कलेक्टर ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से ली अधिकारियों की बैठक - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Thursday, June 17, 2021

कलेक्टर ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से ली अधिकारियों की बैठक




 विभागीय कार्य पूरी क्षमता के साथ शुरू हो जाएं, लेकिन कोविड को लेकर ना हो ढील - कलेक्टर श्री सुमन... 

रेवांचल टाईम्स :-  कलेक्टर  सौरभ कुमार सुमन ने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से सभी एसडीएम, सीईओ जनपद, मुख्य नगरपालिका अधिकारियों, ब्लॉक मेडिकल ऑफीसर, सहायक/कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारियों और बाल विकास परियोजना अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में उन्होंने निर्देश दिए कि सभी विभाग अपनी पूरी क्षमता के साथ विभागीय कार्य शुरू कर दें, लेकिन इस दौरान कोविड को लेकर कोई भी ढील ना हो। कोरोना एप्रोप्रियेट बिहेवियर का खुद भी पालन करें तथा औरों से भी कराएं। बैठक में कलेक्टर श्री सुमन द्वारा नए प्रतिबंधात्मक आदेश के पालन, कोविड टीकाकरण, संक्रमण के नए प्रकरणों की निगरानी, सैंपलिंग, मुख्यमंत्री कोविड19 अनुग्रह सहायता योजना व मुख्यमंत्री कोविड 19 अनुकम्पा नियुक्ति योजना, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत व अस्थाई पात्रता पर्ची धारियों को राशन वितरण और उपार्जित गेहूं के लिए शत - प्रतिशत कृषकों को उपज के भुगतान, राजस्व वसूली, रेवेन्यू अकाउंटिंग सिस्टम आदि की विस्तृत समीक्षा की गई। साथ ही राजस्व न्यायालयों का नियमित संचालन करने, अनुश्रवण कार्यक्रम में प्राप्त शिकायतों का निराकरण करने, राज्य सीमा क्षेत्र चेक पोस्टों पर कड़ी नजर रखने व समुचित कार्यवाहियां करने आदि के संबंध में भी आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। 




 मार्केट पूरी तरह खुल गया है, बाजारों का प्रबंधन कराना जरूरी  -

 बैठक में कलेक्टर श्री सुमन ने कहा कि अनलॉक के तहत जिले के बाजार पूरी तरह खुल गए हैं, ऐसे में बाजारों में भीड़ - भाड़ होने और संक्रमण फैलने की संभावना अधिक रहेगी। सभी एसडीएम अपने - अपने क्षेत्रों में बड़े बाजारों का चिन्हांकन कर तत्काल बाजार प्रबंधन समितियों का गठन करें और बाजारों में कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर का पालन अनिवार्य रूप से कराते हुए बाजारों का प्रबंधन सुनिश्चित कराएं। 




 1 से 3 जुलाई तक चलाया जायेगा टीकाकरण महाअभियान, रखें पूरी तैयारी - 


 कलेक्टर श्री सुमन ने बताया कि राज्य शासन द्वारा पूरे प्रदेश में 1 से 3 जुलाई तक कोविड टीकाकरण का महाअभियान चलाया जायेगा। इसके लिए सभी क्लस्टर अधिकारी अपने - अपने शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण कर स्थिति का आंकलन कर लें और पूरी कार्ययोजना अभी से बना लें। निगरानी समितियों और लोगों से संपर्क कर वैक्सीन के प्रति उन्हे जागरूक करें और भ्रांतियों को दूर करें। जिससे वैक्सीन की बड़ी मात्रा उपलब्ध होने पर इस अवधि में अधिकतम लोगों को टीकाकरण से लाभान्वित किया जा सके।




 कोरोना संक्रमण के नए प्रकरण वाले क्षेत्रों में बाजार बंद करने की कार्यवाही करें- 


कलेक्टर श्री सुमन ने निर्देश दिए कि कोरोना संक्रमण का एक भी नया केस सामने आने पर उस क्षेत्र में बड़े कंटेनमेंट एरिया बनाते हुए ,समुचित प्रबंधन सुनिश्चित करें । साथ ही संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए ऐसे क्षेत्रों के मार्केट बंद करवाने की कार्यवाही करें।




 अंतर्राज्यीय सीमा पर रखें पूरी नजर - कलेक्टर श्री सुमन ने बताया कि शासन द्वारा महाराष्ट्र राज्य से बस परिवहन का संचालन 22 जून तक के लिए स्थगित किया गया है। जिले के अनुविभाग पांढुर्णा और सौंसर में स्थापित कोविड 19 राज्य सीमा क्षेत्र चेक पोस्ट पर पूरी नजर रखें। उल्लंघन करने वालों पर समुचित कार्यवाहियां भी की जाएं।


        बैठक में कलेक्टर श्री सुमन ने बताया कि गेंहू उपार्जन के अंतर्गत शत प्रतिशत कृषकों के ई पी ओ जारी हो चुके हैं, यथाशीघ्र शत प्रतिशत भुगतान भी सुनिश्चित करें। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत लगभग सभी उपभोक्ताओं को जून माह तक के राशन का वितरण किया जा चुका है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना और अस्थाई पात्रता पर्ची के हितग्राहियों को भी शत प्रतिशत खाद्यान्न का वितरण आगामी 25 जून तक अनिवार्य रूप से कराएं। उन्होंने मूंग - उड़द उपज का सत्यापन करने, राजस्व वसूली में गति लाने, रेवेन्यू अकाउंटिंग सिस्टम मॉड्यूल के माध्यम से राजस्व जमा कराने की कार्यवाही प्रत्येक स्तर पर सुनिश्चित कराने, राजस्व - वन विभाग संबंधी कोई भी विवाद शेष ना रहने बाबत प्रमाणपत्र प्रस्तुत करने और क्लस्टर अधिकारियों को अनुश्रवण कार्यक्रम के दौरान प्राप्त शिकायतों पर निराकरण के लिए अंतर्विभागीय बैठकें आयोजित कर युक्तियुक्त निराकरण दर्ज कराने के निर्देश दिए।


      बैठक के दौरान कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी गजेंद्र सिंह नागेश, अतिरिक्त कलेक्टर श्रीमती रानी बाटड, संयुक्त कलेक्टर आर.आर.पांडे, एसडीएम अतुल सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.जी.सी.चौरसिया, जिला आपूर्ति अधिकारी जी.पी.लोधी, उपायुक्त सहकारिता  जी.एस.डेहरिया, महाप्रबंधक जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक श्री के.के.सोनी, जिला विपणन अधिकारी, सहायक आयुक्त नगर निगम श्री रोशन सिंह बाथम व जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी एन. आई.सी. सुश्री दीप्ति यादव सहित अन्य संबंधित जिला अधिकारी उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment