ससुर का पुत्रवधू पर आया दिल, 52 साल की उम्र में पुत्रवधू से रचाई शादी - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Monday, July 5, 2021

ससुर का पुत्रवधू पर आया दिल, 52 साल की उम्र में पुत्रवधू से रचाई शादी



बदायूं. उत्तर प्रदेश के बदायूं जनपद में एक अनोखा मामला सामने आया है. यहां शादी के बाद पत्नी ने पति को तलाक देकर अपने ससुर के साथ शादी कर ली. पूर्व पति की शिकायत पर पुलिस दोनों को पकड़ लिया, लेकिन कोर्ट में शादी होने के कागजात देखकर उन्हें छोड़ दिया गया. शादी के वक्त पति नाबालिग था. वह अपनी मर्जी से ससुर के साथ गई. दोनों ने कोर्ट मैरिज कर ली.मामला बिसौली कोतवाली क्षेत्र के दबथरा गांव का है. जहां एक नाबालिग की शादी कुंवरगांव थाना क्षेत्र में एक लड़की के साथ 2016 में शादी हुई थी. उस समय देवानंद के पुत्र सुमित की 15 साल के थे. सुमित की मां की मृत्यु 2015 में हो गई थी. इसी के चलते उनके पिता देवानंद ने अपने बेटे की शादी जल्दी 2016 में कर दी थी. शादी के कुछ समय बाद देवानंद अपनी बहू को अपना दिल दे बैठा. दोनों के आपस में प्रेम संबंध हो गए.
इसके बाद ससुर अपनी बहू को लेकर फरार हो गया. साल 2016 में महिला ने अपने पति से तलाक ले लिया और अपने ससुर के साथ शादी रचा ली. ससुर देवानंद सफाई कर्मचारी था. बताया जाता है कि देवानंद और उसकी पुत्र वधू से एक बेटा भी है जो अब 2 साल का हो गया है. सुमित अपनी पत्नी और पिता की तलाश में घूमता रहा, जिसकी शिकायत बिसौली कोतवाली में दर्ज कराई थी. सुमित के तलाश करने के बाद जब दोनों का कहीं पता नहीं चला तब सुमित ने बिसौली कोतवाली पुलिस से आरटीआई डालकर जवाब मांगा.
पुलिस ने इस पूरे मामले का मामले की जानकारी सुमित को उपलब्ध कराई है. इस मामले में बिसौली कोतवाल ऋषि पाल सिंह ने बताया कि सुमित जुआ और नशे का आदी हो गया था, जिसके चलते उसकी पत्नी दूर रहने लगी बुरी आदत की वजह से पत्नी तलाक ले लिया था. पत्नी के साथ उसके पिता की शादी की जानकारी भी सुमित को थी, लेकिन वह अपने लिए परवरिश और खर्चों की मांग लगातार करता था. जब विवाद ज्यादा बढ़ गया तब सब इंस्पेक्टर ने देवानंद सुमित और लड़की को बुलाया. जिसमें आपस में पंचायत हुई और लड़की ने अपने ससुर के साथ शादी कर लेने के कारण साथ रहने की हामी भर दी. वहीं, सुमित अपनी परवरिश के साथ छोटे भाई की देखरेख की जिम्मेवारी पिता देवानंद को उठाने के लिए कहा जिस पर दोनों में विवाद अभी खत्म नहीं हुआ है.


No comments:

Post a Comment