नगर में बिक रही ज्यादा फ़ायदा के चक्कर मे सिवनी बालाघाट जिलों की देशी विदेशी शराब - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Saturday, August 15, 2020

नगर में बिक रही ज्यादा फ़ायदा के चक्कर मे सिवनी बालाघाट जिलों की देशी विदेशी शराब

   

रेवांचल टाइम्स - इन दिनों जिले में शराब कारोबार में बहुत ही हलचल मची हुई कहीअबैध शराब की बिक्री को लेकर या फिर शराब दुकान के उच्चपाधिकारी कर रहे ये कारनामा को लेकर वही नैनपुर के ठेकेदार को नही रहती है इसकी कोई खबर                       
         लगातार शिकायतों के बाद और जानकारी होने के बावजूद भी अब तो ऐसा लगता है कि मण्डला जिले का आबकारी विभाग सच मे कुम्भकर्ण  की नींद सो चुका है या आबकारी विभाग ने पैसों की आँख में ऐसी पट्टी बांध रखी है जिससे उसे शहर में चल रहे अवैध शराब के चल रहे अबैध कारोबार नजर आते भी नजर नही आ रहे है। नैनपुर नगर में दुकान विभाग द्वारा संचालित दुकानों को छोड़ कर अब तो गली मोहल्लों में बिक रही वही अबैध शराब दुकान संचालक नैनपुर में संचालित दुकान से तो ले ही राहे बल्कि ज्यादा फायदा कमाने के चलते अब बालाघाट, सिवनी जिलों की कम दामो में लाई जारही है वही सुत्रो की माने तो सिवनी बालाघाट में जिले में मिल रही शराब से बहुत ही कम दामो में मिल रही है इसलिए ईन जिले की शराब तो आपको नैनपुर के संचालित दुकान में बड़ी आसानी से मिल सकती है । शराब - पहले से ही नैनपुर के शराब ठेकेदार की मनमानी अपनी चरम सीमा पर थी जो अब ठेकेदार के द्वारा प्रशासन को अपनी नकेल पर रख अन्य जिलों की शराब भी नगर में बेची जा रही है ना ही इस ठेकेदार को पुलिस का डर है ना ही आबकारी की कोई चिंता वही सूत्रों के मुताबिक ठेकेदार के कर्मचारी खुद सिवनी बालाघाट सीमा पर खड़े होकर इन जिलों की शराब को मण्डला जिले में प्रवेश करवाते है और बेझिझक होकर शहर में बिकवाते है सूत्र कहते है कि शायद ठेकेदार को इसकी भनक नही है की अन्य जिलों की शराब भी मण्डला जिले में बिक़वाई जा रही है ऐसा लगता है कि दुकान के उच्चपद के कर्मचारियों की साठ गांठ से पूरा कार्य संचालित हो रहा है ओर ठेकेदार को भनक तक नही वैसे भी ठेकेदार के द्वारा पहले से ही नैनपुर नगर एवम ग्रामीण इलाकों में अवैध रूप से शराब पैकारो के माध्यम से बिक़वाई जा रही है जबकि ठेकेदार को केवल शराब दुकान से ही शराब बिक्री की अनुमति प्रदान की गई है ठेकेदार के द्वारा शराब दुकान के अलावा शराब गली गली गाँव गाँव में बिक़वाई जा रही है साथ ही शराब दुकान में ना ही सोशल डिस्टेंन्स के नियमो का पालन किया जा रही है और ना ही अन्य आदेशो का दुकान में शराबी भीड़ लगाकर खड़े होते नजर आते है लेकिन शराब दुकान के कर्मचारियों द्वारा इन्हें कोई भी हिदायत नही दी जाती है ना ही मास्क लगाने के लिए ग्राहकों को बोला जाता है केवल ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाने के लालच में ये आमजनों की जान से खिलवाड़ करते नजर आ रहे है इन्हें देख तो यही लगता है कि ये अपने नियम खुद ही बनाने में सक्षम है इन्हें आधिकारिक नियमो से कोई मतलब नही क्योकि आधिकारिक नियमो को दरकरार कर रात्रि में 10 बजे के बाद भी नैनपुर की शराब दुकान धड़ल्ले से खुली नजर आ रही है वही नियमानुसार लोकडॉउन 10 के बाद शुरू हो जाता है लेकिन इससे ठेकेदार को क्या ये वही करता है जो उसे करना है वहीं जिले में दिन व दिन कोरोना संक्रमित मरीजो में इज़ाफ़ा हो रहा है वही जिला प्रशासन बार बार अपील कर रहा है कि सोशल डिस्टेंन्स का पालन करे मास्क लगाए और नियमो का पालन करे पर लोगो को ये समझ मे नही आ रहा है कि आख़िर नियम क्या आप लोगो के लिए ही बनाये गए है और क्या केवल नियमो का पालन ग़रीब लोग ही करे और सारे नियम इन्ही पर लागू होते है
     वही नैनपुर में देशी व विदेशी शराब दुकान में बेधड़क होकर बिना अनुमति के आहता संचालित किया जा रहा है इस आहते में रोजाना शराबियों की भीड़ देखी जा सकती है रोजाना शराबी पास पास बैठ भीड़ लगाकर आहते में शराब का सेवन करते नजर आते है इस शराबियों ओर दुकानदारों को कोरोना का कोई भी डर न ही दहशत है अवैध रूप से आहता चला रहे दुकानदार को इससे कोई लेना देना नही आप जियो चाहो मरो हमे केवल पैसों से मतलब         

