स्वच्छ भारत अभियान को पोती जा रही कालिख...... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Sunday, February 6, 2022

स्वच्छ भारत अभियान को पोती जा रही कालिख......




रेवांचल टाईम्स - सिवनी जनपद अंतर्गत ग्राम पंचायत कान्हीवाड़ा का मामला जनप्रतिनिधियों और कर्मचारियों की कार्यप्रणाली  से ग्रामीणों में आक्रोश साफ-सफाई नहीं होने से रोडों में बह रहा नालियों का गंदा पानी


सराय शॉपिंग कंपलेक्स बना शौचालय,गंदगी का अंबार,शराबियों का आतंक शोभा की सुपारी बने नवनिर्मित स्वच्छता परिसर से आ रही भ्रष्टाचार की दुर्गंध अव्यवस्था और ग्रामीणों के आरोपों पर सरपंच द्वारा दिया जा रहा है बेतुका जवाब हास्यास्पद कान्हीवाड़ा- सिवनी विकासखंड की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत कान्हीवाड़ा अपने संवेदनहीन,भ्रष्ट और लापरवाह जनप्रतिनिधियों व कर्मचारियों की वजह से हमेशा सुर्खियों में बनी रहती है। केंद्र सरकार की.अति महत्वपूर्ण श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूरबन मिशन योजना से  पंचायत को जोड़ा गया है किंतु यहां के निवासी गंदगी ,दूषित जल प्रदाय, चरमराई स्ट्रीट लाइट व्यवस्था  से परेशान और आक्रोशित हैं।


साफ सफाई ना होने से रोडों में बह रहा नालियों का पानी

सफाई ना होने की वजह से जगह जगह नालियां चोक और ओवरफ्लो हो रही है जिससे गंदा पानी रोडो में बह रहा है।


सराय शॉपिंग कंपलेक्स बना खुला शौचालय और शराबियों का अड्डा

कार्यालय ग्राम पंचायत कान्हीवाड़ा से महज 200 मीटर की दूरी पर स्थित   सराय शॉपिंग काम्पलेक्स खुला शौचालय बना हुआ है जहां रात के समय शराबियों का तांडव देखा जाता है। ग्रामीणों का आरोप है पंचायत द्वारा कोई साफ सफाई और देखरेख नहीं की जाती। उक्त शॉपिंग कॉन्प्लेक्स विगत 8 वर्ष पूर्व लगभग 50 लाख की लागत से बना  है जिसकी आज तक नीलामी नहीं हो पाई है।




नवनिर्मित स्वच्छता परिसर में जड़ा रहता है ताला, भ्रष्टाचार की आ रही दुर्गंध

ग्राम पंचायत कार्यालय के बिल्कुल सामने लाखों की लागत से सामुदायिक स्वच्छता परिसर का निर्माण कराया गया है। जिसमें ताला जड़ा हुआ है आमजन के उपयोग के लिए इसे खोला नहीं जाने के कारण लोग इसके आसपास गंदगी कर रहे हैं। निर्माण कार्य कि अगर जांच करा ली जाए तो इसमें भी भारी अनियमितता और लापरवाही निकल कर सामने आएगी।



दूषित जल प्रदाय से ग्रामीणों में आक्रोश,नहीं होती पानी की टंकी सफाई

ग्राम पंचायत कार्यालय से महज 500 मीटर की दूरी पर स्थित पानी की टंकी से दूषित जल प्रदाय किया जा रहा है साफ-सफाई रखरखाव की जवाबदारी से सरपंच पल्ला झाड़ रहे हैं। पाइपलाइन खुदाई के दौरान कबूतर बगले आदि के अवशेष मिलने से ग्रामीणों में आक्रोश है ग्रामीणों ने इसे स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ बताते हुए पंचायत के कर्णधारों पर आक्रोश व्यक्त किया है।


इन सब अव्यवस्थाओं और ग्रामीणों के आरोपों पर सरपंच द्वारा बेतुके जवाब देकर पल्ला झाड़ा जा रहा है। 

क्षेत्रीय लोगों ने उच्चाधिकारियों से लापरवाह जनप्रतिनिधियों और कर्मचारियों के विरुद्ध कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए व्यवस्थाएं दुरुस्त करने की मांग की है।


स्कूल प्रांगण में मृत पड़ी गाय, पंचायत ने नहीं कराई सफाई शिक्षक और छात्र हो रहे परेशान


जनपद प्राथमिक उर्दू एवं हिंदी शालाओं कि 10 कक्षाएं एक ही कक्ष में संचालित हो रही हैं। यहां लाखों की लागत से श्याम प्रसाद मुखर्जी डूबा मिशन अंतर्गत लाखों की लागत से कछुआ गति से निर्माण और मरम्मत कार्य कराया जा रहा है जिस कारण उपस्थिति निर्मित हुई है। स्कूल प्रांगण में गंदगी का अंबार है असामाजिक तत्वों द्वारा शराब खोरी मल मूत्र त्याग आदि किए जाने से विद्यार्थियों और शिक्षकों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। विगत 1 फरवरी से स्कूल प्रांगण में एक गाय अमृत पढ़ी हुई जिसकी सफाई हेतु शिक्षकों द्वारा ग्राम पंचायत को आवेदन किया गया किंतु ग्राम पंचायत के करणी धारू द्वारा उक्त गाय के ऊपर मिट्टी डाल दी गई अभी स्थिति यह है उक्त गाय को कुत्ते नोच रहे हैं जिससे बड़ी हृदय विदारक की स्थिति उत्पन्न हो गई। मीडिया के दखल के बाद पहुंचे संकुल प्राचार्य द्वारा जेसीबी बुलाकर अपने स्तर से उक्त गाय को दफनाने की बात कही गई है।


अखिल बन्देवार एंव संतोष बन्देवार के साथ रेवांचल टाईम्स की एक रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment