किसानों का एफपीओ कर रहा है आम की मार्केटिंग आम उत्पादक किसानों को सीधे बाजार से जोड़ा... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Tuesday, June 8, 2021

किसानों का एफपीओ कर रहा है आम की मार्केटिंग आम उत्पादक किसानों को सीधे बाजार से जोड़ा...





रेवांचल टाइम्स :- बालाघाट जिले के आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र मे परसवाड़ा में कार्यरत (FPO) एफपीओ परसवाड़ा किसान प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड द्वारा जिला मुख्यालय मे आम महोत्सव 4.0, 2021 का आयोजन नाबार्ड एवं प्रवर्तक संस्था सारडा के सहयोग से 08 से 22 जून 2021 तक किया गया है। परसवाड़ा के इस एफपीओ ने आम्‍ उत्पादक किसानों को सीधे बाजार उपल्बध कराने का प्रयास किया है। इससे जिले के आम उत्पादक किसानों को लाभ मिलेगा।

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़े स्वयं सहायता समूहों को पूर्व में आम के पौधे प्रदाय किये गये थे। लांजी एवं किरनापुर विकासखंड के समूहों द्वारा लगाये गये आम के पौधों से अब आम का उत्पादन प्रारंभ हो गया है। परसवाड़ा का एफपीओ लांजी एवं किरनापुर के इन समूहों से आम लेकर 08 जून से बालाघाट के काली पुतली चौक में विक्रय प्रारंभ किया गया है। इस अवसर पर अग्रणी जिला प्रबंधक श्री दिगंबर भोयर, नाबार्ड के जिला विकास अधिकारी रोशन महाजन, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के जिला परियोजना अधिकारी ओमप्रकाश बेदुआ द्वारा मार्केटिंग स्थल पर पंहुच कर किसानो की सराहना की गई और उन्हे प्रोत्साहित किया गया।

काली पुतली चौक में लगाई गई है दुकान, चार प्रजाति के हैं आम

परसवाड़ा के एफपीओ के प्रयासों से FPO के किसान सदस्य सीधे मार्केटिंग से जुड़ रहे है तथा मार्केटिंग पश्चात लाभ सीधे किसान को होगा और इसके साथ ही वह मार्केटिंग के गुर भी सीखेगा। एफपीओ की इस पहल से आम उत्पादक किसान की उपज का भाव कोई व्यापारी नहीं बल्कि किसान स्वयं तय कर रहा है । दिनांक 08 जून 2021 को काली पुतली चौक बालाघाट में आम महोत्सव के प्रारंभ में ही लगभग 4500 रुपये में 04 क्विंटल आम की बिक्री सदस्यो द्वारा की गयी। इसमे मुख्यतः लंगड़ा, दशहरी, आम्रपाली, सुंदरजा प्रजाति के आम शामिल है । एफपीओ द्वारा एक पीकअप वाहन में यह दुकान लगाई गई है। 

थानेन्द्र कटरे, परियोजना अधिकारी, सारडा द्वारा जानकारी दी गयी कि FPO सदस्यो के द्वारा इस आम महोत्सव के दौरान लगभग साठ क्विंटल से अधिक की उपज की मार्केटिंग किए जाने का अनुमान है, यह उपज किसानो के अपने खेतों की है। मार्केटिंग के कार्य से बिचौलिये किसानों का शोषण नहीं कर पायेंगें और उन्हें सीधा लाभ मिलेगा। 



रेवांचल टाइम्स बालाघाट से खेमराज बनाफरे

No comments:

Post a Comment