जानबूझ कर नही की जा रही है भ्रष्टाचार गबन पर प्रशासन के द्वारा कार्यवाही...जिम्मेदार मौन - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Sunday, September 5, 2021

जानबूझ कर नही की जा रही है भ्रष्टाचार गबन पर प्रशासन के द्वारा कार्यवाही...जिम्मेदार मौन




रेवांचल टाईम्स - आदिवासी बाहुल्य जिला मंडला मवई जनपद के ग्राम पंचायत अमवार विगत कई दिनों से लगातार चर्चा में है जहां पर बैगा समुदाय के लोग निवासरत हैं बैगों के नाम पर अनेक योजनाएं संचालित है और जो योजनाएं संचालित है वह भी सालों से अपूर्ण और और प्रगतिरत चल रही है बने आवास और शौचालय भी अधूरे पड़े है और बेपरवाह अधिकारी कर्मचारी मिलकर इन मासूमों के हक में डाका और भविष्य के साथ खिलवाड़ करने से बाज नहीं आ रहे पिछले दिनों शिकायत की गई पर शिकायत की कार्यवाही ठंडे बस्ते में पड़ी हुई है और समय का इंतजार कर रहै है ! वही दिनांक 12/3/21 के परिपालन में जनपद सीईओ आर पी नामदेव के द्वारा अधिकारियों की जांच टीम गठित की गई और दिनांक 18/3/21 को टीम के द्वारा मौके पर जाकर जांच की कार्यवाही भी हुई पर जांच क्या हुई कौन दोषी है दोषी को क्या दंड मिला ये आज तक किसी को पता नही चला और जांच के नाम पर मामला शांत कर दिया गया  ?

      वही गठित जांच दल में प्रमोद सिंह परस्ते खंड पंचायत अधिकारी, जीपी बट्टी सहायक यंत्री मनरेगा, भरत सिंह सैयाम बीसी एसबीएस मवई, आशीष कुमार पांडे पीएम आवास,के द्वारा लगभग 14 बिंदुओं में की गई शिकायत की जांच की गई पर की गई जांच से ग्रामीण बिल्कुल भी सन्तुष्ट नही है वही लोगो का कहना है। कि, टीम ने जो जांच की  कार्यवाही से हम बिल्कुल भी संतुष्ट नहीं है।


 नौनिहालों एवं नाबालिक बच्चियों के नाम फर्जी हाजिरी भरकर निकाल राशि का किया गया गबन!


       हितग्राही भोप सिंह पिता धरमू के नाम से मेड बंधान कार्य में मास्टर क्रमांक 16616 में मजदूर क्रमांक 40 मैं साधना पिता सुनऊं उम्र 16 वर्ष के नाम से 7 दिन का 1295 रुपए की राशि भुगतान की गई मास्टर क्रमांक 16923 में अनुक्रमांक 23 में संगीता पिता चमरू आयु 12 वर्ष का नाम अंकित है इस नाम से 1295 रुपए का भुगतान किया गया है हितग्राही विजय पिता बाजारी के मेड बंधान में मस्टर क्रमांक 15280 में क्रमांक 21 में संगीता पिता चमरू को 1295 एवं साधना पिता सुनऊ के नाम से मास्टर नहीं निकला है फिर भी वेज लिस्ट अनुक्रमांक 68 में फर्जी हाजिरी जोड़कर 1295 रुपए भुगतान कराया गया है और शासकीय राशि का बंदरबांट करते हुए गबन किया गया !


तलाब विस्तारीकरण कार्य....


      रेहटा मोहनिया तलाब विस्तारीकरण में 94606 रुपए सामग्री के नाम से फर्जी राशि का भुगतान किया गया है ग्राम सुनेंहरा बैगा टोला में तालाब विस्तारीकरण कार्य में 61600 रुपये की शासकीय राशि निकाल कर गबन किया गया है !


कंटूर ट्रंच निर्माण कार्य में फर्जीवाडा!


       कंटूर ट्रेंच निर्माण कार्य में नाबालिक भगवंतींन बाई एवं पुष्पा बाई जिनकी उम्र लगभग 14 वर्ष है इन्होंने मजदूरी नहीं की है इनके नाम से ₹8650 निकाल लिए गए हैं सरपंच महेश धुर्वे अपने नाम से और पत्नी रामेश्वरी के नाम से 1 लाख 8170 रुपये की सामग्री खरीदी के नाम पर राशि आहरण कर चुका है तथा गणेश पट्टा के नाम पर 134000 रुपए भुगतान किया गया है जबकि यह कोई सप्लायर नहीं है कुल मिलाकर 5 लाख 49 हजार ₹468 सरपंच एवं सचिव के ऊपर ग्रामीणों ने शासकीय राशि के गबन करने का गंभीर आरोप लगाये है !


खेत तालाब एवं मेड बंधान पर फर्जी आहरण...?

        हितग्राही दौला के मेड बंधान से फर्जी राशि 11470 रु , हितग्राही गट्टू / पति राम मेड बंधान से ₹18809 कि फर्जी राशि निकाली गई ! हितग्राही सवनी बाई पति लामू के खेत तलाब से फर्जी हाजिरी व सामग्री का फर्जी निकासी  ₹81824 का गबन भी सरपंच सचिव के द्वारा किया जा चुका है ? इस तरह सचिव मिहिलाल एवं भ्रस्ट सरपंच महेश धुर्वे के द्वारा धरातल पर निवास कर रहे बैगा परिवारों के साथ भ्रष्टाचार की होली खेली जा रही है और जवाबदार अधिकारी कर्मचारी इन्हें संरक्षण देने से नहीं चूकते आपको बता दें कि पिछले दिनों उपयंत्री बघेल जिन्हें लोकायुक्त की टीम ने रिश्वत कांड में रंगे हाथों दबोचा गया था वह इसी पंचायत के उपयंत्री थे जनता की अपील है की उनको न्याय मिले ताकि  सरकार से उनका भरोसा ना उठने पाए ?

            

  रेवांचल टाईम्स से कन्हैया धारवैया की रिपोर्ट

1 comment:

  1. जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी से बात हुई है।
    शीघ्र ही कार्रवाई हेतु आश्वस्त किया है।

    ReplyDelete