Coronavirus से बचने के लिए इस शख्स ने लगवा ली 3 अलग-अलग ब्रांड के कोरोना वैक्सीन..... जानिए फिर क्या हुआ हाल - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Tuesday, August 31, 2021

Coronavirus से बचने के लिए इस शख्स ने लगवा ली 3 अलग-अलग ब्रांड के कोरोना वैक्सीन..... जानिए फिर क्या हुआ हाल



Corona Vaccine Side Effect: कई बार ये सवाल सामने आया है कि यदि एक ही व्यक्ति को अलग-अलग ब्रांड की दो वैक्सीन लग गई तो क्या होगा? दूसरी तरफ ब्राजील के एक शख्स ने कोरोना वायरस से बचने के लिए ऐसा किया, जिसे जानकर हर कोई हैरान रह गया है. इस शख्स ने तीन अलग-अलग ब्रांड की कोरोना वैक्सीन की 5 डोज लगवा ली. आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि उल्टे-सीधे वैक्सीनेशन के बाद भी शख्स बिल्कुल चंगा घूम रहा है.

दरअसल, ब्राज़ील का ये शख्स चाहता था कि उसे कोरोना वायरस किसी भी हालत में नहीं होना चाहिए. इसके बाद उसने कोरोना का टीका लगवाने का अलग ही प्लान बनाया और कोरोना का जो भी टीका उसे जहां भी मिला, उसने सब लगवा डाला. इस शख्स ने ढाई महीने के अंदर कोरोना वैक्सीन की कुल 5 डोज़ लगवा ली और इस बारे में किसी को पता भी नहीं चला.





ब्राज़ील की राजधानी रियो डे जेनेरियो के रहने वाले इस शख्स ने बताया कि देश में कोरोना वैक्सीन आने के बाद उसने मई महीने से इसे लगवाना शुरू किया. इसके बाद जून तक उसने 5 वैक्सीन लगवा ली थी. यहां तक कि वह जुलाई महीने में वैक्सीन की छठीं डोज़ लगवाने की भी कोशिश कर रहा था. इसी बीच वह पकड़ा गया.

बता दें कि शख्स ने 12 मई को फाइज़र वैक्सीन की डोज़ लगवाई थी. इसके बाद 5 जून को उसने एस्ट्राज़ेनिका की दूसरी डोज लगवाई. फिर 17 जून को कोरोनावैक की तीसरी डोज़ लगवाई और 9 जुलाई को फाइज़र वैक्सीन की चौथी डोज तथा 21 जुलाई को कोरोनावैक की एक और डोज लगवा ली.

स्वास्थय अधिकारियों को पहले लगा कि शख्स ने कोरोना की इतनी डोज नहीं लगवाई है, बल्कि उसका रिकॉर्ड रखने में गड़बड़ी हुई है. लेकिन बाद में जब इस मामले की जांच हुई, तब पता चला कि उसने कोरोना की 5 डोज लगवाई है और ये रजिस्ट्रेशन की गड़बड़ी की वजह से हुआ है. शख्स की पहली और दूसरी डोज़ के रिकॉर्ड में भी झोल है. वैक्सीनेशन स्टेशन को यह भू नहीं पता चल पा रहा है कि शख्स को किस वैक्सीन की पहली और किस वैक्सीन की दूसरी डोज़ लगी है.

No comments:

Post a Comment