नैनपुर में मंत्री कुलस्ते के दौरे में पंहुँची जनता को मिला आश्वासन, शिकायत कर रहे लोगों पर बिफरे भाजपा नेता - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, May 6, 2021

नैनपुर में मंत्री कुलस्ते के दौरे में पंहुँची जनता को मिला आश्वासन, शिकायत कर रहे लोगों पर बिफरे भाजपा नेता



रेवांचल टाईम्स :- नैनपुर के निवासी पिछले कई दशकों से नैनपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था का दंश झेल रहे हैं। हर बार इस मुद्दे को स्थानीय निवासी जनप्रतिनिधि और  राजनेताओं के समक्ष भी रखते हैं लेकिन उनसे केवल आश्वासन ही मिलता आ रहा है। इस मुद्दे पर अमल के लिए जमीनी स्तर पर कोई काम नहीं किया जाता। नगर में नेता आते तो हैं लेकिन सिर्फ अपने स्वार्थ के लिए।

चुनाव के समय वोट लेकर चले जाते हैं। इसके बाद 5 साल तक  गंभीरता से काम नहीं करता। और मिस्टर इंडिया हो जाते हैं।


कोरोना की दूसरी लहर से नैनपुर आर-पार की जंग लड़ रहा है. लेकिन नगर कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में विकराल होते कोरोना संकट के चलते ऑक्सीजन के साथ-साथ दवाइयां, स्टाफ की कमी, संसाधनों की कमी और टेस्ट किट की भी अधिक कमी देखी जा रही है लोगों का तो कहना है कि,


"हमनें इस तरह के डरावने हालात इससे पहले कभी नहीं देखे थे. हमें तो भरोसा ही नहीं हो रहा है, कि हमलोग नैनपुर नगर की बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था के चलते किस तरह संक्रमण से लड़ पाएंगे. सभी जनप्रतिनिधियों ने भी हमारा साथ छोड़ दिया है एवं सभी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता भी अपने घरों में दुबक कर बैठ गए हैं ऐसे में अब हम आखिर गुहार लगाएं तो किस्से लगाएं"


आज जब समाज एक वैश्विक महामारी से गुज़र रहा है, तो नैनपुर नगर प्रतिनिधियों की इसमें कोई तय भूमिका नहीं दिखाई दे रही है. औपचारिक रणनीति में भी उनकी ज़िम्मेदारियां स्पष्ट नहीं हैं, नतीजतन शहरी प्रशासन के ढांचे का एक हिस्सा निष्क्रिय जान पड़ता है.


हंलाकि निजी स्तर पर कुछ जनप्रतिनिधि ऐसे भी है जो लगातार लोगों की मदद कर रहे हैं  जिसमें वार्ड नंबर 6 के रहवासी  और वार्ड नंबर 11 के पार्षद शंकर सायरानी, महेश्वरी राजपूत प्रशासन से संपर्क करके उनसे जानकारी ले रहे हैं, और लोगों तक पहुंचा रहे हैं . एवं अपनी क्षमता के अनुसार हर वार्ड के  लोगों की प्रत्यक्ष तथा अप्रत्यक्ष रूप से मदद कर रहें हैं वहीं दूसरी तरफ इन्हीं के पार्टी के दूसरे प्रतिनिधि एवं नगर पालिका अध्यक्ष की भूमिका नगर में अदृश्य दिखाई दे रही है। नगर के केवल इन दो प्रतिनिधियों ने अपने संसाधन जुटाकर लोगों के लिए कई छोटी-बड़ी मदद कि है.


वहीं दूसरी तरफ नगर में समाजसेवी ओम चौरसिया,दीपक शर्मा एवं उनकी टीम लगातार लोगों की मदद कर रहे हैं।ऑक्सीजन सिलेंडर से लेकर फ्लोमीटर, जांच किट, मरीज और उनके परिजनों तक भोजन पहुंचाना, एंबुलेंस की व्यवस्था करना, ऐसे कई नेक कार्य कर रहे हैं

जो नगर के जिम्मेदार प्रतिनिधियों को एवं सत्ताधारी पार्टी के कार्यकर्ता, प्रशासनिक अमला एवं विपक्ष को नगर में करना था।


