MP में हाड़ कंपाने वाली सर्दी का कहर: कई जिलों में पाला पड़ने की संभावना, शीतलहर का ऑरेंज अलर्ट जारी - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Tuesday, December 21, 2021

MP में हाड़ कंपाने वाली सर्दी का कहर: कई जिलों में पाला पड़ने की संभावना, शीतलहर का ऑरेंज अलर्ट जारी



भोपाल। एमपी में कड़ाके की सर्दी पड़ रही है। सोमवार को एमपी के 24 जिले शीतलहर की चपेट में रहे। ग्वालियर, चंबल, सागर और भोपाल में उत्तरी हवाओं के बढ़ने के कारण शीतलहर चलती रही। इन शहरों के असर से होशंगाबाद इंदौर और जबलपुर संभाग में भी तापमान में बड़ी गिरावट दर्ज की गई। एमपी में सबसे कम तापमान पर्यटन स्थल पचमढ़ी में दर्ज हुआ। पचमढ़ी में न्यूनतम तापमान -0.5 डिग्री दर्ज हुआ। उमरिया नौगांव में पारा 1.2 डिग्री और ग्वालियर में तापमान 1.8 डिग्री दर्ज हुआ है। 3 दिन से पड़ रही कड़ाके की सर्दी ने एमपी में नया रिकॉर्ड बनाया है।


भोपाल में पारा 3.4 डिग्री पहुंच गया। वहीं पचमढ़ी सबसे ज्यादा ठंडा रहा। पचमढ़ी में न्यूनतम तापमान माइनस 0.5 डिग्री रहा.। भोपाल में 3 दिन से पड़ रही कड़ाके की ठंड ने नया रिकॉर्ड बनाया है। भोपाल में रात का पारा 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो पिछले 10 सालों में सबसे कम रहा। पारा 55 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ने की तरफ बढ़ रहा है। मौसम केंद्र के दस्तावेजों के मुताबिक भोपाल में 1966 में दिसंबर में न्यूनतम तापमान 3.1 पहुंच गया था।

भोपाल, होशंगाबाद, इंदौर, उज्जैन, रीवा, शहडोल, सागर, जबलपुर, ग्वालियर और चंबल संभाग।


रीवा संभाग के जिलों तथा जबलपुर, बालाघाट, सिवनी, नरसिंहपुर, मंडला, बैतूल, रायसेन, सीहोर, इंदौर, धार, उज्जैन, शाजापुर और दतिया।


प्रदेश में भोपाल, उज्जैन, इंदौर, ग्वालियर, सागर, रीवा, शहडोल संभाग में शीत लहर चलने का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में अगले 2 से 3 दिन तक सर्दी का असर रहने वाला है। भोपाल में दो तरफ कश्मीर और राजस्थान से बर्फीली हवा आ रही है। राजस्थान से हवा टीवी शिवपुर कला से राजगढ़ होती हुई भोपाल पहुंच रही है। उत्तरी राजस्थान में कई स्थानों पर पारा शून्य से नीचे पहुंच गया है।



कृषि उप संचालक छिंदवाड़ा जितेंद्र सिंह ने बताया- जहां भी तापमान 5 डिग्री से कम होगा, वहां पाला लगने की आशंका है। खासकर दलहनी फसलों व सब्जियों में। अगर तापमान 2-3 डिग्री हुआ तो नुकसान होता है। बचाव के लिए खेतों में सिचांई करें, सल्फर वाले फर्टिलाइजर के छिड़काव के साथ ही धुआं करते रहें।



मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार रीवा, उमरिया, छतरपुर, टीकमगढ़, मंडला, बालाघाट, सीहोर, भोपाल, रायसेन, भिंड, मुरैना, श्योपुर, ग्वालियर, गुना, शिवपुरी एवं दतिया जिला में पाला पड़ने की चेतावनी जारी की गई।

No comments:

Post a Comment