कलेक्टर के निर्देशन पर की गई छापामार कार्रवाई 45 हजार रुपये की खाद्य सामग्री की गई नष्ट - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Friday, November 20, 2020

कलेक्टर के निर्देशन पर की गई छापामार कार्रवाई 45 हजार रुपये की खाद्य सामग्री की गई नष्ट



 रेवांचल टाइम्स - जिले में भी आम जनता को मिलावट रहित शुद्ध खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने के लिए बालाघाट कलेक्टर दीपक आर्य के निर्देश पर खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की टीम औऱ अन्य विभागों के सहयोग से खाद्य सामग्री विक्रय करने वाले प्रतिष्ठानों की सतत जांच की जा रही है। इसी कड़ी में आज 20 नवंबर को बिरसा एवं मलाजखंड में की गई कार्यवाही में मानव उपयोग के लिए अनुपयुक्त पाये जाने पर लगभग 45 हजार रुपये की खाद्य सामग्री को नष्ट कराया गया है।


     बैहर एसडीएम गुरू प्रसाद के मार्ग दर्शन में मिलावट मुक्ति अभियान के अंतर्गत कार्यवाही करते हुए खाद्य एवं औषधि प्रशासन बालाघाट, राजस्व विभाग बैहर एवं नगर पालिका परिषद मलाजखंड द्वारा संयुक्त कार्रवाई करते हुए बिरसा एवं मलाजखंड में जायसवाल मिष्ठान एवं रेस्टोरेंट, प्रज्ञा जलपान गृह, रत्नेश राजस्थान स्वीट्स, चौकसे कैटरर्स, संतोष जलपान गृह आदि प्रतिष्ठानों पर छापामार कार्यवाही करते हुए 46 नमूने प्रयोगशाला जांच के लिए एकत्र किये गये है। इस कार्यवाही के दौरान 20 किलो गुलाब जामुन, 25 किलो मावा बर्फी, 50 किलो रसगुल्ला, 6 किलो शक्कर बुरा, 5 लीटर शरबत, 4 किलो मगज लड्डू, एवं 1 किलो मिल्क केक जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 45 हजार रुपए है, मानव उपयोग हेतु अनुपयुक्त पाए जाने पर नष्ट करने के लिए नगर पालिका परिषद मलाजखंड को सुपुर्द किया गया। अस्वच्छता एवं गंदगी के चलते संतोष जलपान गृह को धारा 32 का नोटिस दिया गया है।


    वही बिरसा एवं मलाजखंड में आज 20 नवंबर को की गई इस छापामार कार्य में खाद्य सुरक्षा अधिकारी योगेश डोंगरे,शरद साहू, वाजिद मोहिब एवं संध्या मार्को शामिल थी। इस तरह की कार्यवाही जिले के विभिन्न स्थानों पर निरंतर चलते रहेगी।


रेवांचल टाइम्स बालाघाट से खेमराज बनाफरे की रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment