मंडला: लॉक डाउन में क्या करें, क्या न करें- यहाँ जाने - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Wednesday, May 20, 2020

मंडला: लॉक डाउन में क्या करें, क्या न करें- यहाँ जाने

लॉकडाऊन-4 के लिए विस्तृत दिशा-निर्देश जारी
शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक रहेगा पूर्णतः कर्फ्यू


मण्डला  2020
 राष्टीय विपदा कोराना वायरस (कोविड 19) के फैलाव को नियंत्रित करने एवं इससे बचाव की दृष्टि से सम्पूर्ण देश में लॉक डाउन का चतुर्थ चरण घोषित किया गया है तथा गृह मंत्रालय, भारत सरकार एवं म.प्र.शासन, गृह विभाग मंत्रालय द्वारा विस्तृत दिशा निर्देश जारी किये हैं। उक्त आदेश के परिपालन में कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट डॉ. जगदीश चन्द्र जटिया ने जिले में लॉकडाऊन-4 के तहत् अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़कर शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक पूर्णतः लॉकडाऊन (कर्फ्यू) घोषित किया है। इस अवधि में किसी भी व्यक्ति को बाहर निकलने की मनाही रहेगी।

ये क्रियाकलाप एवं गतिविधियाँ रहेगी प्रतिबंधित -

 कलेक्टर द्वारा जारी आदेश के अनुसार जिले में समस्त साप्ताहिक हाट बाजार नहीं लगेंगे।  पब्लिक ट्रांसपोर्ट हेतू बस सेवा बंद रहेगी। व्यक्ति का चिकित्सकीय एवं परिजनों की मृत्य के कारण उत्पन्न आधार के अतिरिक्त अन्तर राज्यीय आवागमन बंद रहेगा। समस्त आंगनवाड़ी, मदरसा एवं शैक्षणिक, प्रशिक्षण एवं कोचिंग संस्थान आदि बंद रहेंगे। समस्त सत्कार संबंधी संस्थान अर्थात होटल, रिसोर्ट, मोटल, धर्मशाला, बारातघर आदि बंद रहेंगे। सभी पान, गुटका, तम्बाकू, सिगरेट, च्यूगम-बबलगम आदि का विक्रय एवं उपयोग प्रतिबंधित रहेगा। दुकान, प्रतिष्ठान पर 5 व्यक्तियों का एकत्रित होना प्रतिबंधित रहेगा तथा ग्राहकों के मध्य 6 फुट की फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन कराने की जवाबदारी संबंधित दुकान, प्रतिष्ठान संचालक की होगी अन्यथा की स्थिति निर्मित होने पर दुकान या प्रतिष्ठान को सील किया जायेगा।
 कलेक्टर द्वारा जारी आदेश के तहत् समस्त सिनेमा हॉल, मल्टी फ्लेक्स  मॉल, शापिंग कॉम्पलेक्स, जिम्नेशियम, स्पोर्टस कॉम्पलेक्स, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थियेटर, बार, ऑडिटोरियम, असेम्बली हॉल और समरूप स्थान बंद रहेंगे। समस्त सार्वजनिक, राजनीतिक, क्रीड़ा, मनोरंजन, सांस्कृतिक, शैक्षिक, धार्मिक समारोह या अन्य समारोहों का आयोजन नहीं होगा। समस्त धर्म स्थल, पूजा स्थल जनता के लिए बंद रहेंगे। हर प्रकार की धार्मिक मंडली, समूह संयोजन, जमाव की सख्त मनाही रहेगी। कहीं भी 5 या उससे अधिक लोगों का जमाव, जुड़ाव, समूह एकत्र नहीं होगा। अंत्येष्टि क्रिया में 20 से अधिक लोगों का जुड़ाव, जमाव या एकत्रीकरण नहीं होगा।
विवाह कार्य के लिए दोनों पक्षों के मिलाकर कुल 50 से अधिक लोगों की उपस्थिति की प्रतिबंधित रहेगी। जिले के भीतर होने वाले विवाह की सूचना स्थानीय थाने में देना पर्याप्त होगा। जिले से बाहर जाने के लिए क्षेत्रीय अनुविभागीय दण्डाधिकारी द्वारा अनुमति दी जा सकेगी। रूग्ण एवं 65 वर्ष की उम्र के व्यक्ति, गर्भवती महिलाएँ 10 वर्ष की उम्र तक के बच्चे, चिकित्सकीय आधार पर होम क्वारंटाइन किये गये व्यक्ति अपने-अपने घरों में ही रहेंगे। कंटेनमेंट जोन में आवश्यक सेवाओं को छोड़कर अन्य किसी भी प्रकार का आवागमन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। बैगा-बैगी चौक से लेकर उदय चौक बस स्टेण्ड चौराहा से लेकर बड चौक, चिलमन चौक से वाटर फिल्टर प्लांट तक सभी चौराहों और मार्ग पर सब्जी, फल के स्थायी ठेले नहीं लगेंगे बल्कि यहां से बिना रुके अपने-अपने आबंटित वार्डों में फेरी लगाने चले जाएंगे।

