डॉ.बिन्दु ध्रुव के द्वारा कर्मचारियों को परेशान करने का सिलसिला जारी है - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Thursday, September 9, 2021

डॉ.बिन्दु ध्रुव के द्वारा कर्मचारियों को परेशान करने का सिलसिला जारी है





मण्डला :- ट्राइबल गोंडवाना अधिकारी कर्मचारी संघ जिला मंडला म.प्र. के जिला शाखा अध्यक्ष राधेलाल नरेटी ने प्रेस विज्ञाप्ति जारी कर बताया है कि संघ के प्रांतीय प्रतिनिधि मण्डल ने श्रीमान चन्द्रशेखर बोरकर संभागायुक्त संभाग जबलपुर के नाम विगत दिवस श्रीमति नीता राठौर उपायुक्त (राजस्व) को एक ज्ञापन सौंपा है जिसमें डॉ.बिन्दु ध्रुव प्रभारी संभागीय आयुष अधिकारी संभाग जबलपुर के द्वारा छोटे अधिकारियों कर्मचारियों को परेशान करने का सिलसिला निरंतर जारी है इस बात का उल्लेख किया गया है। ज्ञातव्य है कि डॉ. बिन्दु ध्रुव प्रभारी जिला आयुष अधिकारी डिण्डोरी के तौर पर पदस्थ थीं वहां इनकी प्रताड़ना के चलते एक कर्मचारी रामचरण धुर्वे कम्पाउंडर की आसमय मृत्यु हो चुकी है, जिसकी जानकारी शासन को देने पर इनका स्थानांतरण वहां से कर दिया गया था डॉ.बिन्दु ध्रुव की मण्डला मेंं पदस्थापना के दौरान इनके द्वारा अधिकारियों कर्मचारियों से अभद्रतापूर्ण व्यवहार करना आम बात रही है बैठक के दौरान सभी अधिकारियों कर्मचारियों के समक्ष सामूहिक रूप से अपमानित करना भी आम बात रही है, छोटे कर्मचारियों को शोधन-डायन कहना एवं थाने में झूठी शिकायत करना जैसे क्रियाकलापों से  प्रताड़ित किया गया है उनके कार्यकाल में अधिकारियों कर्मचारियों के क्लेम को दबाकर रखा गया है तथा आर्थिक क्षति पहुंचाई जाती रही है मण्डला जिले में पदस्थापना के दौरान इनकी अनैतिक गतिविधियों की शिकायत शासन से की गई थी जांच हेतु संभागीय समिति का गठन किया गया था संभागीय समिति ने जांच कर सभी बिन्दु प्रमाणित पाए गए थे, जिसका जांच प्रतिवेदन आयुक्त महोदय को 02.07.2017 को भेज दिया गया है,जिस पर निर्णय होना शेष है डॉ.ध्रुव के इन सभी क्रियाकलापों के कारण तत्कालीन प्रमुख सचिव महोदय श्रीमति शिखा दुबे ने इनका इन्क्रीमेंट रोकते हुए इनका स्थानांतरण संभाग से बाहर जिला सिंगरौली कर दिया गया था ऐसी विवादित महिला अधिकारी को पुनः संभाग में लाया जाना असंवैधानिक एवं कर्मचारी हित में न्याय के विपरीत है विस्तृत सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि राधेलाल नरेटी द्वारा दायर याचिका मेंं न्यायालय के पारित आदेश दिनांक 10.08.2021 के विरुद्ध डॉ.ध्रुव द्वारा उच्चाधिकारियों को गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा है यदि माननीय न्यायालय जबलपुर द्वारा पारित आदेश की समयावधि के विपरीत उच्चाधिकारियों द्वारा आदेश जारी किया जाता है, तो इनके विरुद्ध न्यायालय के समक्ष अवमानना याचिका दाखिल की जावेगी संगठन उच्चाधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों से मांग करता है कि प्रभारी संभागीय आयुष अधिकारी डॉ.ध्रुव को संभाग से बाहर पदस्थ शीघ्रातिशीघ्र किया जावें, इनके कदाआचरण से हमेशा अधिकारी कर्मचारी त्रस्त रहे हैं, जिसके कारण कभी भी कोई भी अप्रिय घटना घटित हो सकती है यदि ऐसा कुछ भी होता है तो इसकी संपूर्ण जिम्मेदारी शासन, प्रशासन की होगी अतः कृपया असुविधा से बचने के लिए तत्काल उचित कार्यवाही की जावे।

No comments:

Post a Comment