पत्नी से करता है इतना बेइंतहा प्यार, उसके लिए जीते जी बनवा दिया 'ताजमहल' - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Monday, November 22, 2021

पत्नी से करता है इतना बेइंतहा प्यार, उसके लिए जीते जी बनवा दिया 'ताजमहल'



रेवांचल टाईम्स। MP के बुरहानपुर में एक शख्स ने अपनी पत्नी को ताजमहल की तरह दिखने वाला घर बनाकर तोहफे में दिया है। ताजमहल की तरह दिखने वाले इस घर में 4 बेडरूम, एक किचन, एक लाइब्रेरी और एक मेडिटेशन रूम है। घर को बनाने में 3 साल का लंबा समय लगा। ताजमहल जैसे घर का क्षेत्रफल मीनार सहित 90×90 है। आगरा के कारीगर भी बुलाए गए। बुरहानपुर के शिक्षाविद आनंद प्रकाश चौकसे ने ताजमहल जैसा घर अपनी पत्नी मंजूषा को तोहफे में दिया है। यह असली ताजमहल की तरह ही दिखने वाला 4 बेडरूम का घर है। इस घर में 4 बेडरूम, एक किचन, एक लाइब्रेरी और एक मेडिटेशन रूम है। घर को बनाने में 3 साल लगे। इस ताजमहल जैसे घर में असली ताजमहल की ही तरह मीनारें भी हैं। घर की फ्लोरिंग राजस्थान के मकराना और फर्नीचर मुंबई के कारीगरों से तैयार करवाया गया है। यही नहीं, घर के अंदर और बाहर, इस तरह से लाइटिंग की गई है कि रात के अंधेरे में भी यह घर एकदम असली ताजमहल की तरह ही चमकता दिखाई देता है।


दरअसल, बुरहानपुर के रहने वाले आनंद चौकसे को हमेशा इस बात की कसक रहती थी कि दुनिया भर में प्यार की निशानी के तौर पर मशहूर ताजमहल उनके शहर बुरहानपुर में क्यों नहीं है। आपको बता दें कि मुगल इतिहास में इस बात का जिक्र है कि शाहजहां की बेगम मुमताज़ की मौत बुरहानपुर में हुई थी और शाहजहां ने ताजमहल बनवाने के लिए ताप्ती नदी के किनारे को चुना था। हालांकि, बाद में आगरा में ताजमहल बनवाया गया। अब अपनी इस कसक को दूर करने के लिए आनंद चौकसे ने अपनी पत्नी को ताजमहल जैसा ही एक घर बनाकर तोहफ में दिया। ताजमहल जैसा घर बनाने वाले कंसलटिंग इंजीनियर प्रवीण चौकसे ने जानकारी देते हुए बताया कि आनंद चौकसे ने उन्हें ताजमहल जैसा मकान बनाने का कठिन टास्क दिया था।प्रवीण चौकसे का कहना है कि खुद आनंद चौकसे और उनकी पत्नी मंजूषा चौकसे आगरा के ताजमहल को देखने गए। उसका बारीकी से अध्ययन किया और इंजीनियरों को ताजमहल जैसा ही घर बनाने को कहा। इंजीनियर प्रवीण चौकसे ने भी आगरा जाकर ताजमहल देखा उसकी तकनीक और क्षेत्रफल का बारीकी से अवलोकन किया।

प्रवीण चौकसे के मुताबिक यह ताजमहल जैसे घर का क्षेत्रफल मीनार सहित 90X90 का है। बेसिक स्ट्रक्चर 60X60 का है। डोम 29 फीट ऊंचा रखा गया है। ताजमहल जैसे घर में एक बड़ा हॉल, 2 बेडरूम नीचे, 2 बेडरूम ऊपर है। एक किचन, एक लाइब्रेरी और एक मेडिटेशन रूम बनाया गया।घर के अंदर की गई नक्काशी के लिए बंगाल और इंदौर के कलाकार से मदद ली गई है। घर की फ्लोरिंग राजस्थान के मकराना के कारीगरों से कराई गई है। इनले का काम आगरा के उत्कृष्ट कारीगरों से कराया गया है।घर में लगने वाले फर्नीचर का काम सूरत और मुंबई के कारीगरों ने तैयार किया है। इस घर को इंडियन कंस्ट्रक्टिंग अल्ट्राटेक आउट स्टैंडिंग स्ट्रक्चर ऑफ एमपी का अवॉर्ड मिल चुका है।

No comments:

Post a Comment