MP: 8 साल के बच्चे को बचाने के चक्कर में कुएं में गिरे दर्जनों लोग, 3 लाशों को निकाला बाहर - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Friday, July 16, 2021

MP: 8 साल के बच्चे को बचाने के चक्कर में कुएं में गिरे दर्जनों लोग, 3 लाशों को निकाला बाहर



विदिशा: मध्य प्रदेश के विदिशा में देर रात एक दर्दनाक हादसा पेश आया. यहां एक बच्चे के कुएं में गिर जाने के बाद उसे निकालने की कोशिश की जा रही थी तो उस वक्त भारी भीड़ जुटने से कुएं की मेड़ भरभराकर गिर गई. जिसके बाद दर्जनों अन्य लोग भी कुएं में गिर गए. मौके पर देर रात से ही बचाव एवं राहत कार्य किया जा रहा है.

ताजा जानकारी के मुताबिक अभी तक 3 लाशों को निकाला जा चुका है. इसके अलावा स्थानीय लोगों का कहना है कि 20 लोग अभी भी लापता हैं. जिले के प्रशासनिक अधिकारी मौके पर डटे हुए हैं और एनडीआरएफ की टीम और पुलिस बचाव कार्य में जुटी है. वहीं मलबे से निकाली गई लाशों को एंबुलेंस से अस्पताल ले जाने पर भी दुखी परिजनों ने विरोध किया.




गांव वालों का कहना है कि 20 लोग अभी भी लापता हैं. लापता लोगों की तलाश के लिए घर-घर जाकर पुलिस सर्वे करेगी. पुलिस का कहना है कि अभी कितने लोग मलबे में फंसे हैं, ये कहना मुश्किल है. वहीं प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि तीन शव अभी तक बरामद हो चुके हैं, बचाव कार्य अभी जारी है. उन्होंने कहा कि हताहत हुए लोगों के परिजनों को मदद दी जाएगी.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, "गंजबासौदा में धंसने से कुएं में अनेक लोगों के गिरने की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. राहत व बचाव कार्य में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें लगी हुई है. प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग से मैंने कहा कि तत्काल घटनास्थल पर पहुंचे और राहत व बचाव कार्य पर सीधी नजर रखें."




हादसे की जब जानकारी मिली तब मुख्यमंत्री विदिशा में ही थे. उन्होने बताया है कि इस हादसे की जांच के हुक्म दे दिए गए हैं और पीड़ितों की हर मुमकिन मदद की हिदायत भी दे दी गई है. पूरी ताकत से प्रशासन राहत और बचाव कार्यों में लगा है. मैंने इसी स्थान को कंट्रोल रूम बना दिया है. लगातार मैं सीधे राहत एवं बचाव कार्य के संपर्क में हूं. बेहतर से बेहतर प्रयास करके हम रेस्क्यू ऑपरेशन चलायेंगे और लोगों को बचाने का भरसक प्रयास करेंगे.

No comments:

Post a Comment