अंधेर नगरी,चौपट राजा की कहानी फिट होती है पंचायत कर्मियों के कार्यों से शासन के कार्य योजनाओं में भ्रष्ट रोजगार सहायक शासन को ही लुटाने में जुटे हैं - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Sunday, January 24, 2021

अंधेर नगरी,चौपट राजा की कहानी फिट होती है पंचायत कर्मियों के कार्यों से शासन के कार्य योजनाओं में भ्रष्ट रोजगार सहायक शासन को ही लुटाने में जुटे हैं




रेवांचल टाइम्स - जिले के विकास खण्डों में चल रहे महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत शासन, श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने में अहम भूमिका निभा रही है। वहीं पंचायतों में बैठे भ्रष्ट पंचायत कर्मी शासन की राशि को लुटाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। समय रहते इस तरह भ्रष्टाचारियों पर अंकुश नहीं लगाया गया तो,वो दिन दूर नहीं कि मध्यप्रदेश दूसरे देशों का गुलाम न बने इसी तरह मामला विकास खण्ड-मेंहदवानी नजदीकी ग्राम पंचायत सारसडोली की है। यहां जाब कार्ड के माध्यम से गरीब श्रमिकों को मनरेगा योजना से तो भरपूर काम मिल रहा है। जिससे गरीब श्रमिक तो खुश हैं ही, परन्तु श्रमिकों के साथ-साथ अमीर भी खुश हैं। क्योंकि अमीरों को मनरेगा में काम करने नहीं जाना पड़ता और खातों में पैसा जमा हो जाता है। अमीरों का जाब कार्ड निरस्त कर दिया गया था, परन्तु कोरोना काल के चलते जैसे ही शासन से आदेश हुआ कि सभी मजदूरों को सौ-सौ दिनों का कार्य देकर जाब कार्ड पूर्ण किया जाए। इसी के चलते मौके का फायदा उठाते हुए रोजगार सहायक और अमीर लोगों के तालमेल से अमीरों का जाब कार्ड फिर से चालू कर उनके नाम की मस्टररोल जारी कर मेटों द्वारा फर्जी हाजिरी लगवाकर शासन की राशि को लुटवाने का कार्य धड़ल्ले से चल रहा है। फर्जी हाजिरी का शिकायत फोन से उपयंत्री धुर्वे को की गई, मौके में पहुंच कर उपयंत्री धुर्वे ने मस्टररोल की जांच कर पाया कि मस्टररोल में अपसेंट के जगह कोरा छोड़ दिया गया है। कोरा जगह पर हफ्ते के लास्ट दिन में प्रजेंट लगाया जाएगा ताकि कोई समझ न सके। फिर भी उपयंत्री धुर्वे द्वारा भ्रष्टाचारियों पर फर्जी हाजिरी का रोक नहीं लगाया। फर्जी हाजिरी का सिलसिला अभी भी जारी है। मनरेगा कार्य भी पूर्ण रूप से नहीं हो रहा है। विधिवत इसकी जांच होनी चाहिए। यहां अंधेर नगरी चौपट राजा कहानी की तरह शासन को ही लूटा जा रहा है। वहीं शासन विरुद्ध बगैर शादी शुदा लड़कों का रोजगार सहायक द्वारा फर्जी जाब कार्ड बनाकर शासन को लुटाया जा रहा है।वार्ड मेंबरों के नाम से दो-दो जाब कार्ड बनाकर उनके नाम से मस्टररोल जारी कर बगैर कार्य करवाए हाजिरी देकर शासन को लाखों रुपयों का चूना लगाया जा रहा है।

    इन लोगों का दो-दो जाब कार्ड बना है। 

(1) वार्ड मेंबर-सुदामा साहू/तुलसी राम साहू-जाब कार्ड 219,219B

(2) वार्ड मेंबर-रामस्वरूप साहू/चुन्नी लाल-जाब कार्ड 648,648A

(3) वार्ड मेंबर-संजय बनवासी/फुंदीलाल-695,695 B

(4)मेट-द्वारका साहू/चैतू-जाब कार्ड 569,569B

(5) सरपंच सहयोगी बलराम साहू /आशाराम-जाब कार्ड 574,574B

(6) प्रेमलाल चक्रवर्ती/मातादीन-जाब कार्ड 585,585B

(7) पंचम बनवासी/माधो-जाब कार्ड 100

(8)दुजिया बनवासी/पंचम-जाब कार्ड 100B

(9) प्यारेलाल/ब्रजलाल-जाब कार्ड 109

(10) ब्रस्पतिया/प्यारेलाल-जाब कार्ड 109A    llll

जांच होने पर और भी एक नाम से दो-दो जाब कार्ड सामने आएंगे रोजगार सहायक गया प्रसाद धुर्वे मनमानी के चलते उनके कार्यों से समझ में आता है कि हितग्राहियों के तालमेल से फ़र्जी जाब कार्ड में एवं फर्जी हाजिरी लगवाकर शासकीय राशि का हिस्सा लेता है जिसकी निष्पक्ष जांच करने के लिए जनपद पंचायत अधिकारी सीईओ को तत्काल एक्सन लेना चाहिए जांच न होने की स्थिति में थाना मेंहदवानी को जांच हेतु सहयोग लिया जाएगा।



रेवांचल टाइम्स मेंहदवानी से शिवरतन कछवाहा की रिपोर्ट।

No comments:

Post a Comment