20 नवंबर से शुरु हो रहा है मार्गशीर्ष मास, जानिए इस माह के मुख्य व्रत-त्योहारों की तारीखें - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Thursday, November 18, 2021

20 नवंबर से शुरु हो रहा है मार्गशीर्ष मास, जानिए इस माह के मुख्य व्रत-त्योहारों की तारीखें



चंद्रमास में नए माह का आरंभ पूर्णिमा तिथि के अनुसार होता है। हर माह पूर्णिमा तिथि के बाद अगले दिन प्रतिपदा से नए मास का आरंभ हो जाता है। इस बार 19 नबंवर 2021 को कार्तिक पूर्णिमा पड़ रही है।

इसके अगले दिन यानी 20 नबंवर से मार्गशीर्ष मास का आरंभ होगा, जिसका समापन 19 दिसंबर 2021 को होगा। यह हिंदू वर्ष का नौंवा माह होता है। प्रत्येक चंद्रमास का नाम उसके नक्षत्र के आधार पर रखा जाता है। मार्गशीर्ष माह में मृगशिरा नक्षत्र होता है इसलिए इसे मार्गशीर्ष कहा जाता है। आम बोलचाल की भाषा में इसे अगहन मास के नाम से भी जाना जाता है। इस माह में भगवान कृष्ण की उपासना करने का विशेष महत्व माना गया है। मार्गशीर्ष माह में भी कई मुख्य व्रत-त्योहार पड़ेंगे। तो चलिए जानते हैं मार्गशीर्ष मास में पड़ने वाले मुख्य व्रत व त्योहारों की तारीखें, ताकि आपको किसी भी व्रत आदि की तारीख को लेकर कोई असमंजस की स्थिति न रहे।

मार्गशीर्ष मास 2021 के प्रमुख व्रत और त्योहार
21 नवंबर दिन शनिवार- रोहिणी व्रत
23 नवंबर दिन मंगलवार- गणाधिप संकष्टी गणेश चतुर्थी
27 नवंबर दिन शनिवार- मासिक कालाष्टमी, कालभैरव जयंती
30 नवंबर दिन मंगलवार- उत्पन्ना एकादशी,
02 दिसंबर दिन गुरुवार- प्रदोष व्रत, मासिक शिवरात्रि,
04 दिसंबर दिन शनिवार- अमावस्या तिथि, सूर्य ग्रहण
05 दिसंबर दिन रविवार- मार्गशीर्ष शुक्ल प्रतिपदा, हेमंत ऋतु, चंद्र दर्शन
07 दिसंबर दिन मंगलवार- मार्गशीर्ष शुक्ल चतुर्थी, विनायक चतुर्थी
08 दिसंबर दिन बुधवार- विवाह पंचमी
09 दिसंबर दिन गुरुवार- स्कंद षष्टी
11 दिसंबर दिन शनिवार- मासिक दुर्गाष्टमी व्रत
14 दिसंबर दिन मंगलवार- मोक्षदा एकादशी, गीता जयंती
15 दिसंबर दिन बुधवार- मतस्य द्वादशी
16 दिसंबर दिन गुरुवार- अनंग त्रयोदशी व्रत, प्रदोष व्रत , धनु संक्रांति
18 दिसंबर दिन शनिवार- सत्य व्रत, रोहिणी व्रत, पूर्णिमा व्रत, दत्तात्रेय जयंती
19 दिसंबर दिन रविवार- अन्नपूर्णा जयंती, मार्गशीर्ष पूर्णिमा, त्रिपुर भैरवी जयंती

No comments:

Post a Comment