नैनपुर में कीचड़ से सना 5 वार्डों का शमशान घाट पहुंच मार्ग, रहवासी परेशान, नहीं हो रही कोई सुनवाई... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Tuesday, June 22, 2021

नैनपुर में कीचड़ से सना 5 वार्डों का शमशान घाट पहुंच मार्ग, रहवासी परेशान, नहीं हो रही कोई सुनवाई...





रेवांचल टाइम्स :- नगर पालिका क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 6 मंडला सिग्नल में रहवासी कीचड़ से सनीं सड़कों का दंश झेल रहे हैं। रहवासी इस परेशानी का सामना पिछले कई सालों से कर रहे हैं। यह सड़क वार्ड नंबर 6 नील कमल चौक से श्मशान घाट तक रहवासी क्षेत्र से होकर गुजरती है। जहां बरसात के चलते अधिक कीचड़ हो जाने की वजह से लोगों को आवागमन करने में अधिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। कच्ची सड़क होने के कारण बरसात के पानी से यह कीचड़ से सराबोर हो जाती है। जहां वाहन चलाना तो दूर पैदल चलना भी दुश्वार हो जाता है। जनप्रतिनिधि एवं प्रशासन की लापरवाही के चलते पिछले कई सालों से इस सड़क का निर्माण नहीं हो पाया है। क्षेत्र में भारी संख्या में छात्र-छात्राएं हैं जिससे बरसात में स्कूल के लिए जाने में छात्र-छात्राओं को खासी मशक्कत करनी पड़ती है। इसके अलावा वार्ड के रहवासी भी कीचड़ से निकलने में मजबूर हैं। नगर पालिका प्रशासन एवं वार्ड पार्षद को लगातार जानकारी देने के बाद भी सुधार नहीं किया गया। बारिश के सीजन में वार्ड के रहवासी मुश्किल से निकल पा रहे हैं।


गौरतलब है कि वार्ड नंबर 6 में नगर का एक श्मशान घाट भी है। एवं लगभग 5 वार्ड के लोगों के लिए यह सड़क श्मशान घाट पहुंच मार्ग भी है। 5 वार्ड (4, 5, 6, 8, एवं 13) की शमशान यात्रा इसी सड़क से होकर गुजरती है। कोई दूसरा विकल्प ना होने की वजह से लोगों को इसी सड़क का सहारा लेना पड़ता है। एवं बरसात के मौसम में कीचड़ से भरी सड़क का सामना करना पड़ता है। जो कि परेशानी का सबब बन जाता है। कई शव यात्राओं में स्वयं जनप्रतिनिधि भी शामिल रहते हैं और इस परिस्थिति का सामना करने के बाद भी उनके कानों में जूं नहीं रेंगती।


बारिश के चलते नगर के कुछ वार्ड को श्मशान घाट से जोड़ती यह सड़क इन दिनों कीचड़ से सनी हुई हैं। इस सड़क पर साइकिल और दोपहिया वाहन से निकलने में लोग गिरकर घायल भी हो चुके हैं। लेकिन नगर पालिका प्रशासन की उदासीनता के कारण इस सड़क का सुधार नहीं हो पा रहा।


जिम्मेदार अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों से पूछने पर वह जवाब देते हैं कि, 

"यह सड़क रेलवे के अधिकारीक क्षेत्र में आती है। तथा इसका निर्माण रेलवे की अनुमति के बाद ही हो सकता है।"

इस तरह का गैर जिम्मेदाराना जवाब देकर जनप्रतिनिधि केवल बरसात में बारिक गिट्टी डलवा कर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ लेते हैं। तेज बारिश में यह बारिक गिट्टी पानी के तेज बहाव से बहकर अलग हो जाती है, एवं पुनः सड़कें कीचड़ से सराबोर दिखाई देने लगती हैं। और लोगों को आवागमन करने में अधिक परेशानी हो जाती है। सालों से निर्माणाधीन इस सड़क में बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं। जिसमें बरसात के मौसम में अधिक पानी भर जाता है। जिसके बाद इस सड़क से निकलना लोगों के लिए अधिक परेशानी का सबब बन जाता है।


गौरतलब है कि नगर पालिका अध्यक्ष से लेकर केंद्र तक भारतीय जनता पार्टी की सरकार है। एवं रेल मंत्रालय में भी भारतीय जनता पार्टी के राजनेता रेल मंत्री के रूप में उपलब्ध है। भूतपूर्व केंद्रीय राज्य स्वास्थ्य मंत्री एवं वर्तमान मंडला जिला सांसद व केंद्रीय राज्य लोह इस्पात मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते इस सड़क का दौरा कर चुके हैं।

उनके द्वारा भी जनमानस को केवल आश्वासन ही मिला वह यदि प्रयास करते तो रेलवे विभाग से समन्वय बनाकर सड़क का पक्का निर्माण कराया जा सकता था। लेकिन जनता को केवल उनके द्वारा आज तक आश्वासन ही प्राप्त हुआ है। 


मंण्डला सिंगल के रहवासी इलाके से रेलवे का नैनपुर मंडला ट्रैक होकर गुजरता है।

इस समय ट्रेनों का आवागमन ना होने की वजह से वार्ड वासियों को रेल पटरी का सहारा लेना पड़ रहा है। लेकिन कुछ समय बाद जब ट्रेन का आवागमन पुनः प्रारंभ हो जाएगा तब रहवासियों को अधिक दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा।

कीचड़ से सराबोर सड़कों से ही आवागमन करने में मजबूर होना पड़ेगा।


✒️ नैनपुर रेवांचल टाइम्स से शालू अली की रिपोर्ट ✒️

No comments:

Post a Comment