीकृत हो गया है इसके बनने से अभ्यारण्य से आवागमन और भी आसान और मनोरम होगा जानवरों की सुरक्षा होगी और दुर्घनाएं भी रुकेंगी। 

          गोपाल भार्गव 

       पीडब्ल्यूडी मंत्री म.प्र. शासन

No comments:

Post a Comment