आज 30 मई अंतिम दिन खरीफ ऋण अदायगी का, दूसरी बार बढ़ाई थी ड्यू डेट, ऋण नहीं चुकाने पर कृषको को देना पड़ेगा 7% ब्याज.. - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Saturday, May 29, 2021

आज 30 मई अंतिम दिन खरीफ ऋण अदायगी का, दूसरी बार बढ़ाई थी ड्यू डेट, ऋण नहीं चुकाने पर कृषको को देना पड़ेगा 7% ब्याज..




रेवांचल टाईम्स :- प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों के माध्यम से अल्पकालीन फसल ऋण लेने वाले कृषकों को ड्यू डेट पर चुकौती करने पर ही 0% ब्याज सहायता का लाभ प्राप्त हो सकेगा जबकि डिफाल्टर कृषकों को राज्य शासन एवं केंद्र शासन से प्राप्त होने वाली अतिरिक्त ब्याज अनुदान तथा प्रोत्साहन राशि की पात्रता नही होगी यह राशि 7% की दर से कृषक को ही ऋण वितरण दिनांक से ड्यू  दिनांक तक  भुगतान करना होगा ! उल्लेखनीय है कि जिला सहकारी केंद्रीय बैंक छिंदवाड़ा से सम्बद्ध 24 शाखाओं अंतर्गत 146 प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों में 100000 से भी अधिक ऋणी किसान है जो इस समय शाखा व समितियों के माध्यम से प्रदत्त सुविधाओं और शासन की योजनाओं का लाभ प्राप्त कर रहे है  इस वर्ष 2020-21 में बैंक ने अपनी शाखाओं से संबद्ध प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों के माध्यम से अब तक खरीफ सीजन में 363 करोड़ एवं रबी सीजन में 126 करोड़ इस प्रकार कुल 489 करोड से भी अधिक का ऋण वितरण कर चुका है ! ऐसे में उक्त वितरित चालू व कालातीत ऋण की वसूली के लिए 

सहकारी समितियां अपने ऋणी सदस्यों के हितों को ध्यान रखते हुए उन्हें शासन की योजनाओं और बैंक कि शाखाओं व समितियों द्वारा दी जा रही सुविधाओं की जानकारी दे रहे है सहकारी समितियों के माध्यम से कृषको को 0% ब्याज दर पर अल्पकालीन फसल ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है वर्ष 2020-21 में अल्पकालीन फसल ऋण लेने वाले कृषकों को 0% ब्याज सहायता योजना के लाभ के संबंध में शासन द्वारा जारी नए निर्देशानुसार उक्त अवधि में समय पर अपना ऋण चुकाने वाले कृषको को को केंद्र सरकार 3% प्रोत्साहन राज्य सरकार 4% अतिरिक्त ब्याज सहायता प्रदान करेगी इसके अलावा प्रत्येक कृषक को उपलब्ध सामान्य ब्याज अनुदान राज्य सरकार से 1% तथा केंद्र सरकार से 2% का भी लाभ प्राप्त होगा जबकि समय पर अपना ऋण नहीं चुकाने वाले डिफाल्टर कृषको को केंद्र सरकार से प्रोत्साहन ब्याज सहायता 3% और अतरिक्त ब्याज सहायता राज्य सरकार से 4% प्राप्त करने की पात्रता नहीं होगी उन्हें प्रत्येक कृषक को उपलब्ध सामान्य ब्याज अनुदान राज्य सरकार से 1% तथा केंद्र सरकार से 2% ही मात्र प्राप्त हो सकेगा शेष 7% की दर से ब्याज राशि स्वयं कृषक को ही ऋण अदायगी तक भुगतान करना होगा ! 

"प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों के माध्यम से वर्ष 2020 -21 में अल्पकालीन फसल ऋण लेने वाले खरीफ सीजन के ऋणी कृषको को शासन द्वारा ऋण चुकौती की बढ़ाई गई ड्यू डेट 30 मई तक ऋण अदा करने पर ही 0% ब्याज सहायता का लाभ प्राप्त होगा जबकि डिफाल्टर कृषकों को राज्य शासन एवं केंद्र शासन से प्राप्त होने वाली अतिरिक्त ब्याज अनुदान तथा प्रोत्साहन राशि की पात्रता नही होगी यह राशि 7% की दर से कृषक को ही ऋण वितरण दिनांक से ड्यू  दिनांक तक भुगतान करना होगा ! अतः कृषकों से अपील है कि वे समय पर अपना ऋण चुकता कर समिति से नया ऋण लेकर शासन की 0% ब्याज सहायता योजना का लाभ प्राप्त करें !

                   कृष्ण कुमार सोनी

              मुख्य कार्यपालन अधिकारी

          जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित

No comments:

Post a Comment