आदिवासी विकास परिषद ने खंड शिक्षा अधिकारी के ऊपर लागए लापरवाही और भ्रष्टाचार करने के गंभीर आरोप - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Friday, October 9, 2020

आदिवासी विकास परिषद ने खंड शिक्षा अधिकारी के ऊपर लागए लापरवाही और भ्रष्टाचार करने के गंभीर आरोप








रेवांचल टाइम्स - आदिवासी बाहुल्य जिला मंडला के विकास खंड मवई के शिक्षा विभाग के अधिकारी की लापरवाही उजागर हो रही हैं जिसको लेकर आदिवासी विकास परिषद ने मवई विकासखंड के शिक्षा अधिकारी की शिकायत की है और शिकायत पत्र में यह अरोप लगाया है कि जो स्थानीय निवासी ने पत्र लिखकर मांग की जा रही हैं जांच के लिए कलेक्टर महोदया से ओर समस्त उच्च अधिकारियों से मांग की गई हैं मामला संपूर्ण मवई ब्लॉक का है जहां विकास खंड शिक्षा अधिकारी के द्वारा अनियमितताएं की जा रही है मवई में पदस्थ खंड शिक्षा अधिकारी हरि सिंह परते शाला प्रबंधन समिति के संचालन स्वयं जबरन कर रहे हैं तथा मवई जैसे पिछड़े आदिवासी बहुल क्षेत्र में कार्य विद्यालयों के प्राचार्य प्रभारियों एवं वरिष्ठ शिक्षकों के हक को छीनकर भारी भ्रष्टाचार किया जा रहा है इनके इस विकास खंड में पदस्थ होने के बाद शासन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं में भारी अनिमित्ता बरती जा रही है जो कि  निम्न में है ।





1- जैसे कि शैक्षणिक भ्रमण के लिए प्रातः आवंटन वर्ष 2019 में विकासखंड  मवई के सभी हाई स्कूल हायर सेकेंडरी स्कूल में अध्ययनरत दसवीं कक्षा 10 की '12वीं के छात्र छात्राओं विद्यार्थियों को लाभ नहीं दिया गया और वही बिल बाउचर में शैक्षणिक भ्रमण हो चुका है इसके पदस्थ होते ही जिसका मुख्य कारण है कि हायर सेकेंडरी स्कूल हायर सेकेंडरी स्कूल मवई रमसा उत्कृष्ट मवई मेढा तोड़ा भीम डोंगरी 'मोतिनाला' तक वह मॉडल एवं कन्या शाला मवई 'रमसा शिक्षण संस्था में कार्यरत अध्यापक प्रभारी प्रचार के साथ अभद्र व्यवहार आवश्यकता से अधिक स्वार्थ पूरा देश कर झूठा शिकायत कराकर मानसिक प्रताड़ना देना बुरा असर यह पड़ रहा हैं साथ ही 

3/-छात्रवृत्ति में भी घोटाला किया गया जैसे विज्ञान प्रोत्साहन इंस्पायर अवार्ड विज्ञान प्रतिभा प्रोत्साहन जैसे योग्यता से अधिक बच्चों से वंचित रखना ।


4/-- संपूर्ण मवई विकासखंड में मटेरियल करे के नाम पर भारी भ्रष्टाचार करते हुए बिना कोटेशन के व समिति के बगैर अनुमति के विज्ञान के पुस्तकों के खेल सामग्री एवं अन्य मटेरियल निजी कमीशन लेकर क्रेकर भ्रष्टाचार मचाया है ।

 5/-अंशकालिक भृतों की अवैधानिक नियुक्ति मध्य प्रदेश शासन के नियम के विरुद्ध क्षेत्र के बेरोजगारों को बिना प्रशासनिक औपचारिकता पूर्ण किए बगैर मनमाने तरीके से रिश्वत लेकर अंग्रेजी आश्रम शाला मवई में जगदीश धुर्वे उत्कृष्ट शाला उत्तर माध्यमिक विद्यालय मवई में राम भजन बालक आश्रम अमर मेहर सिंह धुर्वे हाई स्कूल थोड़ा में श्रीमती चुनरिया बघेल को मोटी रकम लेकर अवैध तरीके से नियुक्त किया गया उपरोक्त बिंदुओं के अतिरिक्त एवं अपना मुख्यालय सिझोरा में बना कर रहा है (मुख्यालय में इनका हेड क्वार्टर भी नहीं है) जिससे स्थानीय आश्रम छात्रावासों की औचक निरीक्षण नहीं कर सकते कृपया इनके कृतियों की निष्पक्ष जांच टीम गठित कराकर उचित कार्यवाही करते हुए इस संस्था को अवगत कराने का कष्ट करें            

        

         खण्ड शिक्षा अधिकारी मवई के ऊपर जो आरोप लगाए गए है जिसमे आदिवासी विकास परिषद के सचिव का कहना है कि मैंने यह पत्र लिखकर के कलेक्टर महोदया को और श्रीमान आयुक्त आदिवासी विकास मध्यप्रदेश शासन को कार्यवाही करने के लिए प्रेषित किया वही श्रीमान प्रमुख सचिव मध्य प्रदेश शासन आदिम जाति कल्याण विभाग मध्य प्रदेश भोपाल आवश्यक कार्य हेतु प्रसिद्ध किया है साथ ही संयुक्त संचालक लोक शिक्षण जबलपुर को आवश्यक कार्रवाई हेतु सादर प्रेषित किया गया है आयुक्त परियोजना संचालक राज्य माध्यमिक शिक्षा मध्य प्रदेश भोपाल को आवश्यक कार्रवाई हेतु सादर प्रेषित किया गया है मेरे द्वारा मवई हरे सिंह के  द्वारा लगातार शिक्षकों को प्रताड़ित किया जाता है और बड़ी से बड़ी पूरे ब्लॉक के अंदर लापरवाही किया जा रहा है जिसका आज तक कोई ध्यान ही नहीं दे रहा है

           हीरालाल धुर्वे 

सचिव मध्य प्रदेश आदिवासी विकास परिषद (मवई )


             वही मवई खंड शिक्षा अधिकारी का कहना है कि मेरे ऊपर जो आरोप लगा रहे है वो सब निराधार है।

                   हरिलाल परते

           खण्ड शिक्षा अधिकारी मवई

No comments:

Post a Comment