फ़र्जी शिकायत करने वाला शिक्षक हुआ निलंबित जाँच में पाया दोषी - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Wednesday, December 2, 2020

फ़र्जी शिकायत करने वाला शिक्षक हुआ निलंबित जाँच में पाया दोषी




रेवांचल टाईम्स - फर्जी शिकायत करने वाले आदिवासी बालक छत्रावास के अधीक्षक को सहायक आयुक्त ने किया निलंबित

   पंचायत भीमडोंगरी एवं ग्रामवासियों तथा  पी के पटेल,( प्रभारी प्राचार्य) शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय (भीमडोंगरी) विकासखंड मवई के द्वारा प्रस्तुत शिकायत की जांच हेतु चार अधिकारियों की संयुक्त जांच समिति गठित करके प्रतिवेदन चाहा गया था जिस पर जांच समिति के द्वारा प्रस्तुत जांच प्रतिवेदन के आधार पर पाया गया कि प्रभारी प्रचार के विरूद्ध पूर्व में की गई शिकायत में श्री श्याम लाल के छात्रावास अधीक्षक प्रीमैट्रिक आदिवासी बालक छात्रावास भीमडोंगरी संलिप्त रहे तथा संलग्न अवकाश आवेदन पत्र की लिखावट की गई शिकायत पत्र की लिपि से आंशिक रूप मेल खाती है उपरोक्त प्रकरण में श्री पटेल प्रभारी ने बताया कि उनके विरुद्ध फर्जी हस्ताक्षर से की गई शिकायत मान सम्मान एवं प्रतिष्ठा को धूमिल करने भरी हुई के छात्रावास अधीक्षक के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही प्रस्तावित की गई है

उपरोक्त शिकायत प्रकरण एवं प्रतिवेदन के आधार पर श्री श्याम लाल उएके प्राथमिक शिक्षक प्रभारी छात्रावास अधीक्षक प्रीमैट्रिक आदिवासी बालक छात्रावास भीमडोंगरी विकासखंड मवई को पदीय दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही उदासीनता एवं शिक्षा चरित्र बरतने तथा फर्जी हस्ताक्षर कराकर प्रभारी प्राचार्य शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भीमडोंगरी के विरुद्ध शिकायत करने के कारण (मध्य प्रदेश सिविल सेवा वर्गीकरण नियंत्रण तथा अपील नियम 1966 के नियम 91 के अंतर्गत )निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए श्री श्याम लाल उएके  के प्राथमिक शिक्षक प्रभारी छात्रावास अधीक्षक को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है निलंबन काल में उनका मुख्यालय कार्यालय विकास खंड शिक्षा अधिकारी( निवास) निर्धारित किया गया है उन्हें नियम अनुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी बताया जा रहा कि 39 में से 38 षिकेटकरताके फर्जी हस्ताक्षर ओर 36 शिक्षकों ने शपथ पत्र देकर अवगत कराया था कि हमने शिकायत नहीं की गई है।।

संस्कृत भाषा में पत्नी को क्या कहते हैं?

No comments:

Post a Comment