सायं 7 बजे से सुबह 7 तक रहेगा कर्फ्यू

 जिला मजिस्ट्रेट द्वारा जारी आदेश के अनुसार शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक पूर्णतः लॉकडाऊन (कर्फ्यू) रहेगा। इस अवधि में किसी भी व्यक्ति को बाहर निकलने की मनाही रहेगी। गुमाश्ता एक्ट के अन्तर्गत निर्धारित किये गये साप्ताहिक अवकाश का पालन करना होगा अर्थात् उस दिन प्रतिष्ठान बंद रहेंगे।

इन गतिविधियों की रहेगी अनुमति -

 जारी आदेश के तहत् प्रतिदिन प्रातः 07.30 बजे से सायं 6.30 बजे तक समस्त व्यावसायिक प्रतिष्ठान (पान, गुटका एवं तंबाखू उत्पाद, फुटकर सब्जी-फल की दुकानें, आउटलेट को छोड़कर) खुले रहेंगे। सभी फुटकर फल, सब्जी विक्रेता ठेले पर केवल फेरी लगाकर फल, सब्जी का विक्रय, वर्तमान में जारी व्यवस्थानुसार कर सकेंगे। समस्त शासकीय, अशासकीय निर्माण कार्य, योजनाएँ, परियोजनाओं की गतिविधियाँ, समस्त गैस एजेंसियाँ खुली रहेंगे तथा उपभोक्ताओं को पूर्व की भांति प्राथमिकता के साथ घर पहुँच सेवा को जारी रखेंगी,  सभी कृषि उपज मंडिया खुली रहेगी, कृषि एवं पशुपालन संबंधि समस्त गतिविधियाँ चालू रहेगी, समस्त औद्योगिक तथा निर्माण इकाईयाँ खुली रहेगी, रोजगारमूलक समस्त गतिविधियाँ चालू रहेगी, समस्त पेट्रोल-डिजल पंप खुले रहेंगे। गैस, पैट्रोल, केरोसिन का परिवहन, भंडारण, वितरण प्रतिबंध से मुक्त रहेगा। समस्त डॉक सेवाएँ, दूरसंचार, इंटरनेट, कोरियर सेवाएं प्रतिबंध से मुक्त रहेगी, चाय के वे ठेले जिनके संचालक द्वारा कागज के डिस्पोजल में चाय सर्व की जाएगी अपना ठेला लगा सकेंगे किन्तु होटलें प्रतिबंधित रहेगी। नगरीय निकायों की सीमा से बाहर ऑटो रिक्शा को चालक के अलावा 2 सवारी बैठाकर संचालन की अनुमति होगी। रेस्टोरेंट भोजन पैक्ड कर केवल ’होम डिलीवरी या टेक अवे’ सेवा प्रदान कर सकेंगे। समस्त शासकीय, अशासकीय कार्यालय निर्धारित समयावधि में खुले रहेंगे।