वैसे तो नगर की जनता को नगर के प्रतिनिधियों का कोई सहारा नहीं लेकिन कल दिनांक 5/5/2021 दिन बुधवार साम 7.00 बजे नगर में केंद्र सरकार के इस्पात राज्य मंत्री, मंडला जिले से लगातार 7 पंचवर्षीय से बने हुऐ सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते का आगमन हुआ, इंनके आने की सूचना लोगों को काफी दिनों पहले से थी जिस के लिए लोगों ने नगर में हो रही बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था और अन्य समस्याओं को ले कर मंत्री से मिलने का विचार बनाया। और जब वह आए तो लोग वहां पहुंचे तो पहले तो नगर भाजपा के कार्यकर्ताओं ने चारों तरफ से मंत्री जी को घेर लिया जिससे सामान्य लोगों को मिलने का मौका नहीं मिल पाया।

नगर में लगातार उठ रही सिटी स्कैन की मांग को लेकर चर्चाएं हो रही थी। जिसमें मंत्री जी का कहना हुआ की सीटी स्कैन की मशीन नगर में उपलब्ध कराना उचित नहीं है, क्योंकि इसकी यहां जरूरत नहीं है, और यह काफी

महंगी भी है 

जिस पर नगर दलित समाज के अध्यक्ष महेंद्र हट्टेल ने कहां की ऐसा क्यों और आखिर क्यों नगर को मशीन नहीं दी जा सकती जबकि संकट के समय नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इस मशीन की अधिक आवश्यकता है। 

तो नगर भाजपा के कार्यकर्ताओं ने उनका विरोध किया और उनकी अवाज को दबाने की कोशिश की एवं मंत्री फग्गन सिंह ने कहा कि "तू नया कहां से पैदा हो गया" तुझे अभी समझ नहीं है सिटी स्कैन मशीन देना असंभव है। 

एक केंद्रीय राज्य मंत्री का दलित समाज के अध्यक्ष से इस तरह की भाषा का उपयोग करना और इस तरह पेस आना उचित नहीं।


केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते के इस दौरे में भाजपा के सभी नेता जो कोरोना काल में घर के बाहर नही निकले, आज मंत्री के आते ही अपना झूठा महिमामंडन करने पहुँच गए।

जब नगर की जनता ने सांसद जी तक अपनी बात रखने की कोशिश की तो नगर के  जनप्रतिनिधियों ने अपनी पोल खुलने के डर से जनता को चुप करवा दिया, तथा सांसद जी के जाने के बाद जनता के ऊपर भाजपा नेता भड़क गए तथा सबको धमकी देने लगे और कहने लगे कि नगर में सब भाजपा के कार्यकर्ता कर रहे है, तथा गंदी गंदी गाली देने लगे जिस वजह से समाज सेवी संगठन जो लोगो की निस्वार्थ सेवा कर रहे थे। भाजपा नेता के ऐसे बोल की वजह से अपनी सेवा समाप्त कर रहे हैं। तथा आज नगर में अराजकता फेलाने की कोशिश करने वाले भाजपा नेता पर पार्टी से करवाई की मांग कर रहे है...


जनप्रतिनिधियों की खुल गई पोल 


इन जैसे नेता एवं नगर के कांग्रेस भाजपा के जयचंदो ने सीधे-साधे भोले भाले विधायक और सांसदों को बरसों से अंधेरे में रखा है।


यह नहीं चाहते कि नैनपुर का विकास हो.! और नैनपुर में अत्याधुनिक मशीनें लगे...! यह नहीं चाहते कि नैनपुर का निरंतर विकास हो ..!

आज जब लोगों ने आंखों से देखा और कानों से सुना तब समझ में आया, कि नैनपुर में कितने शातिर दिमाग के लोग हैं। विधायक सांसदों को कुछ चाटुकार लोग सच्चाई की जानकारी नहीं देते। 

जिससे क्षेत्र का विकास रुका हुआ है। 

या वह अपना विकास चाहते हैं। कौन सा माल फूंक कर आते हैं भाई ऐसे लोग शहर को बर्बाद करने के लिए पूछ रहा है नगर। 


नैनपुर रेवांचल टाइम्स से शालू अली की रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment