याद रहेगा गोंड महारानी दुर्गावती, रानी कमलापति का बलिदान : पीएम मोदी - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Monday, November 15, 2021

याद रहेगा गोंड महारानी दुर्गावती, रानी कमलापति का बलिदान : पीएम मोदी



भोपाल । प्रधानमंत्री मोदी ने आज कहा कि आजादी के बाद देश में पहली बार इतने बड़े पैमाने पर पूरे देश के जनजातीय समाज की कला, संस्कृति, स्वतंत्रता आंदोलन और राष्ट्रनिर्माण में उनके योगदान को गौरव के साथ याद किया जा रहा है, उनका सम्मान किया जा रहा है। पीएम ने कहा कि गोंड महारानी वीर दुर्गावती का शौर्य हो या फिर रानी कमलापति का बलिदान, देश इन्हें भूल नहीं सकता। वीर महाराणा प्रताप के संघर्ष की कल्पना उन बहादुर भीलों के बिना नहीं की जा सकती जिन्होंने कंधे से कंधा मिलाकर लड़ाई लड़ी और बलिदान दिया। यह बात सोमवार को 'जनजातीय गौरव दिवस' कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए भोपाल के जंबूरी मैदान पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कही। इसके पूर्व मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जंबूरी मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जनजातीय प्रतीकों बैगा माला, पगड़ी, जैकेट एवं तीरकमान भेंटकर पारंपरिक रूप से उनका स्वागत किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने जनसभा को भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि मैं आज भगवान बिरसा को प्रणाम करता हूं क्योंकि उन्होंने हमारे आदिवासी जनजातीय समाज को अंग्रेजों के शोषण से मुक्ति दिलाने के लिए जबरदस्त संघर्ष किया था और अपने देश की आजादी के लिए अपना बलिदान दिया था। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि एक जमान था, जब सिर्फ एक पार्टी राज करती थी, उसने एक खानदान के अलावा आजादी की लड़ाई का योगदान और श्रेय किसी और को नहीं दिया। लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने भगवान बिरसा का सम्मान किया, जो सम्पूर्ण जनजाति का सम्मान है। इस दौरान उन्होंने कहा कि आप सभी को भगवान बिरसा मुंडा के जन्मदिन पर बहुत बहुत शुभकामनाएं। आज का दिन पूरे देश के लिए, पूरे जनजातीय समाज के लिए बहुत बड़ा दिन है। आज भारत अपना पहला जनजातीय गौरव दिवस मना रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आदिवासी समाज के लिए शिवराज सरकार ने आज कई बड़ी योजनाओं का शुभारंभ किया है। उन्होंने कहा कि आदिवासी अपने नाच-गाने में, अपने गीतों में, अपनी परंपराओं में जीवन का उद्देश्य बखूबी प्रस्तुत करते हैं। मैंने जब गीत के शब्दों को बारीकी से देखा तो मैं गीत को तो नहीं दोहरा रहा। लेकिन आपने जो कहा शायद देशभर के लोगों को आपका एक-एक शब्द जीवन जीने का कारण और इरादा जीवन जीने के लिए बखूबी प्रस्तुत करता है। उन्होंने कहा कि मुझे इस बात का संतोष है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत मुफ्त राशन मिलने से कोरोनाकाल में गरीब आदिवासी परिवारों को इतनी बड़ी मदद मिली। अब जब गांवों में आपके घर के पास सस्ता राशन पहुंचेगा तो आपका समय भी बचेगा और अतिरिक्त खर्च से भी मुक्ति मिलेगी। आयुष्मान भारत योजना से पहले ही अनेक बीमारियों का मुफ्त इलाज आदिवासी समाज को मिल रहा है, देश के गरीबों को मिल रहा है। मुझे खुशी है कि मध्य प्रदेश में जनजातिय परिवारों में तेजी से मुफ्त टीककरण भी हो रहा है। दुनिया के पढ़े लिखे देशों में टीकाकरण को लेकर सवालियां निशान लगाने की खबरें आती हैं लेकिन मेरी आदिवासी भाई-बहन टीकाकरण को समझती भी हैं। स्वीकारती भी हैं और देश को बचाने में अपनी भूमिका भी निभा रही हैं। उन्होंने कहा कि 100 साल की सबसे बड़ी महामारी से सारी दुनिया लड़ रही है। सबसे बड़ी महामारी से निपटने के लिए जनजातिय समाज के सभी साथियों का टीकाकरण के लिए आगे आना सचमुच में अपने आप में गौरवपूर्ण घटना है। पढ़े-लिखे शहरों में रहने वालों को मेरे इन आदिवासी भाईयों से बहुत कुछ सीखना चाहिए।

गोंडवाना राज्य के वक्त एक घड़ी की रानी कमलापति थी: शिवराज
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जंबूरी मैदान में ‘जनजातीय गौरव दिवस समारोह’ को संबोधित करते हुए कहा कि गोंडवाना राज्य के वक्त एक घड़ी की रानी कमलापति थी। जब अफगान से आए दोस्त मोहम्मद खान में रानी कमलापति का धोखे से राज छीन लिया। वहीं रानी कमलापति का सम्मान लौटाने के लिए पीएम मोदी का शिवराज ने आभार जताया। शिवराज सिंह ने कहा कि पीएम ने बिरसा मुंडा के जन्मदिन पर समारोह का आयोजन करवाने का निर्णय लिया है। प्रदेश की जनता की ओर से पीएम का स्वागत करना चाहता हूं। भोपाल से लेकर कई गढ़ की रानी कमलापति थी। और इसी लिए हबीबगंज का नाम मोदी ने रानी कमलापति के नाम पर रखा। इसी कड़ी में सीएम शिवराज ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा।
जनजातीय गौरव दिवस समारोह को कांग्रेस के फिजूलखर्ची बताने पर शिवराज का पलटवार किया। कांग्रेस आईफा जैसे आयोजन करके फिल्मी कलाकारों पर करोड़ों खर्च करती है। लेकिन बीजेपी सरकार ने जनजातीय गौरव दिवस मनाया, तो अब कांग्रेस पेट में दर्द हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षा के एक लव्य स्कूल खुलेगा, छात्रावास खुलेगा। यह सब कांग्रेस ने कभी नहीं दिए। सड़के कभी नहीं बनाए। बीजेपी ने बिजली लोगों को दिया। नीट की परीक्षा में बच्चे जा रहे उन्हें फ्री में कोचिंग दिया जा रहा है। पुलिस और आर्मी की भर्ती में भी कोचिंग दिया जाएगा। मुख्यमंत्री उद्धमी योजना शुरु कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने आदिवासियों का सम्मान बढ़ाया है : शिवराज
सीएम ने कहा कि रोटी कपड़ा मकान लोगों की जरूरत है। पीएम मोदी ने आदिवासियों का सम्मान बढ़ाया। यह गरीब और आदिवासियों की स्थिति को बदलने का अभियान है। अगर गरीबों का मसीहा कोई है, तो वो मोदी है। उन्होंने कहा कि आज कई योजनाओं की शुरुआत करने आए हैं। अनाज लेने दूर जाना पड़ता था, लेकिन अब राशन आपके गांव में मिलेगा। और ये अनाज वाहन के जरिए गांव-गांव में राशन पहुंचेगा। उन्होंने ‘राशन आपके ग्राम’ योजना का शुभारंभ किया गया। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी जनजातीय समुदाय के लिए ‘राशन आपके ग्राम’ योजना का शुभारंभ कर संबंधितों को वाहनों की चाबी सौंपी। योजना में ग्राम स्तर पर जनजातीय समुदाय को उचित मूल्य राशन प्रदाय किया गया। इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी दो व्यक्तियों की जेनेटिक काउंसलिंग कार्ड प्रदान कर मध्यप्रदेश सिकल सेल (हीमोग्लोबिनोपैथी) मिशन का शुभारंभ किया। मध्य प्रदेश ‘सिकल सेल उन्मूलन मिशन’ पर लघु फिल्म का प्रदर्शन भी किया जाएगा।

No comments:

Post a Comment