आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने विधायक और अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सहित परियोजना अधिकारी को सौंपा ज्ञापन... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, March 25, 2021

आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने विधायक और अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सहित परियोजना अधिकारी को सौंपा ज्ञापन...


रेवांचल टाईम्स :- पोषण ट्रेकर एप को डाउनलोड कर काम करने के लिए आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओ को किया जा रहा बाध्य..

चौरई विकासखंड महिला बाल विकास परियोजना में कार्यरत आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने बुधवार को विधायक अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सहित परियोजना अधिकारी को पोषण ट्रेकर एप को डाउनलोड कर काम करने के लिए बाध्य करने के संबंध में ज्ञापन सौंपा गया। आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का कहना है कि हमारे सभी के पास एंड्राइड मोबाइल नहीं है और ना ही हम इसको लेने में सक्षम है क्योंकि हमारा जितना वेतन है उसमें सिर्फ हमारे परिवार का गुजारा बड़ी मुश्किल से हो पाता है हम अपने बच्चों की पढ़ाई के लिए मोबाइल नहीं ले पा रहे हैं हमारी वास्तविक स्थिति को कई बार हमारे द्वारा विभाग के आला अधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है इसके बावजूद भी हमें इस प्रकार के आदेश निकाल कर मानसिक रूप से परेशान किया जाता है साथ ही हमने उक्त स्थिति से भी अवगत करा दिया है उसके बाद भी हमें बार-बार उक्त कार्य के लिए मोबाइल खरीदने के लिए कहा जाता है एवं चेतावनी दी जाती है कि अगर आप लोग इस ऐप को डाउनलोड नहीं करते हैं तो आपको नौकरी छोड़नी पड़ेगी इस प्रकार हम कार्यकर्ताओं को कई प्रकार से अधिकारियों एवं सुपरवाइजर द्वारा परेशान किया जाता है अतः उक्त समस्या का निराकरण जल्दी नहीं किया गया तो हमें होने वाली सारी परेशानी और मानसिक परेशानी के चलते होने वाली घटनाओं का जिम्मेदार महिला बाल विकास विभाग एवं प्रशासन होगा  जिलाध्यक्ष सविता ठाकुर ने मांग की है जब तक इस समस्या का निराकरण नहीं किया जाता तब तक इस कार्य गति को रोक दिया जावे वर्तमान में महिला बाल विकास विभाग द्वारा ही महिलाओं को मानसिक और आर्थिक रूप से परेशान किया जा रहा है ऐसे में अन्य महिलाएं कहां तक सुरक्षित होगी इसका अंदाजा वर्तमान परिस्थिति को देखकर लगाया जा सकता है


इनका कहना है:-

     हमें विभाग से आदेश प्राप्त है कि पोषण ट्रैकर ऐप को डाउनलोड करा कर आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं से उस में जानकारी एकत्रित कराए जाए आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की समस्याओं को हमारे द्वारा विभाग को अवगत कराया जा चुका है ऐसे कोई आदेश नही है कि किसी आंगनवाड़ी कार्य कर्ताओ को निकाल दिया जाएगा उसमे सरकारी ने कहा है कि उनको हर माह 250 रुपये का डाटा दिया जाएगा कार्य हेतु 


अभिषेक वर्मा परियोजना अधिकारी चौरई महिला बाल विकास विभाग

     

     प्रशासन ने हमें आदेश दिया है वह कार्य करवाने को कहा इसलिए मेरे द्वारा आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को ग्रुप में मैसेज किया गया है कि जिस कार्यकर्ताओं के पास खुद का मोबाइल नहीं है उन्हें तत्काल मोबाइल खरीदना है जो कि सम्भव नही क्योंकि हमारे पास इतनी अर्थिक सक्षमता नही है मोबाइल भी खरीदे ओर डाटा रिचार्ज भी कराए इसके विरोध में हमने ज्ञापन दिया।

No comments:

Post a Comment