CM शिवराज सिंह चौहान ने दी विश्व बाल दिवस की शुभकामनाएं - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Saturday, November 20, 2021

CM शिवराज सिंह चौहान ने दी विश्व बाल दिवस की शुभकामनाएं



भोपाल: हर साल 20 नवंबर को विश्व बाल दिवस मनाया जाता है। ऐसे में आज भी यह दिवस धूम-धाम से मनाया जा रहा है। आपको बता दें कि इस दिन को मनाने का उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय एकजुटता को बढ़ावा देना, दुनिया भर में बच्चों के बीच जागरूकता और बच्चों के कल्याण के लिए काम करना है। ऐसे में आज विश्व बाल दिवस के मौके पर मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने ट्वीट किया है और सभी बच्चों को बधाई दी है।

आप देख सकते हैं उन्होंने ट्वीट कर लिखा है- 'विश्व बाल दिवस की सभी बच्चों को हार्दिक बधाई व शुभाशीष। बच्चे देश का भविष्य हैं। आइए, इनके अधिकारों के प्रति जागरूक रहने और इनके कल्याण हेतु हर संभव प्रयास करने का संकल्प लें। बच्चे पढ़ें, आगे बढ़ें व अपने सपनों का भविष्य गढ़ें, यही शुभकामना है।' वहीं उन्होंने कू कर लिखा है- 'देश और दुनिया के बच्चे सपने देखें और उसे साकार कर सकें, इसके लिए हम सबको सहयोग देना होगा। इन्हें प्रोत्साहित करने के साथ मार्गदर्शन देना होगा।'

इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा कि, 'हर बच्चे को सुखद व श्रेष्ठ जीवन मिले, निर्धन परिवारों के बच्चे भी अपने सपने साकार कर सकें, इसके लिए सबको प्रयास करना होगा। आइये,इनकी शिक्षा-दीक्षा की व्यवस्था करें, इन्हें सुपोषित करें, ताकि ये भी समर्थ बन सकें। विश्व के सभी बच्चों को मेरा स्नेह और आशीर्वाद!' आप सभी को हम यह भी बता दें कि विश्व बाल दिवस को संयुक्त राष्ट्र द्वारा साल 1954 में 20 नवंबर को ‘यूनिवर्सल चिल्ड्रन्स डे’ के तौर पर मनाये जाने की शुरूआत की गयी थी। वैसे बच्चों के लिए बाल दिवस का विशेष महत्व है क्योंकि वही है जो देश का भविष्य होते हैं।

No comments:

Post a Comment