एकल अभियान आचार्यों का मासिक प्रशिक्षण वर्ग का समापन.....प्रशिक्षण में केवलारी पलारी पांडिया छपारा तीन संचों के आचार्य रहे उपस्थित - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Monday, March 14, 2022

एकल अभियान आचार्यों का मासिक प्रशिक्षण वर्ग का समापन.....प्रशिक्षण में केवलारी पलारी पांडिया छपारा तीन संचों के आचार्य रहे उपस्थित




रेवांचल टाईम्स  -  एकल विद्यालय का मासिक अभ्यास वर्ग संच केवलारी, पलारी ,पांडिछपारा, के आचार्यों का मासिक अभ्यास वर्ग के प्रथम दिन मां बड़ी खेरमाई मंदिर विद्यालय ग्राम बिनेकी मैं महा आरती के साथ प्रारंभ की गई दूसरे दिन बैठक में मुख्य अतिथि  थाना प्रभारी किशोर बामनकर व्यापारी संघ अध्यक्ष संतोष मोदी, संच समिति अध्यक्ष अशोक बंदेवार ,महिला समिति अध्यक्ष त्रिवेणी दमाहे, महिला समिति सचिव गायत्री झारिया ,उपाध्यक्ष रेखा नामदेव, संच समिति सदस्य बसंत यादव, राजेश बघेल आतिथ्य में संपन्न हुआ।

 बैठक में मां सरस्वती एवं भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण कर बैठक की शुरुआत की।

 समस्त अतिथियों का एकल विद्यालय के आचार्यों को मार्गदर्शन प्राप्त हुआ। समापन में संच समिति द्वारा अपने थाना क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्यकरने हेतु केवलारी थाना प्रभारी किशोर बावनकर का साल श्रीफल से सम्मान किया गया।   बैठक में संच समिति अध्यक्ष अशोक बदेंवार ने को कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि समाज को एकजुट रहकर समाज के लिए कार्य करें। बैठक का उद्देश्य गांव-गांव में वनवासी क्षेत्रों में पंचमुखी शिक्षा के माध्यम से समाज को जाग्रत करना, प्राथमिक शिक्षा, ग्राम विकास, स्वास्थ्य शिक्षा, जागरण शिक्षा, संस्कार शिक्षा पर कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया। उन्होंने कहा कि पूरे देश में 236 अंचल एवं 56000 कार्यकर्ता एकल विद्यालय अभियान में काम कर रहे हैं। देश की सुरक्षा हम तभी कर पाएंगे जब हम हमारे गांव के दूरदराज बस्ती में रहने वाले वनवासी भाइयों का विकास कर उनको संगठित कर उन्हें संस्कारित करेंगे। सभी विद्यालय गांव में पेड़ के नीचे गुरुकुल पद्धति से चलाए जाते हैं। सात प्रकार की शिक्षा विद्यालयों में दी जाती है। गांव में स्वच्छता बनी रहे पेड़-पौधे लगाने का कार्य भी हमारे कार्यकर्ता करते हैं। इस अवसर पर अंचल व्यास पंचम मर्सकोले ,मंजू उईके,संच व्यास दुर्गेशवरी लाजेवार,तेजलाल भलावी केवलारी संच प्रमुख राजकुमारी उईके के साथ तीनो संचो के आचार्य उपस्थीत रहे।


अखिल बन्देवार के साथ रेवांचल टाईम्स की एक रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment