तीसरी लहर से जीतने सम्मिलित प्रयास जरूरी - श्री शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री ने की क्राईसिस मैनेजमेंट समिति के सदस्यों से चर्चा - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Friday, January 14, 2022

तीसरी लहर से जीतने सम्मिलित प्रयास जरूरी - श्री शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री ने की क्राईसिस मैनेजमेंट समिति के सदस्यों से चर्चा

मण्डला 14 जनवरी 2022



क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्यों से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोविड-19 के बढ़ते प्रकरण चिंता का विषय है। पर्याप्त सावधानी और सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि तीसरी लहर से जीतने के लिए सम्मिलित प्रयास आवश्यक हैं। कोविड गाईडलाईन का पालन कराते हुए क्राईसिस मैनेजमेंट समिति अपने क्षेत्र को कोरोना मुक्त बनाने का प्रयास करें। वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से संपन्न हुई इस बैठक में एनआईसी कक्ष से राज्यसभा सांसद संपतिया उईके, जिला पंचायत उपाध्यक्ष शैलेष मिश्रा, नगरपालिका उपाध्यक्ष गिरीश चंदानी, कलेक्टर हर्षिका सिंह, पुलिस अधीक्षक यशपाल सिंह राजपूत सहित संबंधित उपस्थित रहे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्यों से अपील करते हुए कहा कि वे अपने क्षेत्र में सतत नजर रखें, यदि किसी भी व्यक्ति सर्दी, खांसी, बुखार के लक्षण दिखते हैं तो तत्काल उसको आईसोलेट करते हुए उसकी सेम्पलिंग कराएं। उन्हांेने रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और एयरपोर्ट आदि स्थानों पर भी कोविड टेस्ट की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सेम्पलिंग बढ़ाएं तथा लक्ष्य के अनुरूप जांच सुनिश्चित करें। यदि कोई व्यक्ति पॉजीटिव मिलता है तो गंभीरता से कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग करें तथा संपर्क में आए व्यक्तियों की तत्काल सेम्पलिंग करें। श्री चौहान ने निर्देशित किया कि होम आईसोलेशन की अनुमति उन्हीं मरीजों को दी जाए जिनके घरों में गाईडलाईन के अनुसार पर्याप्त सुविधाएँ हैं। होम आईसोलेट व्यक्ति को दवाईयों की किट तत्काल पहुंचाएं। होम आईसोलेट व्यक्ति की सतत मॉनीटरिंग करें तथा उसकी हालत बिगड़ने पर उसे तत्काल कोविड केयर सेंटर में भर्ती करें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि फीवर क्लीनिक और अस्पतालों में दवाइयों की उपलब्धता की सतत मॉनीटरिंग सुनिश्चित की जाए। कम से कम एक माह की दवाओं की उपलब्धता रखें।  जाँच की रिपोर्ट 24 घण्टे के अंदर उपलब्ध कराएँ। ऑक्सीजन, एम्बूलेंस आदि की व्यवस्था पर विशेष ध्यान दें। जिला अस्पताल और मेडिकल कॉलेज की व्यवस्थाएं चाक-चौबंद रखें। सभी उपकरण और आवश्यक व्यवस्थाएं समय-समय पर चैक करते रहें। बैठक में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना के कारण लगाए जाने वाले प्रतिबंधों के संबंध में भी विस्तार से जानकारी दी।

 

वैक्सीनेशन में लापरवाही बर्दाश्त नहीं

 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने टीकाकरण की स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने  कहा कि वैक्सीनेशन के कार्य में लापरवाही बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी। घर-घर दस्तक देते हुए प्रत्येक पात्र व्यक्ति का कोविड टीकाकरण सुनिश्चित करें। वैक्सीन ही कोविड से सुरक्षा का मजबूत कवच है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि 15 से 18 वर्ष के बच्चों का कोविड टीकाकरण शत-प्रतिशत सुनिश्चित करें। उन्होंने जनसामान्य से मॉस्क लगाने, भीड़़ वाले आयोजन न करने, बार-बार हाथ धोने तथा सुरक्षित दूरी बनाए रखने का आव्हान किया। उन्होंने कहा कि मॉस्क को दिनचर्या का अंग बना लें।

No comments:

Post a Comment