 मण्डला - नैनपुर का कोई वार्ड ओर गाँव नहीं बाकी है जहाँ न चल रहा शराब का अवैध खेल

      जिले में जब से नैनपुर समूह के लायसेंसी ने पैर जमाये हैं तब से नैनपुर, पिण्डरई  के ऐसे कोई गांव ओर वार्ड नहीं बचे जहां इनके द्वारा शराब न पहुंचाई जा रही हो। पैकारों की फौज खड़ी कर इन क्षेत्रों में नशे की खेप भारी मात्रा में पहुंच रही है आबकारी विभाग भी इस समूह के ठेकेदारों पर इतना मेहरबान हैं कि बेखौफ होकर शराब ठेकेदार सुबह से लेकर शाम तक गांव-गांव शराब पहुंचा रहा और इन लोगो के माथे पर किसी भी प्रकार की चिंता की लकीरें दिखाई नही देती है वही आबकारी भी कार्यवाही के नाम पर शून्य सा नजर आ रहा है ऐसा लगता है मानो आबकारी विभाग को भी इन ठेकेदार के द्वारा मोटी रकम देकर कुम्भकर्ण की नींद सुला दिया है

      जबकि शराब बिक्री की स्थिति बिल्कुल विपरीत है। शराब ठेकेदार के द्वारा हर गांवो में वार्डो में मनमाने दामों में शराब के शौंकीनों को शराब पहुंचा कर दे रहे
       जिले भर में अवैध शराब का विक्रय करने वाले नैनपुर समूह के लायसेंसी ठेकेदार का मैनेजर जो अपने गुर्गों के साथ गांव-गांव देशी-विदेशी शराब का विक्रय धड़ल्ले से कर रहे हैं और जिम्मेदार मौन हैं। ऐसा लगता है जैसे नैनपुर समूह के सामने अपना ईमान गिरबी रखते हुये नत मस्तक हो गये हैं। सूत्रों से प्राप्त  जानकारी के अनुसार कि डिठौरी, सुभरिया, सुभरिया सालीवाड़ा कान्हरगाव भेसवाही जैसे अनेक गाँवो में महाराज जैसे और भी सैंकड़ों नाम हैं जहां शराब की सप्लाई हो रही है। जिम्मेदार देख के भी अनदेखी कर रहे हैं। सत्तापक्ष हो या विपक्ष शराब के मामले पर सब चुप्पी साधे हुये हैं जैसे मुंह में जुबान ही नहीं है। वही शराब के नशे से गांव के युवावर्ग अपनी जान को काल के गाल में पहुंचा रहा है। जानकारों ने बताया कि अनेको ऐसे मामले है जहाँ शराब पीने से लोगो की मौत हुई है ओर हो रही है।

आख़िर शराब की अवैध सप्लाई और बेनामी दुकानों पर जिला प्रशासन कब सख्त कार्यवाही करेगा यह विषय विचारणीय है

No comments:

Post a Comment