समीक्षा बैठक में संभागायुक्त ने की मनरेगा, उपार्जन सहित अन्य कार्यों की समीक्षा - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Friday, May 8, 2020

समीक्षा बैठक में संभागायुक्त ने की मनरेगा, उपार्जन सहित अन्य कार्यों की समीक्षा





समीक्षा बैठक में संभागायुक्त ने की मनरेगा, उपार्जन सहित अन्य कार्यों की समीक्षा

                                             जिले को लगातार ग्रीन जोन में बनाए रखना एक बड़ी चुनौती है जिसके लिए समन्वित प्रयासों की आवश्यकता है। जागरूकता ही कोरोना वायरस से बचने का एकमात्र उपाय है। यह बात संभागायुक्त श्री महेश चन्द्र चौधरी ने जिला योजना भवन में आयोजित समीक्षा बैठक में कही। बैठक में संयुक्त आयुक्त अरविन्द यादव, कलेक्टर डॉ. जगदीश चन्द्र जटिया, पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार शुक्ला, सीईओ जिला पंचायत तन्वी हुड्डा, अपर कलेक्टर मीना मसराम सहित सभी विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित रहे।

                                             संभाग आयुक्त श्री चौधरी ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जाये। कोरोना वायरस तेजी से फैलता है। अतः शासकीय कर्मचारी स्वयं भी सुरक्षा के मानकों का पालन करते हुए जनसामान्य को मॉस्क लगाने एवं सामाजिक दूरी का पालन करने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने निर्देशित किया कि स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर एक विस्तृत कार्ययोजना तैयार की जाए जिसमें कोविड-19 के मरीजों के साथ-साथ अन्य मरीजों के उपचार के लिए भी समुचित व्यवस्थाऐं समाहित हों। आमजन को उपचार दिलाना पहली प्राथमिकता है। संभागायुक्त ने जिले में शतप्रतिशत व्यक्तियों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए विशेष अभियान चलाने की बात कही जिसके तहत् आंगनवाड़ी एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के माध्यम से स्वास्थ्य परीक्षण तथा ओआरएस एवं आयुष विभाग द्वारा दी जाने वाली दवाईयों का वितरण कराया जाये। उन्होंने जिला चिकित्सालय एवं विकासखण्ड मुख्यालय स्तर पर सर्दी-खांसी के मरीजों के लिए पृथक से फीवर क्लीनिक स्थापित करने के निर्देश दिए। संभागायुक्त ने सभी अधिकारी कर्मचारियों को मुख्यालय में ही रहने के निर्देश दिए। संभाग आयुक्त ने लोकसेवकों का आव्हान किया कि वे पानी सहित अपनी अन्य जरूरत की चीजें घर से लेकर ही निकलें जो उन्हें कोरोना संक्रमण से बचायेगा। उन्होंने इसे एक परंपरा के रूप में विकसित करते हुए जिले का मॉडल बनाने की बात कही। श्री चौधरी ने निर्देशित किया कि प्रत्येक व्यक्ति तक खाद्यान्न की उपलब्धता सुनिश्चित की जाये। बेघर, बेसहारा लोगों को भी खाद्यान्न दिया जाये। लॉकडाऊन के कारण किसी भी व्यक्ति के समक्ष खाद्यान्न की समस्या नहीं होनी चाहिए। संभाग आयुक्त ने निर्देशित किया कि झोलाछाप डॉक्टरों के विरूद्ध अभियान संचालित करते हुए उनकी डिस्पेंसरी सील की जाये तथा संबंधित के विरूद्ध आपराधिक प्रकरण दर्ज कराया जाये।


बाहर फसे व्यक्तियों को लाना हमारा दायित्व

                                             संभाग आयुक्त श्री महेश चन्द्र चौधरी ने कहा कि प्रदेश के अन्य जिलों में अथवा प्रदेश के बाहर लॉकडाऊन में फसे जिलेवासियों को वापस लाना हमारी जिम्मेदारी है। उन्होंने निर्देशित किया कि औचित्य के आधार पर संबंधितों को ई-पास जारी करें। कंट्रोल रूम पर आने वाले टेलीफोन कॉल पर अच्छा रिस्पोंस देते हुए हरसंभव मदद दी जाये। संभाग आयुक्त ने कहा कि बाहर से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति का सतत् फॉलोअप लिया जाये। होम क्वारेंटाईन का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जाये।

जिले के गेहूं एवं चावल की ब्रांडिंग करें

                                             संभाग आयुक्त श्री महेश चन्द्र चौधरी ने कहा कि मंडला जिले में जैविक गेहूं एवं चावल का उत्पादन होता है जिसकी महानगरों में अच्छी मांग रहती है। अतः स्व-सहायता समूहों के माध्यम से इन उपजों की ब्रांडिंग की जाये। उपार्जन की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि मानक स्तर का गेहूं ही खरीदा जाये। खरीदी के साथ-साथ भंडारण एवं परिवहन की भी समुचित व्यवस्था की जाये। धान एवं गेहूं के भुगतान की समीक्षा करते हुए उन्होंने समयसीमा में भुगतान की कार्यवाही पूर्ण कराने के निर्देश दिए। संभाग आयुक्त ने नरवाई जलाने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

मनरेगा के कार्यों की हुई प्रशंसा

                                             कमिश्नर श्री चौधरी ने मनरेगा के माध्यम से जिले में रोजगार उपलब्ध कराने के लिए किए प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा के कार्य से स्थानीय रोजगार की उपलब्धता सुनिश्चित होगी। जिले में वर्तमान में मनरेगा के अंतर्गत 6 हज…
[2:13 PM, 5/8/2020] RAJA Mandla: अचानक हुई बारिश ने बदला मौसम का मिजाज


मण्डला : बीते कई दिनों से मौसम में बढ़ी उमस व तपिश ने लोगों को हलाकान कर दिया था। आज अचानक हुई झमाझम बारिश ने जहां लोगों को गर्मी से राहत दिलाई वहीं खेती में नमी की कमी को लेकर परेशान किसानों को भी राहत मिली है। हालांकि फसल लगभग कट चुकी है

शुक्रवार को अपरान्ह 1 बजे अचानक मौसम ने पलटी मारी। आसमान में घिरे काले-भूरे बादलों ने यकायक बड़ी बूंदे गिराना प्रारंभ कर दिया। देखते ही देखते झमाझम बारिश होने लगी। लगभग पौन घंटा की बारिश से जहां शहर के मार्ग व गलियां जल से भर गए। कही-कहीं लोगो की असमंजस की स्थिति भी बन गई है।  क्योकि रोडो  के अगल बगल रखे ठेले तेज हवाओं की वजह से सड़कों पे नजर आने लगे है वहीं वार्ड नंबर 10 में तेज हवाओं के कारण लाइट पोल गिर गया  तत्काल सूचना देने पर एमपीबी ने मौके पर पहुंचकर  अपना कार्यभार संभाला इसी तरह शहर के आसपास के गांवों में भी हल्की बारिश का असर देखा गया।

No comments:

Post a Comment