संकुल स्तरीय बैठक गंगेरुआ में संपन्न हुई - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Saturday, January 30, 2021

संकुल स्तरीय बैठक गंगेरुआ में संपन्न हुई





रेवांचल टाइम्स:- आज दिनांक 30 जनवरी को सामुदायिक भवन गंगेरुआ में पुरानी पेंशन बहाली राष्ट्रीय आंदोलन (NMOPS)की संकुल स्तरीय बैठक प्रमोद चौहान के मुख्य आतिथ्य एवं संतोष पारधी ब्लाक अध्यक्ष की अध्यक्षता,  चन्द्रकुमार बघेल ब्लाक कोषाध्यक्ष, हेमलता टेकाम कार्यकारी अध्यक्ष की उपस्थिति में संपन्न हुई।उक्त बैठक में संकुल केंद्र गंगेरुआ की कार्यकारणी का गठन किया गया।कार्यकारणी में टक्कन सिंह ठाकुर को अध्यक्ष, मीना बिसेन उपाध्यक्ष, यू.एस. वट्टी(जनशिक्षक)कोषाध्यक्ष, हेमंत उमरकार संघटन मंत्री , तेजसिंह ठाकुर सचिव, तिलक चंद सलामे सह सचिव, हेमेंद्र परते कार्यकारी अध्यक्ष, चंद्र किशोर बोपचे संरक्षण प्रभारी,खुमान सिंह राहंगडाले संरक्षण प्रभारी एवं आनंद जायसवाल मीडिया प्रभारी आदि को नियुक्त किया गया।

बैठक में कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रमोद चौहान ने अपने वक्तव्य में कहा कि केंद्र सरकार ने 2004 में पुरानी पेंशन योजना को बंद कर बाजार आधारित नई पेंशन योजना प्रारंभ  करते हुऐ बताया था कि कर्मचारियों को इससे लाभ मिलेगा लेकिन इसकी सच्चाई को समझते हुए कार्यपालिका के लिये इसे सौपा गया जबकि विधायिका के लिये पुरानी पेंशन योजना की यथावत रखा गया जो कि अन्याय पूर्ण है। संतोष पारधी ब्लाक अध्यक्ष ने अपने वक्तव्य में कहा कि सरकारी सेवा में आने वाले कर्मचारी पिछले कई वर्षों से नई पेंशन योजना के स्थान पर पुरानी पेंशन योजना बहाल करने की मांग कर रहे हैं। लेकिन किसी भी राजनैतिक पार्टियों ने कर्मचारियों की उक्त मांग को गम्भीरता से नही लिया जो बहुत ही खेद का विषय हैं।चंद्रकुमार बघेल ब्लाक कोषाध्यक्ष ने अपने वक्तव्य में कहा कि विधायक और सांसद केवल एक बार बनने पर पुरानी पेंशन मिलने की व्यवस्था हैं जबकि कर्मचारी अपनी सेवा 30 से 40 वर्षो तक देते हैं उन्हें पुरानी पेंशन देने का कोई प्रावधान नही हैं जो कि अन्याय पूर्ण है।कार्यक्रम को और भी अनेक वक्ताओं ने संबोधित करते हुए नई पेंशन योजना को अन्याय पूर्ण बताते हुए पुरानी पेंशन बहाली की मांग रखी।

उक्त कार्यक्रम में मुख्यरूप से हंसा राहंगडाले, धुरवन्ता बोपचे, सुखवंती परते,सावित्री हनवत, तीरन कटरे, आशा सल्याम, आदसिंह बघेल , एन मेश्राम, सहित काफी संख्या में कर्मचारीगण उपस्थित थे।

उक्ताशय की जानकारी मीडिया प्रभारी आनंद जायसवाल द्वारा दी गई।


रेवांचल टाइम्स से मुकेश जायसवाल की रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment