बच्चों की अभिनय कार्यशाला के लिए ऑडिशन आज - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Friday, November 20, 2020

बच्चों की अभिनय कार्यशाला के लिए ऑडिशन आज



रेवांचल टाइम्स - विगत आठ माह से बंद पड़ी हुई सांस्कृतिक और सामाजिक गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए और मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिले के बाल कलाकारों को रंगमंच और अभिनय से जोड़ने के लिए मध्यप्रदेश नाट्य विद्यालय,भोपाल के उर्जावान निदेशक आलोक चटर्जी के अभूतपूर्व प्रयासों से प्रदेश के पांच जिलों में बाल रंगमंच कार्यशालाएं आयोजित की जा रही हैं। इसमें से एक कार्यशाला 23 नवंबर से 18 दिसंबर तक नाट्यगंगा के द्वारा छिंदवाड़ा में आयोजित की जा रही है। इस कार्यशाला में 11 से 16 वर्ष आयु वर्ग के बच्चे भाग ले सकते हैं। जिन्हें मध्यप्रदेश नाट्य विद्यालय और नाट्यगंगा की ओर से प्रमाणपत्र दिए जाएंगे। इस कार्यशाला में प्रतिभागियों के चयन के लिए आज 21 नवंबर को नाट्यगंगा के संत जोसफ स्कूल के सामने स्थित कार्यालय में ऑडिशन लिया जाएगा। कार्यशाला को लेकर बच्चों में बहुत उत्साह देखा जा रहा है। अभी तक लगभग 80 बच्चों ने ऑडिशन के लिए पंजीयन करवाया है। संस्था से प्राप्त जानकारी के अनुसार आज ऑडिशन स्थल पर भी पंजीयन करवाया जा सकता है। ऑडिशन के बाद चयनित प्रतिभागियों को 25 दिनों तक अभिनय, रंग संगीत, नृत्य, वॉइस एंड मॉडूलेशन, इम्प्रोवाइजेशन, मुखौटे निर्माण, थियेटर गेम्स आदि का प्रशिक्षण दिया जाएगा। कार्यशाला के दौरान एक नाटक भी तैयार किया जाएगा जिसका मंचन कार्यशाला की समाप्ति पर किया जाएगा। कार्यशाला के दौरान प्रशासन के द्वारा जारी किए गए कोविड 19 के संबंध में सभी निर्देशो का कड़ाई से पालन किया जाएगा। सचिन वर्मा होंगे कार्यशाला निर्देशक इस 25 दिवसीय प्रस्तुतिपरक बाल नाट्य कार्यशाला के निर्देशक हेतु मध्यप्रदेश नाट्य विद्यालय के द्वारा सचिन वर्मा का चयन किया गया है। विदित हो सचिन वर्मा विगत बीस वर्षां से सतत रूप  से रंगकर्म कर रहे हैं। आप छिंदवाड़ा जिले के पहले रंगकर्मी हैं जिन्हें मध्यप्रदेश नाट्य विद्यालय भोपाल की गुणवत्ता सुधार समिति का सदस्य नियुक्त किया गया। कार्यशाला के दौरान तैयार किए जाने वाले नाटक का निर्देशन नाट्यगंगा के वरिष्ठ कलाकार डॉ चैतन्य आठले के द्वारा किया जाएगा जो विशेष रूप  से इस कार्यशाला के लिए वर्धा से छिंदवाड़ा आ रहे हैं।

आलोक चटर्जी करेंगें उद्घाटन

 इस अभूतपूर्व कार्यशाला का उद्घाटन मध्यप्रदेश नाट्य विद्यालय के निदेशक और इस आयोजन के सूत्रधार आलोक चटर्जी करेंगे। श्री चटर्जी के निर्देशन में मध्यप्रदेश नाट्य विद्यालय भोपाल नित नई उंचाईयों को छू रहा है। आपने पूरे प्रदेश के रंगकर्मियों को एक सूत्र में पिरोने का अनुकरणीय प्रयास किया है।

No comments:

Post a Comment