भू माफिया शिक्षक और उसके परिवार से पीड़ित भू-स्वामियों ने की आई.जी से शिकायत - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Tuesday, February 16, 2021

भू माफिया शिक्षक और उसके परिवार से पीड़ित भू-स्वामियों ने की आई.जी से शिकायत




रेवांचल टाईम्स :- आदतन रूप से करते हैं ज़मीनों में कब्जा एट्रोसिटी एक्ट का गलत फायदा उठाने की करते हैं कोशिश

 अंजनिया ग्राम के कुछ लोगों ने आरोप लगाते हुए पुलिस विभाग के उच्च अधिकारियों से यह शिकायत की है कि ग्राम के एक शिक्षक हेमेंद्र झारिया द्वारा अपने परिवार के साथ मिलकर शासकीय ज़मीनों सहित भू-स्वामियों की जमीनों में लगातार कब्जा किया जा रहा है । भू-स्वामियों द्वारा मना करने पर शिक्षक अपने परिवार की महिलाओं से झूठी शिक़ायत करवाने का षडयंत्र रचता है और भू-स्वामियों को मानसिक रूप से प्रताड़ित कर उनकी जमीन हथियाने के लिए जतन करता रहता है । 




अंजनिया के पास ग्राम मगधा में पदस्थ शिक्षक हेमेंद्र झारिया द्वारा इस प्रकार सामान्य और ओबीसी वर्ग के लोगों को टारगेट बनाकर उनकी ज़मीनों में षडयंत्रपूर्वक कब्ज़ा करने का प्रयास करना वाकई अनैतिक और विधि विरुद्ध है । 


पूर्व में भी कई लोगों को ऐसे ही परेशान करने के बाद अब शिक्षक और उसका परिवार अंजनिया निवासी देवकुमार पटेल को परेशान कर रहा है और आये दिन धमकियां दिलवाने के साथ उन्हें मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहा है । ऐसा आरोप देवकुमार पटेल और उनके परिवार ने लगाया है । 


देवकुमार पटेल की पत्नी ने आरोप लगाया कि 09 तारीख को ही सुबह लगभग 8 बजे साधुराम झारिया द्वारा अपनी पत्नि और बहुओं को मेरे घर पहुंचाया गया था और इन्होंने घर मे ज़मीन को लेकर डराया और कहा कि देवकुमार पटेल कहाँ है वो होता तो हम उसको ढंग से समझाते । तुम्हारी ज़मीन के सामने मुर्रम हमने डाली है अब हम उसमें बंधा भी बांधेंगे । 


घर मे घुसकर दी धमकी


पीड़िता नीमा बाई ने बताया कि दो लड़के जो कि हेमेंद्र झारिया के रिश्तेदार हैं अचानक 9 तारीख की सुबह 10 बजे इनके घर पहुंचे और ज़मीन को लेकर धमकी भरे लहजे में बात करने लगे । जिससे पीड़िता और उसका परिवार बहुत डर गया है । 


पीड़िता निधि ने बताया कि साधुराम, हेमेंद्र और इनके पूरे परिवार द्वारा जबरन हमें डराया और धमकाया गया और मुझसे अपशब्दों का प्रयोग किया गया । 

       सभी पीड़ितों ने शिक्षक हेमेंद्र झारिया  और उसके परिवार से तंग आकर उक्त पूरे मामले की शिकायत पुलिस महानिरीक्षक रेंज बालाघाट को की है ।

No comments:

Post a Comment