कोविड की संभावित तीसरी लहर से बचाव के लिए मॉस्क जरूरी- श्री सिंह, प्रभारी मंत्री ने जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति की ली बैठक - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Tuesday, January 4, 2022

कोविड की संभावित तीसरी लहर से बचाव के लिए मॉस्क जरूरी- श्री सिंह, प्रभारी मंत्री ने जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति की ली बैठक

मण्डला 4 जनवरी 2022



खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री एवं मंडला जिले के प्रभारी मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह ने कोविड की संभावित तीसरी लहर की तैयारियों की समीक्षा एवं जिले में उपयुक्त इंतजामों की समीक्षा करने जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति के सदस्यों के साथ वीसी के माध्यम से बैठक ली। बैठक में उन्होंने कहा कि देश के साथ-साथ प्रदेश में भी कोविड का संक्रमण बढ़ रहा है। ऐसे में मंडला जिले में भी कोविड की संभावित तीसरी लहर से बचाव के लिए सभी जिलेवासी मॉस्क का अनिवार्य रूप से प्रयोग करें। श्री सिंह ने कहा कि मंडला जिले से लगे अन्य जिले एवं छत्तीसगढ़ की सीमा से आने वाले यात्रियों की कोविड जांच सुनिश्चित की जाए। उन्होंने जिले में आने वाले प्रवासियों की भी सतत रूप से कोविड टेस्टिंग कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि टेस्टिंग के साथ-साथ प्रवासियों की जानकारी भी संधारित रखी जाए। प्रभारी मंत्री ने जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति के सदस्यों एवं जनप्रतिनिधियों से भी आग्रह किया है कि अपने स्तर पर कोविड प्रोटोकॉल की जागरूकता प्रसारित करें। साथ ही ब्लॉक एवं पंचायत स्तरीय संकट प्रबंधन समिति के सदस्यों को पुनः एक्टिव करते हुए कोविड से बचाव के लिए प्रयास प्रारंभ करें।




 

श्री सिंह ने कहा कि जिला प्रशासन मॉस्क का उपयोग एवं सोशल डिस्टेसिंग का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराएं। उल्लंघन करने वाले पर कार्यवाही करें। उन्हांेने जिले में 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों का तेजी से कोविड वैक्सीनेशन कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि स्कूलों एवं आंगनवाड़ी केन्द्रों के माध्यम से मैदानी स्तर पर बच्चों के कोविड वैक्सीनेशन संबंधी जानकारी का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कराएं। प्रभारी मंत्री ने कान्हा क्षेत्र में भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन एवं सेम्पलिंग के निर्देश दिए। बैठक में राज्यसभा सांसद ने कहा कि कोविड की संभावित तीसरी लहर के दौरान एनजीओ, स्वयंसेवी संस्थाएं तथा वॉलेंटियर्स जनजागरूकता का प्रभावी सहयोग करें। साथ ही व्यापारी, शिक्षक एवं जनप्रतिनिधियों के माध्यम से मॉस्क के उपयोग एवं सोशल डिस्टेसिंग के पालन की समझाईश दी जाए। नगरपालिका अध्यक्ष पूर्णिमा शुक्ला ने नगरीय क्षेत्रों मंे आयोजित होने वाले मेलों में कोरोना गाईडलाईन का पालन संबंधी सुझाव दिए। इसी प्रकार पुलिस अधीक्षक यशपाल सिंह राजपूत ने सभी एसडीएम, पुलिस एवं थाना प्रभारियों को जनजागरूकता के लिए फुटमार्च करने के निर्देश दिए।



कलेक्टर ने दी जिला प्रशासन की तैयारियों की जानकारी



जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति की बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने कोविड से बचाव के लिए जिला प्रशासन द्वारा की जा रही तैयारियों की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने मंडला के आसपास के जिलों में बढ़ते संक्रमण के चलते जिला प्रशासन द्वारा बनाई गई रणनीति के बारे में भी बताया। उन्होंने बताया कि 5 जनवरी को 11 बजे जिला मुख्यालय के चिलमन चौक के साथ-साथ सभी तहसीलों में भी कोविड प्रोटोकॉल की जानकारी, समझाईश के लिए प्रशासन द्वारा अभियान प्रारंभ किया जाएगा। कलेक्टर ने जिले के कोविड केयर सेंटर, टेस्टिंग, ऑक्सीजन प्लांट, रेंडम सेम्पलिंग आदि के बारे में विस्तृत जानकारी दी। बैठक में विधायक निवास डॉ. अशोक मर्सकोले, जिला पंचायत उपाध्यक्ष शैलेष मिश्रा, न.पा. उपाध्यक्ष गिरीश चंदानी, एडीएम मीना मसराम, सीईओ जिला पंचायत सुनील दुबे, एएसपी श्री कंवर, श्री भीष्म द्विवेदी एवं संकट प्रबंधन समिति के सदस्य उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment