पंचतत्व में विलीन हुए भाजपा कार्यकर्ता शिव नंदा - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Tuesday, November 16, 2021

पंचतत्व में विलीन हुए भाजपा कार्यकर्ता शिव नंदा


रेवांचल टाइम्स  - अंजनियां जनजातीय गौरव दिवस में शामिल होने मंडला जिले के अंजनिया मंडल के ग्राम लफरा से गये बीजेपी कार्यकर्ता शिव नंदा का ह्रदय गति रुक जाने से स्वर्ग वास होगया था जिनका पार्थिव शरीर भोपाल के हमीदिया अस्पताल से एम्बुलेंस द्वारा सोमवार रात्रि 11 बजे लफरा पंहुचा जेसे ही पूर्व विधायक शिवराज शाह को पता चला मौके पर भोपाल में  तत्काल मौके पर विधायक शिवराज शाह (शिवा भैया) व बसंत मसराम पंहुच अपने सामने से सारी व्यवस्था करवा कर मंडला लफरा के लिए रवाना किया साथ ही शिवराज साह शिवा भैया के प्रयास से मुख्यमंत्री सहायता कोष से म्रतक की पत्नी के नाम दो लाख का चैक भी मिला लफरा में शामिल जिला उपाध्यक्ष अखिल सिहारे द्वारा फ्रीजर की व्यवस्था करवाई गई जिसमें शिव नंदा के पार्थिव शरीर को रखा गया मंगलवार सुबह  सांसद प्रतिनिधि जयुदत्त झा परिवार के बीच पंहुचकर अपनी संवेदना व्यक्त की 10 बजे स्व शिव नंदा की अंतिम यात्रा उनके निवास से प्रारंभ हुई भाजपा के ध्वज को पार्थिव शरीर के उपर रखा गया अंतिम यात्रा  में भाजपा जिला उपाध्यक्ष संदीप सीता शरण  अखिल सिहारे केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते के पुत्र वेदप्रकाश मंडल अंजनिया अध्यक्ष नीरज पटेल उपाध्यक्ष हरिश्चन्द्र चंद्रोल संजय श्रीवास्तव महेश पटेल सोनल पटेल सुरेश केवट राजु साहु ने स्व शिव नंदा के पार्थिव शरीर जो अंतिम यात्रा के विमान को कंधा दिया वंही  सेंकडो की संख्या में ग्रामीण क्षेत्र के बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ ग्रामीण उपस्थित रहे



No comments:

Post a Comment