बिछिया ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ने खराब चावल वितरण को लेकर मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, September 3, 2020

बिछिया ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ने खराब चावल वितरण को लेकर मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन



भुआबिछिया

लॉकडाउन के दौरान मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा चावल आदि का वितरण किया था जिसमें बहुत सी गड़बड़ियां निकल कर सामने आ रही हैं । जैसे यह तथ्य सामने आया कि मण्डला, बालाघाट आदि जिलों सहित कई जगह ख़राब चावल जो कि खाने योग्य भी नही था उसका वितरण किया गया ।

केंद्र सरकार के खाद्य मंत्रालय की जांच में मध्यप्रदेश में चावल घोटाले का बड़ा खुलासा हुआ है। केंद्रीय जांच दल ने मध्यप्रदेश के दो आदिवासी बाहुल्य जिले मंडला और बालाघाट में गरीबों को बांटे गए चावल की गुणवत्ता की जांच की थी और केंद्र सरकार ने जो रिपोर्ट दी है उसमें चावल की गुणवत्ता बेहद खराब मिली है।

केंद्रीय मंत्रालय ने मप्र सरकार के मुख्य सचिव को पत्र लिखकर बांटे गए चावल की गुणवत्ता पर सवाल खड़े किए है। लिखा है कि इतना खराब गुणवत्ता का चावल है कि इंसानों के साथ-साथ जानवरों के भी खाने लायक नहीं है।

नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ ने भी इस मामले की जांच की मांग की है। कमलनाथ जी ने ट्वीट कर लिखा है कि यह इंसानियत व मानवता को तार-तार करने वाला होकर एक आपराधिक कृत्य भी है। इसके दोषियों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

केंद्रीय टीम ने बालाघाट और मंडला में चावल के 32 सैंपल लिए थे, जिसमें से 31 डिपो से और एक राशन की दुकान से इकट्ठा किया गया था। 30 जुलाई से 2 अगस्त के बीच की गई जांच में पता चला कि चावल के नमूने किसी भी मानक पर खतरे नहीं उतरे बल्कि ये उस श्रेणी के है जो भेड़ बकरियों को खिलाया जाता है।

जनता के साथ हुए इस धोखे को लेकर आज मध्यप्रदेश में जगह जगह कई प्रकार के प्रदर्शन और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया गया इसी क्रम में आज बिछिया ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रदीप गोस्वामी के नेतृत्व में सभी पदाधिकारियों और आमजन ने मिलकर ख़राब चावल वितरण में जाँच और दोषियों पर कार्यवाई हेतु मुख्यमंत्री के नाम अनुविभागीय अधिकारी बिछिया को ज्ञापन सौंपा ।

ज्ञापन के मुख्य बिंदु ये थे

1-इसकी विस्तृत जाँच होनी चाहिए
2-जो भी अधिकारी , कर्मचारी और जनप्रतिनिधि इसमे शामिल हैं उन पर कठोर कार्यवाई होनी चाहिए
3-ऐसा ख़राब चावल जहाँ कही भी स्टॉक में हो उसे तुरंत जब्त किया जाना चाहिए
4-जनता के जीवन से खिलवाड़ करने वाली सरकार को तुरंत बर्खास्त करना चाहिए
5-गोदाम एवं सोसाइटी में स्टॉक की तत्काल जाँच कर माल को जप्त किया जावें एवं संबंधित अधिकारी के ऊपर तत्काल कार्यवाई हों ।

उक्त बिंदुओं को शामिल कर ज्ञापन सौपा गया ।

कार्यक्रम में पूर्व जनपद अध्यक्ष जोश सिंह ठाकुर, ज़िला अध्यक्ष महिला कांग्रेस रागिनी परते, संतोषी मोंगरे, रमेश नंदा, जनपद सदस्य अशोक राजपूत, झुनना ठाकुर, देवी यादव, टेकराम राय, वहीद खान, यूनुस खान, प्रकाश कार्तिकेय, लखन अय्याम , नारद यादव, घनश्याम चौधरी,राकु यादव,पंसारी मरकाम, द्वारका राजपूत, कलीराम मार्को, डमरू राजपूत, पंजू यादव, प्रह्लाद कुमार, रामनाथ सरौते, रोशन धुरवे, भोला यादव, महावीर यादव, बरातू यादव, जगदीश यादव, टोनी मिश्रा, आलोक पड़वार, मनोज सार्वे,कमलेश मरावी, जग्गा कसार, अमन राजपूत, निखिल राजपूत, रोहित यादव, प्रफुल्ल तिवारी, टीका तुमराली सहित सैकड़ों जन उपस्थित रहे ।
EMI Loan भरने में मिलेगी राहत? सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई जारी

No comments:

Post a Comment