निकाह के दौरान अटकने लगा दूल्हा, मौलवी को हुआ शक, PAN कार्ड से खुली मज़हब की पोल - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Tuesday, June 15, 2021

निकाह के दौरान अटकने लगा दूल्हा, मौलवी को हुआ शक, PAN कार्ड से खुली मज़हब की पोल



मामला उत्तर प्रदेश के महाराजगंज जिले से है,जहां कोल्हई थाना इलाके में रविवार के दिन निकाह कराते समय हंगामा मच गया। दरअसल, कोल्हई इलाके की एक लड़की को सिद्धार्थ नगर के एक युवक के साथ सोशल मीडिया पर दोस्ती हो गई। धीरे-धीरे यह दोस्ती प्यार में बदल गई और लड़का लड़की के घर भी आने-जाने लगा था। करीब 2 साल बाद लड़की के परिवार वालों ने शादी के लिए मंजूरी दे दी।

लेकिन शादी के दौरान जब मौलवी निकाह पढवा रहा था तो कुछ अरबी शब्दों को बोलने में दूल्हा फंस गया। जिससे लोगों को शक हुआ। पूछताछ पर असलियत सामने आई। लड़का दूसरे मजहब का निकला। जिसके बाद लोगों ने दूल्हे की पिटाई शुरू कर दी। जब भागने की कोशिश की,तो घरवाले ने कुछ बारातियों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया।

पता होने के बावजूद लड़की ने नहीं बताया सच

लड़के के हिंदू होने की बात लड़की पहले से जानती थी लेकिन उसने अपने घरवालों को नहीं बताया था लड़का उससे मुस्लिम रीति-रिवाज से शादी करने के लिए तैयार हो गया। शादी में कम लोग आएँगे की बात कहकर 5 लोगों को ही बारात में लाने के बाद कहीं रविवार के दिन शादी करने दूल्हा लड़की के घर आया और जब अरबी शब्दों पर अटकने लगा तब मौलवी को शक हुआ जिसके बाद वहां हंगामा मच गया।

बता दे लड़की के घर वाले दूल्हे के यहां नहीं गए थे और इसलिए सच्चाई उनके सामने नहीं आ सकी थी। पूछताछ के दौरान लड़के की तलाशी करने पर उसका पैन कार्ड निकला। जिस पर तस्वीर तो उसी की थी,लेकिन मजहब अलग था। मामले की जानकारी पाकर एसआई लवकुश मौके पर पहुंचे।

दुल्हा और बारात में आए कुछ लोगों को थाने ले जाया गया। इधर लड़की देर शाम तक उसी लडके से शादी करने की ज़िद पकड़ कर बैठी रही। युवकों का कहना है कि वह दूल्हे का दोस्त है। वहीं लड़के के परिजन कह रहे हैं कि इस शादी को लेकर उन्हें किसी भी तरह की जानकारी नहीं है।प्रभारी निरीक्षक दिलीप कुमार शुक्ला ने कहा-यदि पीड़ित पक्ष तहरीर देगा,तब इस पर केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

No comments:

Post a Comment