फसल विविधिकरण पर फोकस करें, उन्नत कृषि के लिए किसानों को सहयोग करें सभी एफपीओ - कलेक्टर हर्षिका सिंह - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Thursday, February 3, 2022

फसल विविधिकरण पर फोकस करें, उन्नत कृषि के लिए किसानों को सहयोग करें सभी एफपीओ - कलेक्टर हर्षिका सिंह

कलेक्टर ने जिले में कार्यरत् एफपीओ की ली बैठक

 


मंडला 3 फरवरी 2022

                कलेक्टर हर्षिका सिंह ने जिले में कार्यरत् विभिन्न एफपीओ की वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से बैठक ली। बैठक में उन्होंने जिले के अलग-अलग विकासखण्डों में कार्य करने वाले एफपीओ के प्रतिनिधियों से बात करते हुए उनके द्वारा क्षेत्र विशेष में की जा रही फसल उत्पादन संबंधी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सभी एफपीओ फसल के विविधिकरण पर फोकस करते हुए उन्नत कृषि के लिए किसानों को प्रोत्साहित करें। एफपीओ किसान से चर्चा करते हुए उन्हें नवीन तकनीक एवं कृषि नवाचारों में सहयोग करें। श्रीमती सिंह ने एफपीओ ऑर्गेनिक सर्टीफिकेट देने के संबंध में जरूरी चर्चा की। उन्होंने एफपीओ से कहा कि जिले में ऑर्गेनिक कृषि को बढ़ावा दें तथा इसके लिए आत्मा एवं कृषि विभाग से समन्वय स्थापित करें।

                श्रीमती सिंह ने कहा कि एफपीओ सहित जिले के किसान उन्नत कृषि एवं नवाचारों पर विशेष ध्यान दें। उन्होंने अलग-अलग प्रोडक्टस के लिए क्लस्टर डेवलप करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कृषि एवं संबंधित विभागों को अच्छा कार्य करने वाले एफपीओ को प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आगामी दिनों में बेहतर कार्य करने वाले एफपीओ से समन्वय करते हुए कार्यशाला आयोजित करें तथा किसानों को भी आमंत्रित करें। श्रीमती सिंह ने बैठक में कोदो-कुटकी विकास परियोजना की जानकारी लेते हुए उससे जुड़े स्व-सहायता समूह के बारे में जाना। कलेक्टर ने योजना की समीक्षा करते हुए निर्देशित किया कि योजना अंतर्गत चयनित विकासखंडों के किसान समूहों एवं बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स को जिले में पूर्व से काम कर रहे सफल कृषक उत्पादक संघों में भ्रमण कराया जाये। उन्होंने शारदा संस्था एवं नाबार्ड डीडीएम को मवई एवं बीजाडांडी के कृषक उत्पादक संघों के साथ एक वर्चुअल मीटिंग कराने के निर्देश दिए। उन्होंने शारदा संस्था को निर्देशित किया कि 20 फरवरी तक संस्था द्वारा इक्वटी ग्रांट के लिए कार्यवाही पूर्ण की जाए तथा दोनों क्लस्टर में कोदो-कुटकी प्रोसेसिंग यूनिट के लिए कार्यवाही सुनिश्चित करें। कलेक्टर हर्षिका सिंह ने जिले में पूर्व से कार्य कर रहे किसान उत्पादक संगठनों को निर्देशित किया कि सभी अपने-अपने कार्यक्षेत्र में कोदो-कुटकी फसलों के क्लस्टर पर काम करें और इसके प्रोसेसिंग, पैकेजिंग एवं मार्केटिंग को सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि इनको ओर्गेनिक सर्टिफिकेशन एवं क्रॉप डायवर्सिफिकेशन पर कार्य करने के लिए आगे आने प्रेरित करें तथा कृषि विभाग को इस दिशा में कार्य करने के लिए वांछित सहयोग एवं मार्गदर्शन देने के निर्देश दिए। बैठक में नाबार्ड जिला विकास प्रबन्धक अखिलेश वर्मा (डीडीएम) ने योजना अंतर्गत अब तक प्रगति की जानकारी दी।

No comments:

Post a Comment