ये गतिविधियाँ रहेगी प्रतिबंध से मुक्त -

 समस्त चिकित्सालय, क्लीनिक, नर्सिम होम, टेलीमेडिसीन सेंटर, डिस्पेंसरी, पैथालॉजी, समस्त प्रकार की दवा एवं वेक्सीन प्रदाय की दुकाने, जन औषधी केन्द्र, मेडिकल कलेक्शन सेंटर, पशु चिकित्सालय, क्लीनिक, चिकित्सा आधार संरचनाओं का निर्माण, चिकित्सक, चिकित्सा वैज्ञानिक, नर्सेस, पैरामेडिकल स्टॉफ, लेब टेक्निशियन, अन्य अस्पताल समर्थित सेवादाता आदि जिसमें पशुचिकित्सा से संबंधित अमला भी शामिल है, का अंतरजिला एवं अन्तर राज्यीय आवागमन प्रतिबंध से मुक्त रहेगा। समस्त प्रकार के माल परिवहन की सेवाएँ प्रतिबंध से मुक्त रहेगी। मजदूरों के परिवहन एवं फैक्ट्री संचालन के लिए उनके मजदूरों के आवागमन वाली बसें प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे।

इन नियमों का पालन करना होगा जरूरी -

 कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट ने निर्देशित किया है कि सभी सार्वजनिक स्थानों पर प्रत्येक व्यक्ति को अपना चेहरा मास्क अथवा गमछे से ढंकना अनिवार्य होगा। सभी दुकानदारों को यह हिदायत दी है कि जो ग्राहक बिना मास्क, गमछा लगाये हुए दुकान पर आता है, ऐसे किसी व्यक्ति सामान का विक्रय ना करें। सार्वजनिक स्थानों पर थकना दण्डनीय अपराध होकर 1000 रूपये के अर्थदण्ड एव 6 माह तक की सजा आरोपित की जायेगी।  सार्वजनिक स्थानों पर शराब, पान, गटका, तंबाखू एवं उसके उत्पाद का उपयोग अनुज्ञेय नहीं होगा। समस्त प्रतिष्ठानों के मालिकों, संचालकों को स्वयं एवं अपने ग्राहकों के मध्य एक-दूसरे से कम से कम 6 फिट की दूरी बनाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना अनिवार्य होगा। समस्त कार्यस्थलों को नियमित रूप से सेनेटाइजेशन किया जाना अनिवार्य होगा। केवल आपातकालीन सेवाओं के लिए निजी वाहन को परिचालन की अनुमति रहेगी। जिले के समस्त व्यक्तियों को ’आरोग्यसेत् एप’ का अपने मोबाइल फोन में उपयोग करना अनिवार्य होगा। जिन व्यक्तियों को कोविड-19 के कारण होम क्वारंटाइन किया गया हैं वे निर्धारित समयावधि से पूर्व घर से बाहर नहीं निकलेंगे अन्यथा की दशा में उनके विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 188 एव डिजास्टर मेनेजमेंट एक्ट 2005 की विभिन्न धाराओं में कार्रवाई की जाएगी।
 कलेक्टर ने निर्देशित किया है कि समस्त दुकानदारों, आउटलेट संचालकों, फुटकर विक्रेताओं को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न केवल स्वयं को करना होगा बल्कि उनके ग्राहक भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन उनकी दुकान, आउटलेट, उपक्रम के समक्ष सुनिश्चित करेंगे साथ ही समस्त दुकानदार एवं ग्राहक मॉस्क अथवा गमछे का उपयोग कर अपने चेहरे पर मुहं और नाक को अनिवार्यतः ढकेंगे।
 इस आदेश तथा भारत सरकार एवं मध्यप्रदेश शासन द्वारा समय-समय पर जारी लॉकडाउन के नियमों एवं निर्देशों का सख्ती से पालन करने की हिदायत समस्त छूट प्राप्तकर्ताओं को दी गई है। उल्लंघन की दशा में संबंधितों के विरूद्ध नियमानुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी।

No comments:

Post a Comment